जागरूक और जिम्मेदार होना चाहिए देश का मतदाता : आनंदीबेन पटेल

  • युवा पीढ़ी को सोच समझ कर मतदान करने की दी सलाह
  • कहा, महिलाओं का मतदान प्रतिशत बढ़ाने की जरूरत
  • राज्यपाल ने राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर लोगों को किया जागरूक

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने मतदाताओं से अपने वोट का इस्तेमाल समझदारी के साथ करने की अपील की है। राज्यपाल ने इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में आयोजित दसवें राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर कहा कि मतदान हमारा कर्तव्य है। इसलिए मतदान सोच समझकर करना चाहिए। मुझे विश्वास है कि ये जो हमारी नई पीढ़ी है वो आने वाले चुनाव में सोच समझ कर मतदान करेगी।
राज्यपाल ने कहा कि चुनाव में पहले धनबल और बाहुबल मतदान को काफी प्रभावित करते थे। चुनाव के दौरान मतपेटी ही गायब कर दी जाती थी लेकिन धीरे-धीरे निर्वाचन के अधिकारियों ने पार्टियों से बात की और शांति के साथ चुनाव होने लगे। लेकिन चुनाव के दौरान महिलाओं का मतदान प्रतिशत बहुत कम होता है। इसके लिए महिलाओं को जागरूक करना होगा। महिलाओं का मतदान प्रतिशत बढ़ाना होगा, तभी लोकतंत्र में उनकी पर्याप्त भागीदारी सुनिश्चित हो सकेगी। इस अवसर पर मुख्य सचिव आरके तिवारी ने कहा कि राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर सभी को ढ़ेरों शुभकामनाएं। 1947 में जब देश आजाद हुआ था तब के नेताओं ने लोकतांत्रिक गणराज्य की स्थापना की। अब सभी के कल्याण के लिए बेहतर व्यवस्था बनाई गई है। लोकतांत्रिक व्यवस्था का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा मतदाता जागरूकता है। मतदाता मतदान के माध्यम से स्वस्थ लोकतंत्र बनाता है और बेहतर सरकार चुनता है। देश का मतदाता जागरूक और जिम्मेदार होना चाहिए। इस कार्यक्रम के दौरान इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में भारत स्काउट एण्ड गाइड तथा एनएसएस के विभिन्न विद्यालयों के छात्र- छात्राओं द्वारा मतदाता जागरूकता के संबंध में स्टॉल, फोटो की प्रदर्शनी लगाई गई। इस अवसर पर मण्डलायुक्त मुकेश मेश्राम, जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश समेत अन्य अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहे।

मतदाताओं को दिलाई शपथ

राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने मतदाता दिवस पर आयोजित कार्यक्रम के दौरान उपस्थित लोगों को मतदाता शपथ दिलाई। इसी क्रम में जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने भी कलेक्ट्रेट सभागार में सभी कलेक्ट्रेट के कर्मचारियों को मतदाता शपथ दिलाई और मतदान प्रतिशत बढ़ाने में अपना योगदान देने की अपील की।

इन अधिकारियों को किया सम्मानित

राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर लोकसभा सामान्य निर्वाचन- 2019 में उत्कृष्ट कार्य करने के लिए प्रमुख सचिव अरविंद कुमार को सम्मानित किया गया। इसके अलावा डीजीपी ओपी सिंह, पुलिस महानिदेशक कारागार एवं सुधार सेवाएं आनंद कुमार आदि को पुरुस्कृत किया गया। हरदोई जनपद के 2 बूथ लेवल अधिकारियों मो. जमाल, अनुदेशक, अर्चना पल्लवी, शिक्षामित्र तथा विभिन्न प्रतिभागियों को भी पुरस्कृत किया गया।

निर्भया कांड के दोषी को जेल में दिया गया धीमा जहर!

  • दोषी के वकील ने कोर्ट में किया खुलासा, लगाये गंभीर आरोप

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। निर्भया मामले में दोषियों पवन कुमार गुप्ता और अक्षय कुमार की याचिका पर सुनवाई के बाद दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने कोई भी राहत देने से इनकार कर दिया है। इस दौरान याचिकाकर्ता के वकील ने सनसनीखेज आरोप लगाते हुए खुलासा किया कि फांसी की सजा पाए विनय शर्मा को जहर दिया जा रहा है। बीच में उसकी हालत खराब होने पर अस्पताल में भर्ती कराया गया था, लेकिन रिपोर्ट जारी नहीं की गई। वहीं निर्भया केस में वादी पक्ष के वकील ने इसे फांसी से बचने का नया तरीका करार दिया है।
बता दें कि निर्भया कांड में फांसी की सजा सुनाये जाने के बाद दोनों दोषियों के वकील एपी सिंह ने कोर्ट में कहा कि तिहाड़ जेल प्रशासन ने वो अहम कागजात हमें मुहैया नहीं कराए, जिसके आधार पर हमें सुधारात्मक याचिका और राष्ट्रपति के पास दया याचिका दायर करनी थी। याचिका में फांसी की सजा को उम्रकैद में बदलने की मांग की जाएगी। बता दें, निर्भया की मां की याचिका पर कोर्ट ने अक्षय, पवन, विनय और मुकेश के लिए एक फरवरी का डेथ वारंट जारी किया है।

पाकिस्तान व बांग्लादेश से आए मुसलमानों को बाहर निकाले सरकार: शिवसेना

  • सीएए का विरोध कर रही कांग्रेस और एनसीपी महाराष्ट्र सरकार में हैं सहयोगी

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। नागरिकता संशोधन कानून को लेकर देश के अलग-अलग हिस्सों में हो रहे विरोध प्रदर्शनों के बीच शिवसेना भी कूद पड़ी है। शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना में पाकिस्तानी और बांग्लादेशी मुसलमान घुसपैठियों के खिलाफ एक बार फिर से आवाज बुलंद की है। सामना में लिखा है कि देश में घुसे पाकिस्तानी और बांग्लादेशी मुसलमानों को बाहर निकालना चाहिए। इसके अलावा महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) अध्यक्ष राज ठाकरे पर भी तंज कसा गया है।
शिवसेना ने सामना में कहा कि पाकिस्तानी और बांग्लादेशी मुसलमानों को बाहर निकालने के लिए किसी राजनीतिक दल को अपना झंडा बदलना पड़े, ये मजेदार है। दूसरी बात ये कि इसके लिए एक नहीं, दो झंडों की योजना बनाना ये दुविधा या फिसलती गाड़ी के लक्षण हैं। राज ठाकरे और उनकी 14 साल पुरानी पार्टी का गठन मराठा मुद्दे पर हुआ था। लेकिन अब उनकी पार्टी हिंदुत्ववाद की ओर जाती दिख रही है। शिवसेना का बयान उस समय सामने आया है, जब नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) और नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजन्स (एनआरसी) को लेकर विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है। नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ कांग्रेस समेत अन्य विपक्षी दल एकजुट हो गए हैं। इन दलों का कहना है कि नागरिकता संशोधन अधिनियम धर्म के आधार पर भेदभाव करता है। इस कानून को सुप्रीम कोर्ट में भी चुनौती दी गई है। साथ ही इसके खिलाफ दिल्ली के शाहीन बाग समेत देश के कई हिस्सों में विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है। इसको लेकर हिंसक प्रदर्शन भी देखने को मिल चुके हैं। फिलहाल महाराष्ट्र में शिवसेना, कांग्रेस और नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) गठबंधन की सरकार है।

Loading...
Pin It

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.