Top

अस्पताल से छुट्ïटी मिलते ही सात दिन होम आइसोलेशन में रहेंगे संक्रमित

अस्पताल से छुट्ïटी मिलते ही सात दिन होम आइसोलेशन में रहेंगे संक्रमित

यूपी सरकार ने नई डिस्चार्ज पॉलिसी जारी की
स्वास्थ्य रिपोर्ट फोन से अपडेट कर लेंगे जानकारी

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए यूपी सरकार ने नई डिस्चार्ज पॉलिसी जारी की है। इसके तहत होम आइसोलेशन और अस्पताल में भर्ती मरीजों को ठीक होने के बाद भी उसे सात दिनों तक घर में आइसोलेट होना होगा। प्रमुख सचिव स्वास्थ अमित मोहन प्रसाद की ओर से इसके आदेश जारी कर दिए गए। कोरोना वायरस के लक्षण वाले व बिना लक्षण वाले रोगियों के लिए स्वास्थ्य विभाग ने नई व्यवस्था बनाई है।
बिना लक्षण वाले वह रोगी जो होम आइसोलेशन में हैं, उनकी स्वास्थ्य रिपोर्ट जिले के सीएमओ या उनके कार्यालय द्वारा 10 दिनों तक फोन से अपडेट की जाएगी। 10 दिनों में रोगी में कोरोना का कोई लक्षण प्रतीत न होने पर ऐसे रोगी को ठीक माना जाएगा और कोविड पोर्टल पर उसके ठीक होने की जानकारी दर्ज की जाएगी। ऐसे रोगियों को 10 दिन की अवधि के बाद भी सात दिनों तक होम आइसोलेशन में ही रहना होगा। दूसरी तरफ कोरोना के बिना लक्षण वाले जिन मरीजों को हालत बिगडऩे की वजह से अस्पताल में भर्ती किया जाएगा, उन्हें कोरोना जांच होने के दसवें दिन या भर्ती होने के सातवें दिन बिना किसी जांच के ही डिस्चार्ज किया जाएगा। ऐसे रोगियों को भी अस्पताल से छुट्टी के बाद आठ दिनों तक होम आइसोलेशन में अनिवार्य रूप से रहना होगा।

14 दिन बाद लक्षण मिले तो माने जाएंगे नए रोगी

कोरोना से संक्रमित मरीज के ठीक होने के बाद अगर फिर से उसमें कोरोना के लक्षण दिख रहे हैं तो उसे तत्काल इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल रूम सेंटर के हेल्पलाइन नंबर पर जानकारी देनी होगी। डिस्चार्ज होने के 14 दिन बाद लक्षण प्रदर्शित होने पर उस व्यक्ति को नए रोगी के रूप में पंजीकृत किया जाएगा।

गंभीर रोगियों को कोविड-19 के लेवल-टू व लेवल-थ्री अस्पताल

नई पॉलिसी के तहत मध्यम तीव्रता वाले लक्षण और गंभीर रोगियों को कोविड-19 के लेवल-टू व लेवल-थ्री अस्पताल में भर्ती कराया जाएगा। इन दोनों श्रेणियों के रोगियों का फालोअप लक्षण विहीन होने के तीन दिन के बाद या प्रथम सैंपल लिए जाने के 12 दिन के बाद (जो भी तिथि बाद में आती हो) होगा। फालोअप सैंपल की रिपोर्ट निगेटिव आने की स्थिति में इन्हें भी सात दिन होम आइसोलेशन में रहने की सलाह के साथ डिस्चार्ज किया जाएगा।

भाजपा कार्यकर्ता संगठन की रीढ़: केशव प्रसाद मौर्य

भाजपा कार्यकर्ताओं से डिजिटल सम्मेलन का पहला चरण पूरा

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा है कि कार्यकर्ता संगठन की रीढ़ की हड्ïडी है। इन्हीं के बल पर हम सरकार बनाते हैं। उन्होंने कहा कि कार्यकर्ता पूरी निष्ठा व सेवा भावना के साथ समाज सेवा करें। इसका फल उन्हें जरूर मिलेगा। भाजपा में कोई भी बूथ अध्यक्ष अपनी मेहनत के बल पर राष्टï्र अध्यक्ष बन सकता है। बूथ समिति का सत्यापन 15 अगस्त को होगा। भाजपा के डिजिटल सम्मेलन का पहला चरण सोमवार को पूरा हुआ। इसके माध्यम से प्रदेश के 403 विधानसभा क्षेत्रों में बूथ, सेक्टर, मंडल, जिला, क्षेत्र व प्रदेश के भाजपा पदाधिकारियों के साथ विधायक, नगर पालिका, नगर पंचायत और जिला पंचायत व ग्राम पंचायत जनप्रतिनिधियों से संवाद किया गया। इन सम्मेलनों के माध्यम से जहां कोरोना संक्रमण काल में पार्टी के कार्यकर्ताओं के सेवा कार्यों की चर्चा की गई। इसके अलावा प्रदेश महामंत्री (संगठन) सुनील बंसल ने भी बुलंदशहर विधानसभा क्षेत्र में जनप्रतिनिधियों व जनता से संवाद किया।

https://www.youtube.com/watch?v=ISftm6hfidY

Next Story
Share it