अब हाउस टैक्स असेसमेंट में नहीं चलेगा खेल, मकान के फोटो से खुलेगी पोल

  • शासन की रणनीति जल्द होगी लागू, प्रथम चरण में मुख्य शहरों में लागू होगी व्यवस्था
  • रसीद पर अनिवार्य रूप से लगाई जाएगी संबंधित मकान की तस्वीर

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। हाउस टैक्स में गड़बड़ी रोकने के लिए अब नगर निगमों पर सख्ती होगी। हाउस टैक्स असेसमेंट में तरह-तरह के खेल पर लगाम लगेगी। इसके लिए अब हाउस टैक्स जमा होने से पहले संबंधित मकान की फोटो कराई जाएगी और इसे उसकी रसीद पर अनिवार्य रूप से लगाया जाएगा। नगर निगम हाउस टैक्स जमा करने से पहले मकान की फोटो कराकर कर निर्धारण की हकीकत को परखेगा।
पहले चरण में प्रदेश के प्रमुख शहरों में यह व्यवस्था लागू होगी। नगर विकास विभाग पहले चरण में यह व्यवस्था 15 नगर निगमों अलीगढ़, मेरठ, आगरा, कानपुर, गोरखपुर, गाजियाबाद, वाराणसी, इलाहाबाद, लखनऊ, झांसी, सहारनपुर, मुरादाबाद, फिरोजाबाद और बरेली में लागू करेगा। अयोध्या और वृंदावन-मथुरा नगर निगम में यह व्यवस्था बाद में लागू होगी। शासन का मानना है कि नई व्यवस्था के बाद हाउस टैक्स असेसमेंट और उसकी वसूली में होने वाला घालमेल काफी हद तक रुकेगा। मकान मालिक द्वारा दी गई फोटो और नगर निगम से मौके पर जाकर खिंची गई फोटो से हकीकत का पता चलेगा। हाउस टैक्स की रसीद में मकान से संबंधित सभी जानकारियां दी जाएंगी व रसीद कंप्यूटर व ए फोर पेपर पर होगी। इसमें मकान मालिक का नाम, वार्ड संख्या और पूरा पता होगा। रसीद के दूसरी तरफ मकान का फोटो भी होगा। इसके बाद 16 कॉलम में पूरी जानकारी दर्ज की जाएगी। इसके तहत प्रॉपर्टी की पहचान संख्या, भवन क्रमांक, कुल जमीन, भवन का प्रकार, निर्मित क्षेत्रफल, कुल क्षेत्रफल, सडक़ की चौड़ाई जिस पर मकान बना हुआ है, यह सबकुछ दर्ज होगा। इसके साथ ही अगर मकान किराए पर है तो उसकी जानकारी भवन का वार्षिक मूल्यांकन, छूट का विवरण, इसके बाद वार्षिक मूल्यांकन होगा। इसके नीचे वास्तविक हाउस टैक्स, सीवर और वाटर टैक्स लिए जाने वाले पैसे का ब्यौरा होगा।

जीआईएस सर्वे से भी उठा था सवाल

लखनऊ नगर निगम की बात करें तो यहां आठों जोनों में मिलाकर करीब साढ़े पांच लाख भवन स्वामी हैं, पिछले बार हुए जियोग्राफिक इन्फॉमेशन सिस्टम (जीआईएस) सर्वे के बाद हाउस टैक्स असेसमेंट पर सवालिया निशान खड़े होने लगे थे लेकिन उस सर्वे को गलत करार दिया गया। ऐसे में नई व्यवस्था से हाउस टैक्स में चोरी पर लगाम लगने की उम्मीद है।

https://www.youtube.com/watch?v=3s3i8pIMikc

Loading...
Pin It