Top

बदमाशों ने बंधक बनाकर दो भाइयों को मारी गोली, हालत गंभीर

बदमाशों ने बंधक बनाकर दो भाइयों को मारी गोली, हालत गंभीर

हमलावरों की तलाश में जुटी पुलिस

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
प्रयागराज। कौशांबी जनपद में बदमाशों ने दो भाइयों को शुक्रवार की रात गोली मारी। दोनों को पुलिस ने जिला अस्पताल भेजा। वहां हालत गंभीर देख चिकित्सक ने प्रयागराज के एसआरएन अस्पताल रेफर कर दिया। पुलिस हत्या की कोशिश करने वालों की तलाश कर रही है। फिलहाल अभी वे पकड़ में नहीं आए हैं।
मंझनपुर कोतवाली क्षेत्र के सईबाद नारा गांव निवासी सईदाबाद निवासी मुस्लिम पुत्र मोहम्मद हनीफ अपने भाई पप्पू के साथ शुक्रवार की रात घर के बाहर सो रहा था। बताते हैं कि देर रात दर्जन भर सशस्त्र बदमाश दोनों भाइयों के पास पहुंचे और बंधक बनाकर गांव के बाहर ले गए। वहां मुस्लिम और पप्पू को मारने-पीटने लगे। पिटाई से दोनों भाई चीखने और चिल्लाने लगे। इस पर बदमाशों ने तमंचे से गोली मार दी। गोली मुस्लिम के हाथ और पप्पू के पेट में लगी। फायरिंग की आवाज सुनकर गांव के लोगों की नींद टूटी। ग्रामीण जुटे और ललकारते हुए घटनास्थल पर पहुंचे। हालांकि तब तक बदमाश फायरिंग करते हुए भाग निकले। ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस पहुंची। लोगों की मदद से लहूलुहान हाल में मुस्लिम और पप्पू को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहां हालत गंभीर होने पर दोनों को प्रयागराज के अस्पताल के लिए रेफर किया गया। हालांकि घर के लोग यह नहीं बता पाए कि गोली दोनों भाइयों को किसने और क्यों मारी है।

बहन और दो सगे भाइयों ने लगाई फांसी

घटना के कारण का नहीं चला पता, पुलिस कर रही जांच

.4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखीमपुर। शहर में शुक्रवार की रात एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई। शहर के मोहल्ला शांति नगर में दो सगे भाइयों और उनकी बहन ने घर में ही फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। घटना के कारणों का अभी पता नहीं चल सका है। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर छानबीन शुरू कर दी है। इस घटना से पूरे मुहल्ले में सनसनी फैल गई है।
शांतिनगर निवासी आदित्येश्वर अवस्थी के पुत्र गगन (37), पवन (35) व पुत्री प्रीती (32) ने शुक्रवार देर शाम घर में ही फांसी लगा ली। इसमें पवन और प्रीति का शव आंगन में पड़े जाल से और गगन का शव पंखे से लटकता मिला। इन तीनों के पिता आदित्येश्वर रिटायर्ड कृषि विभाग कर्मी हैं। रात 9 बजे वह घर आए तो घटना की जानकारी हुई। सूचना पाकर सीओ सिटी विजय आनंद समेत कोतवाली पुलिस बल मौके पर पहुंची और छानबीन शुरू कर दी। आदित्येश्वर की पत्नी मालती का अभी कुछ दिन पहले ही देहांत हुआ था। अब उनके बच्चों ने आत्महत्या क्यों कर ली, इसका पता अभी नहीं चल पाया है। सीओ सिटी ने बताया की मामले की जांच की जा रही है। जल्द ही सच्चाई का पता लगाया जाएगा। तीनों अविवाहित थे और घर पर ही रहते थे।

https://www.youtube.com/watch?v=6RaO4fDfh4I

Next Story
Share it