अब राजधानी के गली-मोहल्ले भी होंगे रौशन लगाई जाएंगी स्ट्रीट लाइट्स

7.50 करोड़ का बजट जारी, महिला सुरक्षा पर फोकस
सेफ सिटी परियोजना के तहत 171 मार्गों को किया गया चिन्हित

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। अब राजधानी के गली-मोहल्ले भी रौशन किए जाएंगे। सेफ सिटी परियोजना के अंतर्गत 171 मार्गों को चिन्हित किया गया है। इन मार्गों पर स्ट्रीट लाइट्स लगाई जाएंगी। इसके लिए नगर निगम को बजट भी जारी किया जा चुका है। जल्द ही योजना को अमलीजामा पहनाया जाएगा।
अब सडक़ों के साथ गलियों और मोहल्लों को भी स्ट्रीट लाइट्स से लैस किया जाएगा। इसका उद्देश्य इन रास्तों पर महिलाओं के आवागमन को सुरक्षित करना है। अब कोई गली या मुख्य सडक़ पर अंधेरा नहीं रहेगा। अंधेरे में डूबने वाले नगर के ऐसे 171 मार्गों पर नई रोड लाइट लगाई जाएंगी। सेफ सिटी परियोजना के तहत नगर निगम को इसके लिए साढ़े सात करोड़ मिले हैं। इसके तहत हजरतगंज चौराहे से सिविल अस्पताल, अशोक मार्ग पर श्रीराम मार्केट से जवाहर भवन और मीराबाई मार्ग, सप्रू मार्ग, हजरतगंज चौराहे से जीपीओ और नरही मार्ग, बलरामपुर अस्पताल, लाल मस्जिद मार्ग, लक्ष्मण मेला पुल के पास, दया निधान पार्क लालबाग, मोहान रोड पर शंकुतला विवि, नवीबुल्ला रोड, लीला सिनेमा हाल, मोतीझील कल्याण मंडप, ऐशबाग से मोतीझील, राजाजीपुरम में लाल बहादुर शास्त्री पार्क और कौल पार्क, सी-100 राजाजीपुरम पार्क और सेक्टर-13 में संतोषी माता मंदिर पार्क, बिस्मिल पार्क, कोठारी बंधु हनुमान मंदिर, डाकघर से गुरुद्वारा रोड, बी-ब्लाक मुख्य मार्ग, मिनी स्टेडियम रोड, रानी लक्ष्मी बाई चिकित्सालय, टुढिय़ागंज में सरस्वती छात्रवास, ईडी फूल पार्क, ऐशबाग गूंगा बहरा स्कूल, चारबाग बस स्टाप, जुबली इंटर कॉलेज, श्याम नगर में भुइयन देवी मंदिर, तुलसी पार्क गीतापल्ली, मानकनगर, विष्णुनगर, बदाली खेड़ा, अलीनगर सुनहरा, अमौसी मार्ग, गौरी, गिंदन खेड़ा, गहरू जैसे मार्ग पर स्ट्रीट लाइटें लगाई जाएंगी।

हो चुकी हैं कई घटनाएं

शहर के तमाम गली और मोहल्ले अंधेरे में डूबे रहते हैं। इसके कारण इन गलियों में चेन स्नेचिंग से लेकर छेड़छाड़ तक की घटनाएं होती रहती हंै। इसकी शिकायतें मिलने के बाद शासन-प्रशासन ने इन गलियों और मोहल्लों को रोशन करने का निर्णय लिया है।

शासन ने लगाई मुहर
राजधानी को महिलाओं के लिए सुरक्षित बनाने के लिए इस प्रोजेक्ट पर पिछले दिनों शासन में हुई बैठक में मुहर लगा दी गई है। साथ ही सेफ सिटी परियोजना के सभी लंबित कार्य जल्द पूरा करने के निर्देश भी दिए गए हैं।

सेफ सिटी परियोजना के तहत रोड लाइट लगाने का बजट मिल गया है। जल्द ही ऐसी सडक़ों पर लाइटें लगाई जाएंगी जहां महिलाओं का आवागमन अधिक रहता है।
इंद्रमणि त्रिपाठी, नगर आयुक्त

Loading...
Pin It

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.