Top

एक लाख का इनामी टिंकू कपाला ढेर

एक लाख का इनामी टिंकू कपाला ढेर

कपाला पर दर्ज थे 22 मुकदमे, बाराबंकी सतरिख रोड पर हुई मुठभेड़

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। यूपी एसटीएफ ने एक लाख के इनामी टिंकू कपाला उर्फ कमल किशोर को शुक्रवार देर रात बाराबंकी जिले के सदर थाना क्षेत्र में एनकाउंटर में ढेर कर दिया। टिंकू कपाला पर डकैती जानलेवा हमला, आम्र्स एक्ट, साजिश रचने समेत 22 मुकदमे लखनऊ समेत अलग-अलग जिलों में दर्ज हैं। लखनऊ के कृष्णानगर में आरके ज्वेलर्स के यहां टिंकू कपाला ने अपने साथियों संग मिलकर दो लोगों की हत्या कर डकैती डाली थी। इस घटना के बाद उस पर एक लाख रुपये का इनाम घोषित किया गया था।
टिंकू कपाला उर्फ कमल किशोर मूलरूप से लखनऊ के 417/1276 दिलराग बारादरी निवाजगंज, थाना चौक का रहने वाला था। उसने कई वारदात को अंजाम दिया था और पुलिस के लिए सिरदर्द बना हुआ था। लखनऊ पुलिस लंबे समय से टिंकू कपाला की तलाश कर रही थी। पिछले साल 22 जुलाई को उसके सिर पर एक लाख रुपये का इनाम घोषित किया गया था। पुलिस अधीक्षक बाराबंकी डॉ. अरविंद चतुर्वेदी ने बताया कि टिंकू कपाला अपने एक साथी के साथ देर रात बाइक से बाराबंकी से सतरिख की ओर जा रहा था। सतरिख से करीब एक किलोमीटर पहले पेट्रोल पंप के पास पुलिस से मुठभेड़ हुई है, जिसमें टिंकू कपाला उर्फ कमल किशोर की गोली लगने से मौत हो गई है जबकि उसका साथी भाग निकला। फरार बदमाश की तलाश की जा रही है। पुलिस ने एक अवैध असलहा और बाइक बरामद की है। वह नाम और पता बदलकर अलग-अलग ठिकानों पर रहता था टिंकू ने कुछ साल पहले वृंदावन योजना सेक्टर 10 में और मोहनलालगंज में किराए का फ्लैट लिया था और लंबे समय तक वहीं छिपकर रहा था।

हिस्ट्रीशीटर पकड़ा

मेरठ। तीन साल से वांछित 50 हजार के इनामी हिस्ट्रीशीटर दानिश को पुलिस ने पकड़ लिया। मेडिकल थाना प्रभारी कुलवीर सिंह ने बताया कि तीन साल से जानलेवा हमले में वांछित इनामी हिस्ट्रीशीटर के बारे में सूचना मिली थी। शुक्रवार को हिस्ट्रीशीटर दानिश पुत्र अफजाल निवासी एल ब्लॉक शास्त्रीनगर को कुटी चौराहे से दबोच लिया। सर्विलांस प्रभारी मनोज दीक्षित ने बताया कि आरोपी का परतापुर थाने में झगड़ा हुआ था। इसमें दानिश पर मुकदमा दर्ज हुआ था। इसके बाद उसपर मेडिकल थाने में गैंगस्टर के तहत कार्रवाई हुई थी। वह अक्सर अपना हुलिया और जगह बदलता रहता था।

युवक की सिर कूचकर हत्या से सनसनी

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
जौनपुर। जिले में खुटहन थाना क्षेत्र के महमदपुर गांव में आज सुबह खेत में खड़े बोलेरो वाहन में युवक की सिर कूचकर हत्या के बाद रखा शव बरामद होने से सनसनी फैल गई। मौके पर जुटे ग्रामीणोंं ने मृतक की तिघरा बाजार में जनरल स्टोर की दुकान चलाने वाले खेतासराय कस्बा निवासी अशोक कुमार (38) पुत्र रामधनी के रूप में की तो पुलिस ने परिजनों को सूचित किया। वहीं पूछताछ में लोगों ने बताया कि तिघरा में उसकी ससुराल है। पुलिस ने सूचना मिलने के बाद शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।
परिजनों का कहना है कि वह शुक्रवार की शाम निजी बोलेरो लेकर जफराबाद बरात में शामिल होने की बात कहकर घर से निकला था। ग्रामीणों ने खेत में खड़े वाहन में शव देखा तो पुलिस को घटना की सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस को वाहन के पास ही शराब की बोतल, गिलास और नमकीन के खाली पैकेट पड़े मिले। मृत अशोक तिघरा बाजार में ही मकान खरीदकर पत्नी और दो बच्चों संग रहता था। मकान में ही उसकी जनरल स्टोर व ब्यूटीपार्लर की दुकान भी संचालित है। पति-पत्नी मिलकर दोनों दुकानों को संचालित करते रहे। मृतक की पत्नी रिशू देवी ने बताया कि उसके पति की हत्या किसने और क्यों की, यह समझ नहीं पा रही है। उसकी किसी से रंजिश नहीं थी।

https://www.youtube.com/watch?v=otcKYTbpUTg

Next Story
Share it