बैंकों के पास डिमांड पूरी करने की पर्याप्त क्षमता: रजनीश कुमार

  • कहा, 5 ट्रिलियन डालर इकॉनमी के लिए दोगुना लोन बांटने की जरूरत

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। एसबीआई के चेयरमैन रजनीश कुमार ने 5ट्रिलियन डालर इकॉनमी पर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि बैंकों को कर्ज देने की रफ्तार को दोगुना करना होगा, तभी इस लक्ष्य को पाया जा सकता है। साल 2024 तक निर्धारित लक्ष्य पाने के लिए बैंकों को कर्ज देने की रफ्तार बढ़ानी होगी। भारतीय बैंकों के पास इंडस्ट्री के कर्ज की डिमांड को पूरा करने की क्षमता है।
रजनीश कुमार ने एसबीआई स्टाफ एसोसिएशन के 100 साल पूरे होने पर आयोजित कार्यक्रम में भी शिरकत की। यूपी में क्रेडिट डिपॉजिट (सीडी) रेशियो कम होने पर एसबीआई चेयरमैन ने कहा कि किसी भी राज्य के सीडी रेशियो का सीधा संबंध वहां के औद्योगीकरण से है। औद्योगीकरण ज्यादा होगा, तो सीडी रेश्यो ज्यादा होगा। कुछ राज्यों में सीडी रेश्यो 100 प्रतिशत से ज्यादा है, तो कुछ में 40 प्रतिशत से भी कम है। चेयरमैन ने कहा कि बैंक का पूरा जोर ग्राहक सेवाओं की बेहतरी पर है। उन्होंने कहा कि एसबीआई के 90 प्रतिशत से ज्यादा ट्रांजैक्शन ऑनलाइन बैंकिंग, नेट बैंकिंग और अन्य सेवाओं के जरिए हो रहे हैं। उन्होंने बैंकों के मर्जर पर कहा कि यह अर्थव्यवस्था के लिए बेहद जरूरी है। इस कार्यक्रम में एसोसिएशन अध्यक्ष अजय बदानी, वरिष्ठ उपाध्यक्ष केके सिंह, प्रवीण छाबड़ा, केएनएन प्रसाद, वाईके अरोरा, दिलीप चौहान आदि मौजूद रहे।

https://www.youtube.com/watch?v=Pd8jZ4rJOvA

Loading...
Pin It