Top

दुष्कर्म पीडि़ताओं के लिए न्याय युद्ध छेड़ेगी सपा: अखिलेश

दुष्कर्म पीडि़ताओं के लिए न्याय युद्ध छेड़ेगी सपा: अखिलेश

  • सुप्रीम कोर्ट के वर्तमान जज से हाथरस कांड की कराई जाए जांच
  • भाजपा सरकार ने उत्तर प्रदेश को बना दिया रेप स्टेट

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा कि हाथरस की मृत बेटी सहित दुष्कर्म की शिकार सभी बेटियों-बहनों को न्याय दिलाने के लिए समाजवादी पार्टी ‘न्याय युद्ध‘ छेडऩे के लिए प्रतिबद्ध है। देश के सभी परिवार वालों को अपनी बहन-बेटियों की रक्षा के लिए एक साथ आना होगा तभी सत्ता की अहंकारी नींद टूटेगी। बलात्कार के हर मामले में चाहे वह हाथरस हो, बलरामपुर हो या अन्यत्र सरकार को धर्म, जाति, वर्ग वोट व प्रभाव की पक्षपाती राजनीति छोड़ महिला सुरक्षा का संकल्प लेना होगा।
उन्होंने कहा कि हाथरस दुष्कर्म कांड का सच उजागर हो उसके लिए जहां इसकी जांच सर्वोच्च न्यायालय के वर्तमान जज से हो, वहीं इससे संबंधित अधिकारियों का नार्को टेस्ट भी होना चाहिए। साथ ही जांच की निष्पक्षता के लिए प्रभावित करने वाले डीएम को भी वहां से हटाना चाहिए। वैसे भाजपा की राज्य सरकार से तो जनता का विश्वास ऐसे टूटा है कि लखनऊ में दुष्कर्म की शिकार पीडि़ता दूसरे राज्य में केस दर्ज करा रही है। यह कैसी विडम्बना है कि जिसकी साजिश करने में मास्टरी है वही विपक्ष पर साजिश करने का आरोप लगा रहे है। पूरा प्रदेश बलात्कार और हत्याओं से थर्रा उठा है। बच्चियों का जीवन खतरे में है। कोई जनपद नहीं बचा है जहां प्रतिदिन दुष्कर्म की घटनाएं न होती हो। नाबालिग छात्राएं डरी-सहमी है। भाजपा सरकार ने उत्तर प्रदेश को ‘रेप स्टेट‘ बना दिया है। उन्होंने कहा कि हाथरस कांड में जो प्रश्न अनुत्तरित हैं किन्तु जांच के महत्वपूर्ण बिन्दु वे हैं कि रात में लाश जलाने को किसने कहा? क्या लखनऊ से फोन गया? एक बड़े अधिकारी ने रेप न होने का बयान दिया जबकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में पीडि़ता के प्राइवेट पार्ट में जख्म होने की बात है? पीडि़ता का परिवार लगातार दहशत में क्यों है? कौन उनको मनमाने बयान देने के लिए धमकाता है? एक बात बहुत साफ है कि दुष्कर्म कांड के गुनहगार कितनी परतें ओढ़ लें लेकिन सच पर पर्दा नहीं डाला जा सकेगा। सच्चाई तो सामने आएगी ही और जब सच सामने आएगा तो आज की अहंकारी सत्ता का सारा खेल खत्म हो जाएगा। पीडि़त की आह कभी व्यर्थ नहीं जाती है। कानून के लम्बे हाथों से कोई अपराधी बच नहीं पाएगा।

कुशीनगर: धारदार हथियार से पति-पत्नी की हत्या

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
कुशीनगर। जिले के तरयासुजान थानाक्षेत्र के ग्राम पंचायत सियरहा में सोमवार की देर रात एक अभियुक्त ने गवाह व उसकी पत्नी को धारदार हथियार से मौत के घाट उतार दिया। मृतक की पुत्री ने भागकर अपनी जान बचाई। घटना के बाद उग्र ग्रामीणों ने घटनास्थल पर एसपी को बुलाने की मांग करते हुए शव को रोक लिया। मौके पर सीओ व सर्किल के सभी थानों की फोर्स पहुंच गई। हल्का बल प्रयोग कर पुलिस रात में ही दोनों शव को कब्जे में ले लिया। आरोपी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है।
55 वर्षीय बुधन पुत्र शिव बरन व उनकी पत्नी सनकेसिया घर में सोए थे। बगल में पुत्री सावित्री राजभर भी सो रही थी। लगभग 12 बजे गांव का ही रमाशंकर पुत्र भुलई घर में घुस गया और ताड़ी उतारने के हथियार बखुआ से बुधन पर ताबड़तोड़ प्रहार कर दिया। पति की चीख सुनकर सनकेसिया बचाव में आई तो हत्यारे ने उसे भी बखुआ से काट दिया। पुत्री पर भी हमला बोला तो वह जान बचाने के लिए भागी। शोर सुनकर ग्रामीण घटनास्थल पर इकट्ठा होते इसके पूर्व आरोपी फरार हो गया। पति-पत्नी की मौके पर ही मौत हो गई। एसपी विनोद कुमार सिंह ने कहा कि इस मामले में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है और आरोपी की तलाश में पुलिस टीम लगा दी गई है। शीघ्र उसे गिरफ्तार कर लिया जाएगा। आरोपी रमाशंकर 10 वर्ष पूर्व पट्टीदार के मामले में अभियुक्त है और दो वर्ष पूर्व हत्या के प्रयास के एक अन्य मामले में भी अभियुक्त है और जमानत पर रिहा है। बुधन ने हत्या के मामले में गवाही दी थी। इससे रमाशंकर खार खाये था। बुधन ने दस दिन पूर्व हत्या किए जाने की आशंका व्यक्त करते हुए तहरीर दी थी लेकिन पुलिस ने लापरवाही बरती।

https://www.youtube.com/watch?v=EZVT-Rw0XkM

Next Story
Share it