इलाहाबाद विश्वविद्यालय में प्रवेश के लिए आवेदन की तिथि बढ़ी

इलाहाबाद विश्वविद्यालय में प्रवेश के लिए आवेदन की तिथि बढ़ी

अब 15 जुलाई तक आवेदन कर सकते हैं छात्र-छात्राएं

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
प्रयागराज। इलाहाबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय और सम्बद्ध महाविद्यालयों में शैक्षणिक सत्र 2020-21 के तहत स्नातक, परास्नातक समेत अन्य पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए ऑनलाइन आवेदन की तिथि बढ़ा दी गई है। अब 15 जुलाई तक छात्र-छात्राएं आवेदन कर सकेंगे। प्रवेश प्रकोष्ठ की बैठक में सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया गया। संयुक्त शोध प्रवेश परीक्षा में जुलाई के पहले सप्ताह से आवेदन मांगने की तैयारी है।
25 मार्च से ही ऑनलाइन आवेदन शुरू हो गए थे। कोरोना वायरस संक्रमण के चलते छात्रनेताओं ने विरोध किया तो दो दिन बाद इविवि प्रशासन ने प्रवेश प्रक्रिया स्थगित करने का फैसला लिया। दो दिन में कुल 2,900 छात्र-छात्राओं ने रजिस्ट्रेशन कराया था। कुल 300 ने फीस जमाकर आवेदन पत्र सबमिट भी कर दिया था। इसके बाद चार मई को प्रवेश प्रकोष्ठ की बैठक में 10 मई से आवेदन मांगे जाने पर मुहर लगी। इसके बाद 49 दिनों में 76,342 छात्र-छात्राओं ने अंतिम तौर पर आवेदन फॉर्म सबमिट किया। पिछले वर्ष 27 दिन में एक लाख 13 हजार ने फार्म भरा था। प्रवेश प्रकोष्ठ के निदेशक प्रोफेसर प्रशांत अग्रवाल ने बताया कि कोरोना के कारण आवेदन की संख्या कम होने से अंतिम तिथि बढ़ाई गई है।

जहरखुरानी का शिकार हुए सहायक चकबंदी अधिकारी

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
कानपुर। कानपुर से ड्यूटी पर कौशांबी के लिए निकले सहायक चकबंदी अधिकारी को टैक्सी चालक बनकर जहरखुरानों ने लूट लिया और बेहोशी की हालत में बिंदकी के पास जंगल में फेंक दिया। घटना की जानकारी होने पर पुलिस ने उन्हें अस्पताल में भर्ती कराने के बाद स्वजनों को सूचना दी। स्वजनों ने हालात गंभीर होने पर उन्हें निजी अस्पताल में भर्ती कराया।
कानपुर के काकादेव आरएसपुरम निवासी आनंद स्वरूप मिश्रा सहायक चकबंदी अधिकारी हैं। वर्तमान में वह कौशांबी जिले में तैनात है। वे बुधवार सुबह घर से ड्यूटी जाने के लिए निकले थे। उन्होंने स्विफ्ट डिजायर कार में बैठकर जाने की जानकारी घरवालों को दी। इस दौरान वे जहरखुरानों के शिकार हो गए।

https://www.youtube.com/watch?v=ISftm6hfidY

Next Story
Share it