Top

प्रतापगढ़: भाई समेत कार्यवाहक प्रधान को मारी गोली, सनसनी

प्रतापगढ़: भाई समेत कार्यवाहक प्रधान को मारी गोली, सनसनी

दोनों की हालत गंभीर वारदात से गांव में दहशत

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। प्रयागराज मंडल के प्रतापगढ़ जनपद में कंधई थाना क्षेत्र के पूरेदेवजानी गांव में आज सुबह कार्यवाहक प्रधान आशीष तिवारी (28) व उनके भाई को बदमाशों ने गोली मार दी। घर की चहारदीवारी के अंदर बैठे प्रधान समेत दो लोगों को गोली मारे जाने की घटना से गांव में खलबली मच गई। फायरिंग की आवाज सुनकर आसपास के लोग पहुंचे तो आशीष और उनके भाई खून से लथपथ थे। आनन-फानन में उन्हें अस्पताल ले जाया गया। सूचना पर एसपी समेत अन्य आलाधिकारी पहुंच गए। पुलिस बदमाशों की तलाश में लगी है।
कंधई थाना क्षेत्र के पूरेदेवजानी गांव निवासी आशीष तिवारी (28) आज सुबह सोकर उठने के बाद सगे भाई वशिष्ठ तिवारी (30) पुत्र स्वामीनाथ तिवारी के साथ घर के सामने स्थित अपने बाउंड्री के अंदर बैठे हुए थे। इस दौरान एक बाइक पर सवार दो नकाबपोश बदमाश आए। बदामश बाउंड्री के गेट से अंदर घुस कर फायर करने लगे। इस दौरान हमलावरों ने आशीष तिवारी व वशिष्ठ तिवारी को निशाना बनाकर गोली मारी जिसमें आशीष तिवारी को कनपटी पर व वशिष्ठ तिवारी को पेट में गोली लगी है। दोनों को गोली मारने के बाद हमलावर ने घर के अंदर घुसने का प्रयास किया लेकिन महिलाओं के शोर मचा देने पर गांव के लोग जुटने लगे तो हमलावर बाइक से ही भाग निकले। घटना से गांव में खलबली मच गई है। इधर घायल को लेकर स्वजन तुरंत जिला अस्पताल की ओर निकल गए। सूचना कंधई थाना को दी गई तो वहां से पुलिस फोर्स मौके के लिए रवाना हुई है। सूचना पर एसपी समेत अन्य आलाधिकारी मौके पर पहुंच गए। पूरे देवजानी के निर्वाचित प्रधान जुनैद अहमद के जेल जाने के बाद डीएम के आदेश पर दो सप्ताह पूर्व आशीष तिवारी को गांव का कार्यवाहक प्रधान नियुक्त किया गया था।

पहले पिता फिर बेटे ने खाया जहरीला पदार्थ, मौत

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
गोरखपुर। रामगढ़ताल क्षेत्र के भरवलिया, टोला रानी बाग निवासी रामहरख निषाद और उनके 14 वर्षीय बेटे की गुरुवार को जहरीला पदार्थ खाने से मौत हो गई। रामहरख ने पहले जहरीला पदार्थ खाया था। इसकी जानकारी होने पर इकलौते बेटे ने भी पिता के पास मौजूद जहरीला पदार्थ खा लिया। परिवार के लोग उपचार के लिए उन्हें ले गए थे लेकिन रामहरख ने जिला अस्पताल में और रवि ने मेडिकल कालेज ले जाते समय दम तोड़ दिया। परिजन दोनों शवों को लेकर घर चले गए थे और अंत्येष्टि की तैयारी कर रहे थे। रात में इसकी सूचना मिलने पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे लिया।
रामहरख मजदूरी कर परिवार का भरण-पोषण करते थे। पत्नी सुनीता और बेटी रूबी, लोगों के घरों में चौका-बर्तन करती हैं। गुरुवार को वह काम पर नहीं गए थे और घर पर थे। दिन में तीन बजे के बाद वह कहीं से घूम कर आए और जहरीला पदार्थ खा लिया और कमरे में जाकर सो गए। कुछ देर बाद उनकी तबीयत बिगडऩे लगी। इसी बीच इकलौता बेटा रवि कमरे में गया तो पिता की हालत देखकर सकते में आ गया। उसके पूछने पर रामहरख ने जहरीला पदार्थ खा लेने की जानकारी दी जो जहरीला पदार्थ उन्होंने खाया था, उसका कुछ हिस्सा उनके पास ही पड़ा था। वही जहरीला पदार्थ रवि ने भी उठाकर खा लिया। परिवार के लोगों की इसकी जानकारी कुछ देर बाद हुई। तब तक पिता-पुत्र की हालत काफी बिगड़ चुकी थी। पड़ोसियों की मदद से परिजन दोनों को जिला अस्पताल ले गए। जहां डाक्टरों ने रामहरख को मृत घोषित कर दिया और रवि को मेडिकल कालेज ले जाने की सलाह दी। मेडिकल कालेज जाते समय रवि की भी मौत हो गई। जहरीला पदार्थ खाने की वजह नहीं पता चली है।

https://www.youtube.com/watch?v=yaOGQH3CXqU

Next Story
Share it