Top

बागपत में लोहा व्यापारी के अपहरण से हडक़ंप बदमाशों ने मांगी एक करोड़ की फिरौती

बागपत में लोहा व्यापारी के अपहरण से हडक़ंप बदमाशों ने मांगी एक करोड़ की फिरौती

  • अपनी दुकान पर सामान उतरवाने घर से निकले थे आदेश जैन
  • सीएम योगी ने लिया मामले का संज्ञान यूपीएसटीएफ भी सक्रिय

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
बागपत। प्रदेश में अपराधियों के हौसले बढ़ते ही जा रहे हैं। बदमाशों ने आज तडक़े एक लोहा व्यापारी आदेश जैन को अगवा कर लिया और परिजनों से एक करोड़ की फिरौती मांगी। अपहरण की सूचना से पुलिस-प्रशासन के हाथ-पांव फूल गए। क्षेत्र में हडक़ंप मच गया। एएसपी मनीष कुमार मिश्र और एसपी अभिषेक सिंह व्यापारी के घर पहुंचे और स्वजनों से घटना की जानकारी ली। आईजी मेरठ रेंज प्रवीण कुमार घटनास्थल पर पहुंचे और पीडि़त परिजनों से पूछताछ की। वहीं सीएम योगी आदित्यनाथ के संज्ञान लेने के बाद डीजीपी कार्यालय व यूपी एसटीएफ भी सक्रिय हो गई है।
बड़ौत में व्यापारी आदेश जैन सुबह चार बजे खत्री गढ़ी में अपने घर से भगवान महावीर मार्ग स्थित अपनी दुकान पर गाड़ी से सामान उतरवाने जा रहे थे। उसके काफी देर बाद जब वह वापस नहीं लौटे तो एक स्वजन के पास फोन आया और व्यापारी को छोडऩे की एवज में एक करोड़ फिरौती देने की बात कही, जिसके बाद स्वजनों में हडक़ंप मच गया। उन्होंने इस घटना की जानकारी पुलिस को दी। कोतवाली प्रभारी अजय कुमार शर्मा भारी पुलिस बल के साथ आनन-फानन में व्यापारी के घर पहुंचे और बातचीत की। हालांकि व्यापारी के स्वजन खुलकर कुछ भी बताने को तैयार नहीं है कि किसके पास फोन आया था और किस बदमाश ने फोन किया है। बहरहाल, पुलिस घटना की जांच में जुट गई है। वहीं अपहरण कांड में यूपी एसटीएफ को भी लगाया गया। यूपी एसटीएफ की मेरठ यूनिट मौके पर जांच में जुटी है। एडिशनल एसपी बृजेश सिंह व यूपी एसटीएफ की टीम घटनास्थल पहुंची। वहीं डीजीपी मुख्यालय भी इस पर नजर रखे हुए है।

काकोरी में महिला का शव मिलने से सनसनी

लखनऊ। काकोरी थाना क्षेत्र में एक महिला का खून से लथपथ शव सडक़ किनारे मिलने से सनसनी मच गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। डॉग स्क्वायड व फोरेंसिक टीम ने घटनास्थल का मुआयना किया। महिला के गले पर धारदार हथियार से वार के निशान थे। फिलहाल महिला की शिनाख्त नहीं हो पाई है। पुलिस पूरे मामले की तफ्तीश में जुटी है। डीसीपी साउथ रईस अख्तर ने बताया कि महिला की पहचान कराने की कोशिश की जा रही है। आशंका जताई जा रही है कि महिला की हत्या करके शव को यहां पर फेंका गया है।

बहराइच में अधेड़ को मारी गोली

बहराइच। बौंडी थाना क्षेत्र के भदवनी गांव में आज सुबह शौच करने गए अधेड़ को दबंगों ने गन्ने के खेत में घसीटकर गोली मार दी। फायरिंग की आवाज सुनकर गांव के लोग दौड़े। खून से लथपथ अधेड़ को राजकीय मेडिकल कॉलेज बहराइच में भर्ती कराया गया है। हालत गंभीर बनी हुई है। पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है। बौंडी थाना क्षेत्र के भदवानी निवासी 55 वर्षीय रामनरेश सिंह सुबह खेत गए हुए थे। लगभग आठ बजे पहले से घात लगाए बैठे दबंगों ने उन्हें गन्ने के खेत में खींच ले गए, जहां उन्हें तीन गोलियां मारी गई। घायल रामनरेश को सीधे मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया। हालत बेहद नाजुक बनी है। मौके से पुलिस ने खोखे बरामद किए है। हत्यारोपी फरार हो गए हैं, उनकी अभी तक पहचान नहीं हो पाई है। थानाध्यक्ष प्रेम प्रकाश पांडे का कहना है कि घायल के होश आने पर ही आरोपियों की पहचान हो सकेगी।

बागपत में आज लोहा व्यापारी का अपहरण हो गया। यूपी में महिलाएं, व्यापारी और बच्चे सुरक्षित नहीं हैं। सरकार के लोग चुनावी सभाओं में जाकर कोरी भाषणबाजी करते हैं। जनता में भय व्याप्त है।
प्रियंका गांधी, कांग्रेस महासचिव

कोयला घोटाले में पूर्व केंद्रीय मंत्री दिलीप रे सहित तीन को सजा

  • सीबीआई कोर्ट ने सुनाया फैसला पिछली सुनवाई में करार दिए गए थे दोषी

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
नई दिल्ली। कोयला घोटाले में दोषी करार दिए जा चुके पूर्व केंद्रीय मंत्री दिलीप रे समेत तीन दोषियों को सीबीआई कोर्ट ने तीन साल की सजा सुनाई है। पिछली सुनवाई के दौरान सभी आरोपियों को दोषी करार दिया गया था लेकिन सजा पर फैसला आज सुनाया गया है। पिछली सुनवाई के दौरान कोर्ट ने सभी दोषियों को व्यक्तिगत तौर पर अदालत में हाजिर होने का निर्देश दिया था।
पूर्व केंद्रीय मंत्री दिलीप रे पर साल 1999 में झारखंड के गिरिडीह स्थित ब्रह्मडिहा कोयला खदान आवंटन में भ्रष्टाचार करने का आरोप लगा था। इस मामले में दिलीप रे समेत तीन दोषियों पर आरोप साबित हुए हैं। 6 अक्टूबर को सीबीआई की विशेष अदालत ने सभी आरोपियों को दोषी माना था और सजा का फैसला अगली सुनवाई तक के लिए टाल दिया था। सीबीआई की तरफ से अभियुक्तों को आजीवन कारावास की सजा सुनाने की मांग की गई थी जबकि अभियुक्त के वकील ने पहले से कोई आपराधिक रिकॉर्ड न होने का हवाला देते हुए सजा में नरमी बरतने का निवेदन किया था। इस मामले में झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा दोषी साबित हो चुके हैं। उन्हें तीन साल की जेल के साथ 25 लाख का जुर्माना लगाया गया था। उसी तरह पूर्व खदान सचिव एचसी.गुप्ता को भी तीन साल की जेल एवं एक लाख रुपये का जुर्माना हुआ था।

महबूबा के बयान पर भडक़े भाजपाई पीडीपी दफ्तर पर फहराया तिरंगा

  • प्रदेशभर में किया प्रदर्शन, कई लिए गए हिरासत में

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती के तिरंगा विरोधी बयान पर भाजपा कार्यकर्ता भडक़ गए हैं। कार्यकर्ताओं ने प्रदेश में कई जगहों पर प्रदर्शन किया। राजधानी श्रीनगर में भाजपा कार्यकर्ता लाल चौक के क्लॉक टॉवर पर तिरंगा फहराने के लिए आगे बढ़ रहे थे। इस दौरान वहां मौजूद सुरक्षाकर्मियों ने तीन भाजपा कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया।
हिरासत में लिए गए कार्यकर्ताओं ने बताया कि वे लोग कश्मीर के भारत में विलय की तारीख पर जश्न मनाने के लिए आए थे। उन्होंने यह भी कहा कि वे गुपकार घोषणा के सदस्यों को यह संदेश देना चाहते हैं कि कश्मीर में सिर्फ तिरंगा फहरेगा। वहीं जम्मू में पीडीपी के खिलाफ प्रदर्शन में भाजपा कार्यकर्ता काफी संख्या में तिरंगा लेकर पहुंचे थे। महबूबा मुफ्ती के बयान पर उग्र भाजपा कार्यकर्ताओं ने जम्मू में आज पीडीपी के कार्यालय पर तिरंगा फहराकर अपना विरोध जताया। काफी संख्या में भाजपा कार्यकर्ता पार्टी कार्यालय पहुंचे थे। उन्होंने वहां जमकर नारेबाजी की। बता दें कि महबूबा ने बीते दिनों कहा था कि जब तक प्रदेश में आर्टिकल 370 के निरस्त प्रावधानों को फिर से लागू नहीं किया जाएगा तब तक वह तिरंगा नहीं थामेंगी। वहीं, श्रीनगर में भी इसे लेकर बवाल मचा हुआ है। लाल चौक पर झंडा फहराने आए भाजपा कार्यकर्ताओं को सुरक्षाबलों ने हिरासत में ले लिया है।

https://www.youtube.com/watch?v=r1oJbXq2ihc

Next Story
Share it