Top

बिजली विभाग की टीम पर हमला एसडीओ समेत कई कर्मी घायल

बिजली विभाग की टीम पर हमला एसडीओ समेत कई कर्मी घायल

थाने पर दी गई तहरीर लाइस लास रोकने के लिए गांव पहुंची थी टीम

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
मेरठ। खरखौदा में आज तडक़े लाइन लास रोकने के लिए एक गांव में पहुंची बिजली विभाग की टीम के साथ गुस्साए लोगों ने मारपीट की। इस दौरान कई कर्मचारी घायल हो गए। ऊर्जा विभाग के अफसरों ने थाने पहुंचकर मारपीट करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। एसडीओ महावीर सिंह ने थाने पर तहरीर दी है। ग्राम प्रधान के दो भाई और बहनोई पर मारपीट का आरोप लगाया गया है।
प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा और पीवीवीएनएल के एमडी के आदेश पर पूरे जिले में लाइन लास रोकने का अभियान बड़े पैमाने पर चलाया जा रहा है। इसी क्रम में आज सुबह अधिशासी अभियंता प्रथम नीरज सक्सेना के नेतृत्व में ऊर्जा निगम की टीम एसडीओ महावीर सिंह समेत अन्य अधिकारियों और कर्मचारियों के साथ अलीपुर गांव में पहुंची। गांव के लोगों ने टीम पर हमला कर दिया। मारपीट और पथराव किया, जिसमें एसडीओ महावीर सिंह के कपड़े फट गए और वह घायल हो गए। उनके साथ संविदा कर्मी राजकुमार समेत कई अन्य कर्मी भी घायल हुए हैं। घटना के बाद ऊर्जा निगम के अधिशासी अभियंता नीरज सक्सेना के नेतृत्व में लोग थाने पहुंचे और आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है। प्रभारी निरीक्षक अरविंद मोहन शर्मा का कहना है कि मामले में जल्द रिपोर्ट दर्ज कर आरोपियों को गिरफ्तार किया जाएगा। आरोपियों की तलाश में दबिश दी जा रही हैं और इनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी।

अंतरराज्यीय तार चोर गिरोह के तीन सदस्य गिरफ्तार

कर्मचारियों की पोशाक पहनकर चुरा ले गए थे लाखों के तार

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
कानपुर। नमामि गंगे प्रोजेक्ट में लगे कर्मचारियों वाली पोशाक पहनकर लाखों के अंडरग्राउंड केबिल चोरी करने वाले अंतरराज्यीय गिरोह के तीन सदस्यों को गंगा बैराज मार्ग पर जागेश्वर मंदिर तिराहे पर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। इनसे 20 लाख रुपये कीमत के केबिल, तार खींचने व काटने के लिए हाइड्रा क्रेन और उसे ले जाने के लिए प्रयुक्तडीसीएम भी बरामद की है। गिरोह के आठ सदस्यों को दिल्ली पुलिस पहले ही जेल भेज चुकी है।
14 सितंबर की रात हर्षनगर के पास हाइड्रा क्रेन की मदद से गिरोह ने बीएसएनएल का 60 लाख रुपये कीमत का 1400 मीटर केबिल चोरी कर लिया था। इससे कई इलाकों की टेलीफोन सेवा ठप हो गई थी। आरोपियों ने डीसीएम में तार लादकर दिल्ली के सीलमपुर इंडस्ट्रियल एरिया में ले जाकर बेचा था। बीएसएनएल के अधिकारियों ने कर्नलगंज थाने में मुकदमा दर्ज कराया। पुलिस ने सीसीटीवी कैमरों की फुटेज देखी तो पता लगा कि चोरों ने नमामि गंगे प्रोजेक्ट में लगे कर्मचारियों की तरह पोशाक पहन रखी थी। पिछले दिनों दिल्ली के जनकपुरी थाना पुलिस ने गिरोह के आठ सदस्यों मोशिर सिद्दीकी, अजहरुद्दीन, परवेज, शाकिब, लड्डू, मंजूर आलम, शाहिद, मो. यूसुफ को पुलिस ने पकड़ा। इसके बाद तीन चोर सीलमपुर दिल्ली निवासी मुजम्मिल, यूसुफ और हाइड्रा का मालिक अकबरपुर (कानपुर देहात) के रनिया निवासी अनूप गुप्ता पकड़े गए।

https://www.youtube.com/watch?v=6rSuNFxLumI

Next Story
Share it