चित्रकूट में कामदगिरि के बाद तुलसी जन्मस्थली मंदिर भी बंद

  • रामघाट पर अमावस्या मेला में न आने की अपील

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
चित्रकूट। देश में कोरोना वायरस संक्रमण से निपटने के लिए चल रही सजगता में कामदगिरि मंदिर के पट और रामघाट पर आरती बंद होने के बाद सोमवार से राजापुर स्थित तुलसी जन्मस्थली मंदिर के भी कपाट अनिश्चितकाल के लिए बंद कर दिए गए हैं। इसके साथ श्रद्धालुओं से अमावस्या मेला में रामघाट और चित्रकूट नहीं आने की अपील की जा रही है। यहां हजारों लोगों के दर्शन-पूजन के लिए पहुंचने के कारण यह फैसला लिया गया है।
संक्रमण के खतरे को लेकर कामदगिरि प्रमुख द्वार, हनुमानधारा, गुप्त गोदावरी व सती अनुसुइया आश्रम को पहले ही जनता के लिए बंद किया जा चुका है। पट बंद होने के कारण यहां लोग नहीं पहुंच रहे हैं। सतना में मैहर देवी के पट भी बंद हैं। चित्रकूट तुलसीपीठाधीश्वर जगद्गुरु स्वामी रामभद्राचार्य जी महाराज, कामदगिरि प्रमुख द्वार के अधिकारी संत मदन गोपाल दास महाराज लगातार श्रद्धालुओं से जिले में नहीं आने की अपील भी कर रहे हैं। डीएम शेषमणि पांडेय ने बताया कि श्रद्धालुओं को जागरूक किया जा रहा है कि निजी वाहनों से भी अमावस्या मेला में नहीं आएं। घर से ही भगवान कामतानाथ की पूजा आराधना कर लोक कल्याण की कामना करें।

इलाहाबाद विश्वविद्यालय में प्रवेश प्रक्रिया टली

  • 20 से होना था ऑनलाइन आवेदन, नहीं जारी हुआ नोटिफिकेशन

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
प्रयागराज। देश भर में कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से बढऩे के कारण इलाहाबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय (इविवि) में प्रवेश के लिए आवेदन करने को अभी लंबा इंतजार करना होगा। इसके अलावा वार्षिक परीक्षा के परिणाम में भी इस बार देरी होगी। ऐसे में नया सत्र प्रभावित होगा। अब संक्रमण पूरी तरह से समाप्त होने के बाद ही कुछ तय हो सकेगा।
इविवि प्रवेश प्रकोष्ठ के निदेशक प्रोफेसर प्रशांत अग्रवाल की ओर से 20 से 22 मार्च के बीच ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया प्रस्तावित थी। हालांकि कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते अब तक आवेदन का नोटिफिकेशन नहीं जारी हो सका है। अब तक केवल प्रवेश कराने वाली एजेंसी का टेंडर ही खोला गया है। प्रो. अग्रवाल ने कहा कि एजेंसी काम कर रही है। कोराना वायरस के चलते कुछ काम प्रभावित हो रहे हैं। ऐसे में आवेदन शुरू करने में कुछ समय लग सकता है।

https://www.youtube.com/watch?v=BcKIP-07DtI

Loading...
Pin It