Top

कोरोना और अपराध को रोकने में भाजपा सरकार नाकाम: अखिलेश

कोरोना और अपराध को रोकने में भाजपा सरकार नाकाम: अखिलेश

अपराध और शासन के गठजोड़ ने प्रदेश को किया बदनाम
अस्पतालों में बेड और दवाओं की जारी है मारामारी
आपराधिक घटनाओं पर मूकदर्शक बनी सरकार

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना और कानून व्यवस्था के संकट से लोग बुरी तरह पीडि़त और आतंकित हैं। प्रदेश में दो मंत्रियों की कोरोना से दु:खद मौत हो चुकी है। विधायक भी इसके शिकार हैं। डॉक्टर, सीएमओ का निधन भी इस बीमारी में हो चुका है। भाजपा सरकार में अपराधिक घटनाएं भी थम नहीं रही हैं। पुलिस बेगुनाहों, लाचार लोगों पर हाथ उठाने लगी है क्योंकि बाहुबली नेताओं और गुंडों के आगे वह असहाय बन जाती है। अपराध और शासन के गठजोड़ ने पूरे प्रदेश को बदनाम कर दिया है।
उन्होंने कहा कि कोरोना का कहर जारी है। इस महामारी से लोगों के दिलों में डर पैदा हो गया है। बाजार में कामकाज अभी भी गति नहीं पकड़ सका है। अस्पतालों में बेड और दवाओं की मारामारी है। फिर भी सरकार का बड़बोलापन जारी है। अन्नदाता किसान पर पुलिस के जुल्म की ललितपुर में इंतिहा हो गई जब एक बुजुर्ग की पुलिस ने बर्बरतापूर्ण पिटाई की और उसके कान के पर्दे फट गए। यह पुलिस की शून्य संवेदनशीलता की परिचायक है। मुख्यमंत्री के वीवीआईपी जिले गोरखपुर में वकील राजेश्वर पांडेय की हत्या कर दी गई। अमेठी में एक नाबालिग लडक़ी से दुराचार किया गया। गाजियाबाद में पेट्रोल पम्प के कर्मचारी पर बदमांशों ने गोली चलाई। बरेली कोविड सेन्टर में रेप करने वाला पुलिस की पकड़ से बाहर है। हमीरपुर में विवाहिता ने फांसी लगा ली। स्थितियां दिन प्रतिदिन गम्भीर होती जा रही हैं। सरकार का घटनाओं पर मूकदर्शक बने रहना खतरनाक है। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण थम नहीं रहा है। स्वयं स्वास्थ्यकर्मी भी उसकी चपेट में आ रहे हैं। जांच रिपोर्टों को लेकर अक्सर विवाद होते हैं। कोरोना पॉजिटिव मरीजों के इलाज की अभी तक कोई सुचारू व्यवस्था नहीं बन पाई है। प्रदेश में जो हालात हंै उसमें मुख्यमंत्री सिर्फ बयान देकर पल्ला झाड़ लेते हैं। उनकी टीम-इलेवन का भी अब अतापता नहीं रहता है। कोरोना और अपराध दोनों को रोकने में भाजपा सरकार अक्षम है। इस सत्य को सरकार को स्वीकार करना चाहिए।

https://www.youtube.com/watch?v=Qp_auAE8GWo

Next Story
Share it