समाज भी निभाए गोमती को स्वच्छ रखने की जिम्मेदारी : सीएम योगी

  • केजीएमयू में मां शारदालय मंदिर का किया लोकार्पण
  • कहा, आरोग्यता के लक्ष्य को पाने के लिए रोग का कारण जानना जरूरी

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय (केजीएमयू) में मां शारदालय मंदिर का लोकार्पण किया। कन्वेंशन सेंटर में लोगों को संबोधित करते हुए सीएम ने कहा कि प्रत्येक वर्ष यहां बसंत पंचमी पर मां शारदा की पूजा होती थी और फिर प्रतिमा को गोमती में विसर्जित करना पड़ता था। इससे बचने के लिए एक स्थायी देव विग्रह की आवश्यकता थी, इसलिए यहां मां शारदा का मंदिर बनाया गया है। पहले लोग घर से कचरा लाकर नदी में फेंक देते हैं लेकिन अब गंगा स्नान ही नहीं आचमन लायक भी बनी हैं। गोमती की स्वच्छता के लिए समाज भी जिम्मेदारी निभाए। जल की कीमत धीरे-धीरे समाज को चुकानी पड़ रही है।
उन्होंने कहा कि आरोग्यता के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए आवश्यक है कि हम रोग के कारण को भी जानें और उसके उपचार के लिए उचित उपाय करें। मुझे विश्वास है कि केजीएमयू अपने इस अभीष्ट लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए निरंतर प्रयासरत रहेगा। इस दौरान चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश कुमार खन्ना, पद्म विभूषण डॉ. वीरेंद्र हेगड़े समेत कई विशिष्ट लोग कार्यक्रम में मौजूद रहे।

परिसर में रोपा रूद्राक्ष का पौधा

कार्यक्रम से पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने परिसर में रूद्राक्ष का एक पौधा भी रोपित किया। इस दौरान केजीएमयू के तमाम अधिकारी और चिकित्सक मौजूद रहे।

राज्यपाल ने की किसानों से चर्चा

  • खेती की बात खेत पर कार्यक्रम में की शिरकत

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
बाराबंकी। बाराबंकी स्थित हरख ब्लॉक के ग्राम दौलतपुर में राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ‘खेती की बात खेत पर’ कार्यक्रम में प्रगतिशील किसानों से चर्चा करने पहुंची। इस दौरान उन्होंने कृषि फार्म का भ्रमण किया।
इससे पहले डीएम डॉ. आदर्श सिंह व एसपी डॉ. अरविंद चुतर्वेदी सहित अन्य अधिकारियों ने कार्यक्रम स्थल से करीब तीन सौ मीटर पहले सडक़ किनारे खेत में हैलीपैड को देखने के साथ ही पंडाल, मंच व्यवस्था व उन स्थलों को भी देखा, जिनका राज्यपाल को अवलोकन करना है। गांव की मुख्य सडक़ से खेतों में होकर रामसरन वर्मा के फार्म हाउस तक कच्चा गलियारा बना है। गलियारे के किनारे खेतों में मटर, सरसों, आलू, शिमला मिर्च की फसल लगी है। फार्म हाउस के ठीक सामने सहारा विधि से टमाटर की खेती है। राज्यपाल हेलीकॉप्टर से उतरने के बाद कार से फार्म हाउस पर टमाटर की फसल वाले खेत के सामने पहुंची। यहीं उन्होंने प्रगतिशील किसानों से चर्चा की।

अब महाराष्टï्र में शिवसेना-कांग्रेस और एनसीपी गठबंधन में बढ़ी तनातनी

  • एल्गार परिषद मामले की जांच एनआईए को सौंपे जाने पर शरद पवार ने जताई नाराजगी

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
मुंबई। महाराष्ट्र में सत्ताधारी गठबंधन महाविकास अघाड़ी के साझेदारों शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी के बीच तनातनी बढ़ती दिख रही है। मुख्यमंत्री एवं शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने एल्गार परिषद् मामले में यू टर्न लेने के बाद अब एनसीपी और कांग्रेस की आपत्तियों को दरकिनार करते हुए राष्टï्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) पर आगे बढऩे का फैसला लिया है।
मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे राज्य में 1 मई से एनपीआर की प्रक्रिया शुरू करना चाहते हैं। वहीं कांग्रेस और एनसीपी इस पूरी कवायद का खुलेआम विरोध कर रही है। कांग्रेस जहां एनपीआर को एनआरसी का मुखौटा करार दे रही है, वहीं एनसीपी भी इसे लेकर सार्वजनिक रूप से अपनी आपत्तियां दर्ज कराई है। एनसीपी के वरिष्ठ नेता माजिद मेमन ने कहा कि पार्टी एनपीआर का समर्थन नहीं करती। शरद पवार ने भी इसे लेकर आपत्तियां जताई है। इस मामले में ऐसा ही फैसला लिया जाएगा, जो तीनों पार्टियों को स्वीकार्य हो। इस पहले एनसीपी चीफ शरद पवार ने एल्गार परिषद मामले की जांच महाराष्ट्र पुलिस से लेकर एनआईए को सौंपे जाने को लेकर उद्धव ठाकरे सरकार की आलोचना की थी। उन्होंने इस निर्णय को ठीक नहीं बताया है।

चर्चा गर्म

महाविकास अघाड़ी में चल रही तकरार पर राज्य ही नहीं पूरे देश में अटकलों का बाजार गर्म हो गया है कि उद्धव सरकार अपना 5 साल का कार्यकाल पूरा कर पाएगी या नहीं। राजनीतिक विश्लेषकों का मानना है कि इस तनातनी के बावजूद उद्धव सरकार को अभी कोई खतरा नहीं है। उन्होंने कहा कि उद्धव ठाकरे अपने इस कदम के जरिए दिखाने की कोशिश कर रहे हैं कि वह अपने हिंदुत्व और आक्रामक राष्ट्रवाद के मुद्दे पर कायम हैं। यहीं नहीं उद्धव यह भी जताना चाहते हैं कि इस सरकार के मुखिया वह हैं और वह जो चाहेंगे, उसे करेंगे।

प्रख्यात कवि कुमार विश्वास की कार चोरी

  • घर के बाहर से ही फॉच्र्यूनर ले उड़े चोर

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
नई दिल्ली। प्रसिद्ध कवि कुमार विश्वास की गाड़ी उनके घर के बाहर से चोरी हो गई है। उनके गाजियाबाद स्थित आवास के बाहर खड़ी फॉच्र्यूनर चोर लेकर फरार हो गए। पुलिस ने इस मामले में केस दर्ज कर लिया है। जांच के लिए कई टीमें गठित की गई हैं।
कवि कुमार विश्वास गाजियाबाद के वसुंधरा के सेक्टर-3 में रहते हैं और कार उनके आवास के बाहर खड़ी थी। आज सुबह कार गायब थी। हाई प्रोफाइल मामला होने की वजह से पुलिस पर भी जल्द से जल्द गाड़ी बरामद करने का भार है। पुलिस की कई टीमें संभावित जगहों में गाड़ी की तलाशी कर रही हैं। पुलिस आवास के आसपास के इलाकों की सीसीटीवी फुटेज भी खंगाल रही है। हालांकि पुलिस अभी तक चोरों की पहचान नहीं कर पाई है। कुमार विश्वास मंच की कविता के बड़े नाम हैं। देश-विदेश में कुमार विश्वास लगातार मंचों पर सक्रिय रहते हैं, साथ ही साहित्य जगत के सबसे ज्यादा फॉलो किए जाने वाले कवि भी कुमार विश्वास हैं। साहित्य से इतर सामाजिक मुद्दों पर भी कुमार विश्वास तगातार सरकारों को घेरते रहते हैं।

https://www.youtube.com/watch?v=tn7MnWEI1V4

Loading...
Pin It