Top

अब मात्र 90 दिन में होगा भू-उपयोग परिवर्तन

अब मात्र 90 दिन में होगा भू-उपयोग परिवर्तन

मुख्यमंत्री बोले- जिला पंचायतें अब कुल एकत्र टैक्स का 60 फीसदी हिस्सा औद्योगिक क्षेत्रों के रखरखाव पर खर्च करेंगी

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। उत्तर प्रदेश में निवेश और औद्योगिकीकरण बढ़ाने के लिए सरकार लगातार नीति-नियमों में बदलाव कर रही है। इसी ओर एक बड़ा कदम उठाते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उद्योगों की स्थापना के लिए भू-उपयोग परिवर्तन अब मात्र 90 दिन में करने का फैसला लिया है। परिवर्तन शुल्क भी घटा दिया है। साथ ही औद्योगिक क्षेत्रों की बड़ी समस्या का समाधान करते हुए योगी ने तय किया कि जिला पंचायतें अब कुल एकत्र टैक्स का 60 फीसदी हिस्सा औद्योगिक क्षेत्रों के रखरखाव पर खर्च करेंगी।
मुख्यमंत्री वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण के दौर में भी उत्तर प्रदेश की अर्थव्यवस्था को पटरी पर ही रखने में व्यस्त हैं। सीएम योगी ने अपने आवास पर उद्योग बंधु उच्च स्तरीय प्राधिकृत समिति की बैठक में उनके साथ मौजूद उद्योग जगत से जुड़े लोगों के साथ मंडल मुख्यालय पर वीसी से प्रतिनिधियों को संबोधित किया। सीएम योगी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत बनाने के सपने को वास्तविकता में परिवॢतत करने के लिए उत्तर प्रदेश निरंतर प्रयासरत है। हम उत्तर प्रदेश में औद्योगिकीकरण के एक नए युग को आगे ले जाने के लिए पूरी तरह तैयार हैं। सभी का हमको पूरा सहयोग मिलेगा। उन्होंने कहा कि इंडस्ट्रीज को बढ़ावा देने का हमारा यह प्रयास न सिर्फ उत्तर प्रदेश के औद्योगीकरण और विकास की सम्भावनाओं को आगे बढ़ाएगा बल्कि व्यापक पैमाने पर युवाओं के लिए रोजगार की सम्भावनाओं को भी आगे बढ़ाएगा।

काशी क्षेत्र को बनाएंगे विकास का मॉडल

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र काशी को विकास का मॉडल बनाने की प्रतिबद्धता जताई है। वाराणसी मंडल के विकास कार्यों की समीक्षा करते वक्त जब कुछ योजनाओं में भ्रष्टाचार और जांच की बात सामने आई तो सीएम योगी ने दो टूक कहा कि भ्रष्टाचारियों से सरकारी क्षति की वसूली की जाए। मुख्यमंत्री ने अपने आवास से वीसी के जरिए सोमवार को वाराणसी मंडल के जिले वाराणसी, चंदौली, गाजीपुर और जौनपुर के विकास कार्यों की समीक्षा की। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में हम काशी की धर्म, संस्कृति और कला को संरक्षित करने के साथ इसे आधुनिक और पुरातन के संगम का स्वरूप देते हुए विकास के मॉडल के रूप में प्रस्तुत करेंगे।

20 हजार एकड़ से अधिक का लैंड बैंक तैयार
सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि भारत के सबसे बड़े डिजिटल सिंगल विंडो क्लियरेंस प्लेटफॉर्म में से एक है राज्य का निवेश मित्र पोर्टल। इस पोर्टल के माध्यम से ही हमने 98 फीसदी उच्च समाधान दर और 94 प्रतिशत स्वीकृतियां जारी की है। उन्होंने कहा कि वर्तमान में उत्तर प्रदेश, देश की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था वाला राज्य है। वर्तमान में उत्तर प्रदेश देश के कुल सकल घरेलू उत्पाद में आठ प्रतिशत का योगदान भी कर रहा है। देश की सबसे अधिक 24 करोड़ की आबादी उत्तर प्रदेश में निवास करती है। हमारा प्रदेश, देश का सबसे बड़ा उपभोक्ता बाजार है। मुख्यमंत्री ने कहा कि मुझे यह बताते हुए प्रसन्नता है कि सरकार ने लगभग 20 हजार एकड़ से अधिक का लैंड बैंक तैयार किया है। राज्य सरकार एक व्यापक लैंड बैंक नीति बना रही है, जिसमें लैंड लीजिंग, लैंड पूलिंग, एक्सप्रेस-वे के किनारे भूमि अधिग्रहण की कार्रवाई शामिल है।

एक्सप्रेस-वे व हवाई कनेक्टिविटी का कार्य तेजी पर

एनसीआर रीजन को प्रयागराज, वाराणसी व चित्रकूट के साथ जोडऩे के लिए 600 किमी से भी अधिक लम्बे गंगा एक्सप्रेस-वे के कार्य की प्रक्रिया को भी हमने तेजी के साथ आगे बढ़ाया है। जेवर में बनने वाले प्रदेश के सबसे बड़े जेवर एयरपोर्ट की निर्माण प्रक्रिया गौतमबुद्ध नगर में तेजी के साथ आगे बढ़ रही है। कुशीनगर में भी एक नए अंतरराष्टï्रीय हवाई अड्डे के निर्माण की कार्रवाई अंतिम चरण में है। क्षेत्रीय कनेक्टिविटी की दृष्टि से प्रदेश में आगरा, हिंडन, कानपुर, बरेली समेत हमने 25 घरेलू हवाई अड्डों को विकसित करने की कार्रवाई को भी तेजी के साथ आगे बढ़ाया है।

https://www.youtube.com/watch?v=R9JmHIq3-tk

Next Story
Share it