अस्पताल में हंगामा करने पर बसपा के पूर्व जिलाध्यक्ष समेत पांच नामजद

अस्पताल में हंगामा करने पर बसपा के पूर्व जिलाध्यक्ष समेत पांच नामजद

युवक द्वारा क्वारंटाइन सेंटर से कूदकर जान देने का मामला

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
रामपुर। क्वारंटाइन सेंटर की छत से कूदे युवक की मौत के मामले में जिला अस्पताल में हंगामा करने वाले स्वजनों के खिलाफ पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है। इस मुकदमे में मृतक के चचेरे भाई बसपा के पूर्व जिलाध्यक्ष अजीत गौतम समेत पांच को भी नामजद किया गया है। मुकदमा जिला अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ. राकेश मित्तल की ओर से कराया गया है।
घटना चार जुलाई की है। जौहर यूनिवर्सिटी में बने क्वारंटाइन सेंटर में आगापुर के विनीत गौतम और उनके भाई अमित को पहली जुलाई को भर्ती किया गया था। उनकी मां कोरोना पॉजीटिव आने पर दोनों भाइयों को क्वारंटाइन किया गया था। तीन जुलाई की रात विनीत क्वारंटाइन सेंटर की छत से कूद गया था। अगले दिन सुबह उसकी जिला अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हो गई थी। इसकी जानकारी मिलने पर स्वजन जिला अस्पताल पहुंच गए। उन्होंने क्वारंटाइन सेंटर के इंचार्ज, सुरक्षा कर्मियों व स्टाफ पर युवक का उत्पीडऩ करने का आरोप लगाते हुए हंगामा किया था। जिला अस्पताल के चिकित्सकों पर भी इलाज न करने का आरोप लगाते हुए प्रदर्शन किया था। इस मामले में जिला अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक ने कोतवाली में तहरीर दी। शहर कोतवाली प्रभारी जसपाल सिंह ग्वाल ने बताया कि तहरीर पर आगापुर निवासी अजीत गौतम, अमित, ऋषि गौतम, वसीम और इमरान के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। आरोप है कि इन्होंने कोरोना संकट को देखते हुए जिले में लगी धारा 144 का उल्लंघन किया। अस्पताल में इकट्ठा होकर प्रदर्शन किया। शारीरिक दूरी का पालन नहीं किया और मॉस्क भी नहीं लगाया था। इनके खिलाफ महामारी अधिनियम की धारा में रिपोर्ट दर्ज की है। इसी मुकदमे में आरोपित ऋषि गौतम को गिरफ्तार किया है। उसका शांति भंग की धारा में चालान कर जेल भेज दिया है।

https://www.youtube.com/watch?v=DkZahIqx9gI

Next Story
Share it