भ्रष्टाचार पर जीरो टॉलरेंस की नीति का पालन जरूरी: डीजीपी

  • कहा, जनता से उच्च कोटि का व्यवहार करे पुलिस

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। प्रदेश के डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी ने अपराधों की रोकथाम और कानून व्यवस्था को लेकर अधिकारियों से साथ समीक्षा बैठक की। डीजीपी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान कहा कि प्रत्येक पुलिस कर्मी ‘प्रोफेशनल पुलिसिंग’ करते हुए आम जनता से उच्च कोटि का व्यवहार करे। डीजीपी के साथ एडीजी कानून व्यवस्था पीवी रामाशास्त्री, एडीजी 112 असीम अरुण तथा पुलिस कमिश्नर लखनऊ सुजीत पांडेय समेत कई वरिष्ठ अफसर मौजूद रहे।
डीजीपी ने कहा कि पुलिस को मुख्य रूप से दो कार्य करने होते हैं। इनमें प्रथम अपराधों की रोकथाम और दूसरा कानून-व्यवस्था बनाए रखने का काम शामिल है। पुलिसकर्मी इन दोनों कार्यों पर हमेशा फोकस बनाए रखें। भ्रष्टाचार पर जीरो टालरेंस की नीति का पालन हर हाल में किया जाना चाहिए। इसमें किसी भी प्रकार की शिथिलता क्षम्य नहीं है। डीजीपी ने बीट पुलिसिंग पर जोर देते हुए कहा कि प्रत्येक बीट पुलिसकर्मी अपनी-अपनी बीट में अवश्य भ्रमण करे। क्षेत्रीय जनता के साथ ऐसा व्यवहार करे कि लोग पुलिस को अपना मित्र समझें और उसे अपने आस-पास होने वाली सारी घटनाओं की सूचना आसानी से उपलब्ध करायें।
डीजीपी ने यातायात व्यवस्था पर भी ध्यान देने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि जिले में व्यस्ततम चैराहों का चिन्हीकरण कर पर्याप्त संख्या में पुलिसकर्मियों की ड्यूटी लगाई जाए, जिससे आम जन को सुगम ट्रैफिक व्यवस्था मिले। नो-इंट्री खुलने के समय स्थानीय पुलिस मुस्तैद रहे और एम्बुलेंस या आमजन के आवागमन में असुविधा न होने पाए।

प्रयागराज एयरपोर्ट के लिए 112 पदों को मंजूरी

  • पुलिसकर्मियों की आवासीय समस्या भी होगी दूर

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रयागराज नागरिक उड्डयन टर्मिनल की सुरक्षा के लिए 112 पदों की मंजूरी दे दी है। इसके साथ ही पुलिस कर्मियों की आवासीय समस्या दूर करने के लिए बजटीय व्यवस्था को भी मंजूरी दी है।
मुख्यमंत्री कार्यालय द्वारा ट्वीट कर बताया गया कि प्रयागराज नागरिक उड्डयन टर्मिनल के लिए पुलिस उपाधीक्षक के एक पद सहित निरीक्षक, उप निरीक्षक, मुख्य आरक्षी, आरक्षी और ट्रेड्समैन श्रेणी के कुल 112 पदों के सृजन को स्वीकृति प्रदान की गई है। इसके साथ ही पीलीभीत में विभिन्न आवासीय राजस्व भवनों के निर्माण, मरम्मत व नवीनीकरण के लिए 42.60 लाख की स्वीकृति दी गई है। मिर्जापुर पुलिस लाइन में आठा मंजिला ट्रांजिट हॉस्टल के निर्माण के लिए 16.68 करोड़ की स्वीकृति दी है।

Loading...
Pin It

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.