Top

भाजपा से रहें सतर्क, चुनाव में करती है धांधली: अखिलेश

भाजपा से रहें सतर्क, चुनाव में करती है धांधली: अखिलेश

बुनकरों को जानबूझकर कर रही परेशान
एक यूनिट भी नहीं बढ़ा बिजली का उत्पादन

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा जानबूझकर बुनकरों को परेशान कर रही है। उसे उनकी तरक्की और खुशहाली नापसंद है। भाजपा सरकार ने समाजवादी सरकार के समय की बुनकरों की 2006 की विद्युत फ्लैट रेट योजना को समाप्त कर उनकी रोजी-रोटी पर वार किया है। लोकभवन में बैठकर सरकार को कमजोर समाज के लोगों पर अन्याय नहीं करना चाहिए। समाजवादी सरकार बनने पर बुनकरों पर अन्याय नहीं होने देंगे। उनको ज्यादा से ज्यादा सहूलियतें दी जाएंगी।
उन्होंने कहा कि कोरोना संकट और लॉकडाउन से सबसे ज्यादा आर्थिक संकट में बुनकर हैं। उन्हें बिजली की पुरानी सुविधा मिलनी चाहिए। समाजवादी सरकार में वाराणसी में 24 घंटे बिजली दी जा रही थी यद्यपि यूपी का बिजली कोटा केन्द्र ने नहीं बढ़ाया था। भाजपा राज में एक यूनिट बिजली का उत्पादन नहीं हुआ। सपा सरकार में भदोही में एक्सपो-मार्ट बनाया गया था, कारपेट बाजार बनाया था और भदोही तक चार-लेन सडक़ बनवाई थी ताकि बुनकर भाइयों को अपना उत्पाद बाहर भेजने में दिक्कत न हो। बुनकर समाज के प्रति भाजपा सरकार भेदभाव, अन्याय और राजनीतिक उपेक्षा प्रदर्शित कर रही हैं। वह चालाकी की राजनीति करती है। उन्होंने कहा कि बुनकर और सपा के रिश्ते अटूट हैं। बुनकर समाज को आज जो तकलीफें उठानी पड़ रही हैं, समाजवादी सरकार बनने पर उन्हें दूर करने में पीछे नहीं रहेंगे। उन्होंने कहा कि भाजपा से सभी लोग सतर्क रहें। वह चुनाव निष्पक्षता से नहीं होने देना चाहती है। वह चुनाव में धांधली को अपना हथियार बनाती हैं। इसलिए 2022 के चुनावों में सावधानी से वोट डालना होगा। सपा की जीत लोकतंत्र की सुरक्षा के लिए आवश्यक है।

बुनकर सभा के प्रतिनिधिमंडल ने सपा प्रमुख से की मुलाकात

सपा प्रमुख अखिलेश यादव से मंगलवार को पार्टी मुख्यालय में मेरठ विधायक रफीक अंसारी के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश बुनकर सभा के अध्यक्ष हाजी इफ्तेखार अहमद अंसारी और मीडिया प्रभारी नसीम अंसारी के साथ आए सैकड़ों बुनकर भाइयों ने मुलाकात की और अपना ज्ञापन सौंपा। बुनकर प्रतिनिधियों ने उम्मीद जताई कि उनकी जरूरतें समाजवादी सरकार ही पूरा करेगी। दलितों, वंचितों और समाज के कमजोर वर्गों के प्रति समाजवादी पार्टी की हमदर्दी है। उत्तर प्रदेश में बुनकर एकजुट होकर समाजवादी सरकार बनाएंगे।

जल्द खुलेंगे विश्वविद्यालय और कॉलेज करना होगा कोरोना गाइडलाइंस का पालन

23 नवंबर से शुरू होंगी कक्षाएं, सरकार ने जारी किए दिशा-निर्देश

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। प्रदेश में करीब 8 महीनों से बंद विश्वविद्यालय और कॉलेजों को खोला जाएगा। 23 नवंबर से प्रदेश भर के विश्वविद्यालय और कॉलेज खुल जाएंगे। इन विश्वविद्यालय और कॉलेजों में 50 फीसदी स्टूडेंट्स की ही उपस्थिति होगी। इस संबंध में राज्य सरकार की ओर से दिशा निर्देश जारी किए गए हैं। केवल वही शैक्षणिक संस्थान खुलेंगे, जो कन्टेनमेंट जोन के बाहर होंगे।
उच्च शिक्षा विभाग की ओर से सभी जिला मजिस्ट्रेट और विश्वविद्यालयों के रजिस्ट्रार को आदेश भेजकर कहा गया है कि कक्षाएं फिर से शुरू की जाएं. साथ ही कहा गया है कि कक्षाएं ऐसे चलाईं जाएं कि कैंपस में छात्रों की भीड़ न इकट्ठी हो। छात्रों को मास्क पहनना अनिवार्य होगा। कैंपस और कक्षाओं में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा। स्टूडेंटस को हैंड सेनेटाइजर भी रखना होगा। अनिवार्य रूप से थर्मल स्कैनिंग होगी।

https://www.youtube.com/watch?v=-t0AZCpwBe4

Next Story
Share it