अग्निकांडों से सबक कब लेंगी राज्य सरकारें?...

सवाल यह है कि अग्निकांडों को लेकर देश की राज्य सरकारें और प्रशासन गंभीर क्यों नहीं हैं? क्या ये घटनाएं पुलिस-प्रशासन की लापरवाही का नतीजा हैं? यूपी समेत तमाम राज्यों में अवैध फैक्ट्रियां किसकी शह पर ...

गंगा प्रदूषण पर कोर्ट की सख्ती के मायने...

सवाल यह है कि जन हित के हर मुद्दे पर कोर्ट को हस्तक्षेप क्यों करना पड़ता है? आखिर सरकार और नौकरशाही अपने उत्तरदायित्वों को पूर्ण करने में नाकाम क्यों साबित हो रही है? अरबों रुपये खर्च होने के बावजूद ...

लचर स्वास्थ्य सेवाओं के लिए जिम्मेदार कौन?...

सवाल यह है कि क्या राजधानी के नामचीन सरकारी अस्पताल गंभीर रोगियों का इलाज करने में अक्षम हैं? क्या इन अस्पतालों में बेहतर चिकित्सक और सुविधाओं का अभाव है? हर साल अरबों का बजट आखिर कहां खर्च हो रहा है...

महिलाओं से बर्बरता पर अंकुश कब?...

सवाल यह है कि तमाम कानूनों के बावजूद महिलाओं के प्रति बर्बरता क्यों बरती जा रही है? क्या बदमाशों के मन में वर्दी का कोई खौफ नहीं रह गया है? महिलाओं के प्रति बढ़ते अपराधों पर लगाम लगाने में सरकार नाका...

सेवा भाव के बिना नहीं चल सकता जीवन और राष्ट्र: आशीष गौतम...

जीवन में कभी कुछ ऐसा घटता है जो आपका पूरा जीवन बदल देता है। कुछ ऐसा ही हुआ डॉक्टर आशीष गौतम के साथ। संघ प्रचारक रहे आशीष गौतम ने जब हरिद्वार में गंगा के किनारे कुष्ठ रोगियों की असहनीय पीड़ा देखी तो उ...