Top

उत्तर प्रदेश में कानून का राज समाप्त अपराधियों को नहीं कोई डर: अखिलेश

उत्तर प्रदेश में कानून का राज समाप्त अपराधियों को नहीं कोई डर: अखिलेश

प्रदेश में उत्पन्न हो गया है संवैधानिक संकट, लागू हो राष्टï्रपति शासन
भेदभावपूर्ण नीति अपना रही भाजपा सरकार, लोगों का जीवन असुरक्षित

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा सरकार के कारण ही कानून व्यवस्था का संकट उत्पन्न हुआ है। सरकारें अपनी संवैधानिक जिम्मेदारी से हटकर जब और कामों में उलझती रहती हैं तो इस तरह के संकट पैदा होते हैं। प्रदेश में अपराधों की बाढ़ आ गयी है। हत्या अपहरण जैसी दुखद घटनाएं प्रतिदिन घटित होते रहने से कानून का राज समाप्त है। समाजवादी पार्टी यह मुद्दा बार-बार उठाती रही है कि भाजपा ही तमाम बुराइयों की जड़ है।
उन्होंने कहा कि लगातार अपहरण और हत्याओं के बावजूद भी भाजपा सरकार का निर्लज्ज मौन और निष्क्रियता प्रश्नचिहृ के घेरे में है। उत्तर प्रदेश में धारावाहिक अपराधिक घटनाओं को देखकर लगता है कि प्रदेश की बागडोर अब शायद भाजपा सरकार के हाथ से निकल कर बदमाशों के हाथों में चली गई है। कानून का अपराधियों को कोई डर नहीं है। भाजपा सरकार के कारण उत्तर प्रदेश में संवैधानिक संकट उत्पन्न हो गया है। समाजवादी पार्टी अपनी इस मांग को दोहराती है कि उत्तर प्रदेश में राष्ट्रपति शासन लगाया जाये। बिना भाजपा सरकार को हटाये राज्य के नागरिकों का जीवन और सम्मान सुरक्षित नहीं है।
उन्होंने कहा कि विभिन्न जनपदों में हत्या, डकैती का रिकार्ड बन गया है। राज्य सरकार भेदभावपूर्ण नीति से निर्णय कर रही है। पुलिस अभी तक कानपुर संजीत यादव का शव बरामद नहीं कर सकी है। यह भाजपा सरकार के लिए शर्मनाक है। गोंडा के करनैलगंज में रामबाबू गोस्वामी की हत्या कर दी गयी। सपा की ओर से अरविन्द गिरि प्रदेश अध्यक्ष समाजवादी युवजन सभा द्वारा पीडि़त परिवार को पचास हजार दिए गए। समाजवादी पार्टी गोरखपुर के पीडि़त परिवार को 2 लाख की मदद दे रही है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के गृह जनपद गोरखपुर में अगवा महाजन गुप्ता के पुत्र बलराम गुप्ता को बचाया न जा सका, उसकी हत्या हो गई। अपनी विफलता पर पर्दा डालने के लिए गोरखपुर में पीडि़त परिवार को मुख्यमंत्री ने पांच लाख दिये हैं। सपा की मांग है कि सरकार पीडि़त परिवार को पचास लाख दे। कानपुर के पीडि़त परिवार को मुख्यमंत्री द्वारा एक रूपया नहीं दिया गया।

https://www.youtube.com/watch?v=e70xG-JVyWE

नवाबगंज में युवक की हत्या, करने गया था आम के बाग की रखवाली

गला दबाकर भीम को मारा गया, मुंह से निकला था खून

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
प्रयागराज। मंगलवार की रात आम के बाग की रखवाली करने गए युवक की गला दबाकर हत्या कर दी गई। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने युवक के शव को कब्जे में ले लिया। फिलहाल हत्या किसने और क्यों की, ये किसी को पता नहीं है। पुलिस ने युवक के परिवार के लोगों से भी पूछताछ की।
नवाबगंज थाना क्षेत्र के ग्राम सभा शहावपुर निवासी राम सेवक सरोज ने राजा अखिल प्रताप सिंह के आम के बाग को खरीदा था। मंगलवार की रात में राम सेवक का 20 वर्षीय पुत्र भीम सरोज बाग की रखवाली करने के लिए गया था। राम सेवक रात में 10 बजे बेटे भीम के लिए भोजन लेकर गए थे तो वह बाग में बनी झोपड़ी में मौजूद था। खाना देकर वह घर चले आए। राम सेवक जब सुबह बाग में गए तो गए उधर तो भीम मृत मिला। भीम के गले पर निशान देख अनुमान लगाया गया कि उसकी गला दबाकर हत्या की गई थी। वहीं उसके मुंह से खून निकला हुआ था।

हिस्ट्रीशीटर बबलू प्रधान का साथी नोबिल दबोचा

अवैध खनन व तेल के कारोबार में था लिप्त

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
अलीगढ़। गलास थाने से भागे हिस्ट्रीशीटर बबलू प्रधान के साथी नोबिल को पुलिस ने मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया। नोबिल अवैध खनन व तेल के कारोबार में संलिप्त था। बबलू प्रधान उसे संरक्षण देता था।
एसपी देहात अतुल शर्मा ने बताया कि थाने से भागने के बाद बबलू लगातार नोबिल निवासी बिसाहुली थाना इगलास के संपर्क में था। नोबिल ने बताया कि पेट्रोल पंप पर लैपर्ड से नोकझोंक हुई तो बबलू मौजूद था। पुलिस के पहुंचते ही वह स्कूटी लेकर भाग निकला। पहले मुरसान पहुंचा, जहां से बस में सवार होकर मथुरा, फिर भरतपुर चला गया। इसके बाद फोन बंद कर लिया। हालांकि नोबिल से उसकी बातें हो रही थीं।

https://www.youtube.com/watch?v=stqgaou4_h4

Next Story
Share it