Top

चीन से झड़प के निहितार्थ

चीन से झड़प के निहितार्थ

sanjay sharma

सवाल यह है कि चीन सीमा पर भारत को लगातार उकसाने की कार्रवाई क्यों कर रहा है? क्या वह वार्ता की आड़ में भारत को धोखा देना चाहता है? क्या दक्षिण चीन सागर में भारतीय युद्धपोत की मौजूदगी से चीन बौखला गया है? क्या भारत-अमेरिका की दोस्ती से चीन डर गया है? क्या दोनों देशों के बीच सीमित युद्ध के हालात बनने लगे हैं? क्या चीन भारत को दो मोर्चों पर उलझाने की कोशिश कर रहा है?

एक बार फिर चीन और भारतीय सेना के बीच झड़प हुई। पैंगोंग झील इलाके में चीनी सैनिकों की घुसपैठ की कोशिश को भारतीय जवानों ने नाकाम कर दिया। चीनी सैनिक पूरी तैयारी से आए थे और वे यहां कैंप लगाने की फिराक में थे। सवाल यह है कि चीन सीमा पर भारत को लगातार उकसाने की कार्रवाई क्यों कर रहा है? क्या वह वार्ता की आड़ में भारत को धोखा देना चाहता है? क्या दक्षिण चीन सागर में भारतीय युद्धपोत की मौजूदगी से चीन बौखला गया है? क्या भारत-अमेरिका की दोस्ती से चीन डर गया है? क्या दोनों देशों के बीच सीमित युद्ध के हालात बनने लगे हैं? क्या चीन भारत को दो मोर्चों पर उलझाने की कोशिश कर रहा है? क्या कोरोना संक्रमण पर घिरे चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग दुनिया का ध्यान भटकाने के लिए भारत के साथ तनाव बढ़ा रहे हैं? क्या भारत को और सतर्क रहने की जरूरत है?
चीन और भारत के बीच तनाव चरम पर है। तमाम कोशिशों के बावजूद 1962 के युद्ध के बाद से दोनों देशों के बीच स्थितियों में बदलाव नहीं आया। चीन की नजर अरुणाचल और लद्दाख पर लगी हुई हैं। वह पाकिस्तान व नेपाल के भरोसे भारत को घेरने की कोशिश कर रहा है। तनाव तब और बढ़ा जब जून में घुसपैठ की कोशिश में गलवान घाटी में चीन और भारत के सैनिकों के बीच खूनी संघर्ष हुआ। इस संघर्ष में भारत के बीस जवान शहीद हुए। कई चीनी सैनिक भी हताहत हुए। शांति बनाए रखने के लिए दोनों देशों के बीच वार्ताओं का दौर जारी है। इसी बीच चीनी सैनिकों ने एक बार फिर एलएसी पार कर भारतीय सीमा में घुसपैठ की कोशिश की। दरअसल, कोरोना संक्रमण को लेकर चीन के राष्टï्रपति शी जिनपिंग की छवि चीन समेत पूरी दुनिया में खराब हुई है। गलवान घाटी में हुए संघर्ष में चीनी सैनिकों की मौत को लेकर भी जनता चीन की सरकार से सवाल कर रही है। लिहाजा शी जिनपिंग ने इससे ध्यान भटकाने के लिए भारत के खिलाफ उकसाने वाली कार्रवाई शुरू कर दी है। वह पाकिस्तान के साथ मिलकर भारत के खिलाफ दो मोर्चे खोलने की तैयारी कर चुका है। चीन ने भारत से लगती सीमा पर मिसाइलें और सैनिकों की तैनाती कर दी है। इसके अलावा वह दक्षिण चीन सागर में भारत के युद्धपोत तैनात करने से भी खफा है। यहां अमेरिका और भारत के युद्धपोत तैनात हैं। भारत की बढ़ती सैन्य शक्ति और अमेरिका से प्रगाढ़ होती दोस्ती को चीन अपने लिए खतरा मान रहा है। ताजा झड़प सीमा पर सीमित युद्ध की संभावना की ओर इशारा कर रही है। लिहाजा भारत को न केवल सतर्क रहना होगा बल्कि चीन के प्रिय मित्र पाकिस्तान पर भी अपनी नजरें गड़ाकर रखनी होगी।

https://www.youtube.com/watch?v=ziZT6SdYPCU

Next Story
Share it