Top

किसान और विपक्ष की आवाज दबा रही है भाजपा सरकार: अखिलेश

किसान और विपक्ष की आवाज दबा रही है भाजपा सरकार: अखिलेश

कुछ चुनिंदा पूंजीपतियों के लिए भारत की जनता से किया धोखा
लोकतांत्रिक कपट से पारित कराया गया कृषि बिल-

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने कृषि विधेयकों को लेकर एक बार फिर केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि भाजपा बताए कि उनके दिखावटी सदस्यता अभियान की तरह एमएसपी पाने के लिए भी कोई मिस्डकॉल नंबर होगा क्या? अब किसान हर गांव में भाजपा का खेत खोदकर, इन्हें जड़ से उखाडक़र बताएंगे कि कैसे ‘न्यूनतम समर्थन’ के धोखे के बदले वो इनके विरूद्ध ‘अधिकतम विरोध’ कर भाजपा का ही दाना-पानी बंद कर देंगे।
उन्होंने कहा कि भाजपा ने राज्यसभा व विधान परिषद में बिना बहुमत, ध्वनिमत के झूठ से बिल पास करवाकर लोकतंत्र की हत्या की है। किसान की जमीन-फसल पर आंख गड़ाए बैठे भाजपाई भले छल कर लें लेकिन किसान और नौजवान अब गांव-सडक़ पर ‘भाजपा-बहिष्कार’ का मन बना चुके हैं, जो सपा के तहसील स्तरीय धरने में दिखा। भाजपा ने कृषि बिल पारित कराने के लिए ‘ध्वनि मत’ की आड़ में राज्य सभा में किसान व विपक्ष की आवाज को दबाया है व अपने कुछ चुनिंदा पूंजीपतियों व धन्नासेठों के लिए भारत की दो तिहाई जनसंख्या को धोखा दिया है। लोकतांत्रिक कपट कर भाजपा ने कृषि बिल नहीं, अपना ‘पतन-पत्र’ पारित कराया है। भाजपा सरकार खेती को अमीरों के हाथों गिरवी रखने के लिए शोषणकारी विधेयक लाई है। ये खेतों की मेड़ तोडऩे का षड्यंत्र है और साथ ही एमएसपी सुनिश्चित करनेवाली मंडियों के धीरे-धीरे खात्मे का भी। भविष्य में किसानों की उपज का उचित दाम भी छिन जाएगा और वो अपनी ही जमीन पर मजदूर बन जाएंगे।

बीटेक छात्र ने गोली मारकर की खुदकुशी

कारणों की तलाश कर रही पुलिस

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
आगरा। शहर की पॉश कॉलोनी नेहरू नगर में सोमवार रात बीटेक छात्र ने पिता की लाइसेंसी रिवॉल्वर से गोली मारकर खुदकुशी कर ली। खुदकुशी का कारण अभी स्पष्ट नहीं हुआ है। मौके से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। पुलिस मोबाइल की जांचकर कारण जानने का प्रयास कर रही है।
एमजी रोड स्थित सेंट्रल बैंक में सहायक प्रबंधक राजेश पंडित संस्कार भारती के पदाधिकारी भी हैं। उनका 23 वर्षीय बेटा शुभांकर असोम के सिलचर स्थित एनआईटी में बीटेक द्वितीय वर्ष का छात्र था। लॉकडाउन में कॉलेज की छुट्टी होने पर घर में ही रहकर पढ़ाई कर रहा था। दो मंजिल घर में राजेश पंडित, उनकी पत्नी अर्चना और इकलौता बेटा शुभांकर ही रहते थे। नौकर गोपाल घर में काम करने आता था। बेटी सुकृति फरीदाबाद में एक मल्टीनेशनल कंपनी में नौकरी करती है। सोमवार रात आठ बजे अर्चना घर के सामने रोड पर टहल रही थीं। राजेश पंडित घर में भूतल पर ही थे। शुभांकर दूसरी मंजिल पर पढ़ाई कर रहा था। अचानक राजेश को दूसरी मंजिल से गोली चलने के साथ ही कुछ गिरने की आवाज आई। राजेश ने नौकर गोपाल को ऊपर भेजा तो सीढिय़ों का दरवाजा अंदर से बंद था। गोपाल पड़ोस में रहने वाले राजेश के छोटे भाई डॉ. धर्मेद्र शर्मा की छत से होकर पहुंचा तो वहां शुभांकर लहूलुहान पड़ा था, उसकी कनपटी पर गोली लगी थी। रिवॉल्वर भी उसके पास पड़ी थी। गोपाल यह देखकर चीख पड़ा। चीख सुन स्वजन ऊपर पहुंचे, पुलिस को बुला लिया। फोरेंसिक टीम ने मौके से नमूने लिए। रिवॉल्वर भी कब्जे में ले ली। कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। स्वजन समझ नहीं पा रहे हैं कि आखिर उसने यह कदम क्यों उठाया। एसपी सिटी बोत्रे रोहन प्रमोद ने बताया कि स्वजनों ने लाइसेंसी रिवॉल्वर से खुदकुशी करने की बात लिखकर दी है। खुदकुशी का कारण जानने का प्रयास कर रहे हैं। फेसबुक प्रोफाइल और मोबाइल के कांटेक्ट डिलीट कर दिए गए हैं।

https://www.youtube.com/watch?v=XfAV4vDvXlw

Next Story
Share it