शहर को जाम से निजात दिलाएंगे एलिवेटेड फ्लाईओवर, निर्माण शुरू

  • 2021 तक पूरे हो जाएंगे सभी एलिवेटेड फ्लाईओवर
  • ब्रिज कॉरपोरेशन बना रहा ग्यारह नए एलिवेटेड फ्लाईओवर और पुल
  • अगले साल तक निर्माण के पूरे होने का अनुमान, टै्रफिक सिस्टम होगा दुरुस्त

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। शहर के ट्रैफिक सिस्टम को दुरुस्त करने की कवायद शुरू हो गई है। शहर को जाम से निजात दिलाने के लिए ग्यारह नए एलिवेटेड फ्लाईओवर बनाए जाने हैं। ब्रिज कॉरपोरेशन को इसकी जिम्मेदारी दी गई है। अगले साल तक इनके निर्माण का काम पूरा होने का अनुमान है। इन फ्लाईओवरों के बन जाने से यातायात व्यवस्था सुचारू हो जाएगी।
ब्रिज कॉरपोरेशन 11 नए एलिवेटेड फ्लाईओवर का निर्माण कर रहा है। शासन स्तर से इसके जल्द निर्माण पर जोर दिया है। बताया जा रहा है कि सभी एलिवेटेड फ्लाईओवर 2021 तक पूरे हो जाएंगे। इसमें सबसे अहम शहीद पथ से एयरपोर्ट को जोडऩे वाले एलाइनमेंट में एलिवेटेड फ्लाईओवर का निर्माण भी शामिल है। इसे एक्सप्रेस-वे की तर्ज पर बनाया जा रहा है। इसकी लागत 134.69 करोड़ है। ब्रिज कॉरपोरेशन के एमडी यूके गहलोत के मुताबिक प्रस्तावित नये पुलों, आरओबी और फ्लाईओवरों का निर्माण शुरू हो गया है। सभी की लागत 802.45 करोड़ रुपये है। इसमें 602.04 करोड़ सेतु निगम ने जारी भी कर दिये है।

26 नए रेलवे ओवर ब्रिज

राज्य सेतु निगम प्रदेश में 26 नए रेलवे ओवर ब्रिज (आरओबी) बनाएगा। ये आरओबी डेडिकेटेड फेट कॉरिडोर कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (डीएफसीसीआईएल) के मार्गों पर स्थित रेलवे क्रासिंग पर बनेंगे। इस संबंध में विकास भवन में रेल मंत्रालय, डीएफसीसीआईएल और प्रदेश सरकार के बीच एमओयू साइन किया जा चुका है। सेतु निगम के मुताबिक, चंदौली में आठ, गौतमबुद्धनगर में सात, सहारनपुर में पांच, प्रयागराज में तीन, मुजफ्फरनगर में दो, कानपुर नगर, कानपुर देहात, मेरठ और औरैया में एक-एक आरओबी बनने हैं।

यहां होंगे निर्माण

लखनऊ-नगराम मार्ग के मध्य स्थित लखनऊ-सुल्तानपुर रेल खंड समपार सं. 200-बी-1/ई-2 पर दो लेन रेल फ्लाईओवर ब्रिज और मलिहाबाद के बिराहिमपुर गांव के पास बेहटा नाले पर 8.08 करोड़ की लागत से पुल बनाया जा रहा है। तुलसीदास मार्ग पर हैदरगंज तिराहा से मीना बेकरी तक दो लेन तक फ्लाईओवर व हुसैनगंज चौराहा -बांसमंडी चौराहा-नाका हिंडोला -डीएवी कॉलेज के बीच तीन लेन फ्लाईओवर, चरक चौराहा-हैदरगंज चौराहा-चरक क्रासिंग-विक्रम कॉटन मिल रोड के बीच दो लेन फ्लाईओवर का निर्माण किया जा रहा है। इसके अलावा अमौसी रेलवे स्टेशन के पास चार लेन के आरओबी का निर्माण किया जा रहा है। इस पर 97.33 करोड़ रुपये की लागत आएगी। तेतनहा-कोलवा-चंद्रिका देवी मार्ग के बीच गोमती नदी पर पुल, पहुंच मार्ग और सुरक्षात्मक निर्माण कार्य 8.64 करोड़ रुपये से किया जा रहा है। अवध विहार वृंदावन योजना मार्ग पर स्थित रेलवे पोल संख्या 1042/11 एवं 1042/13 लखनऊ-वाराणसी रेलखंड (निकट उतरेठिया रेलवे स्टेशन) पर चार लेन रेल ओवर ब्रिज 61.62 करोड़ रुपये की लागत से बनाया जा रहा है।

8.08 करोड़ की लागत से
मलिहाबाद के बिराहिमपुर गांव के पास बेहटा नाले पर बनाया जा रहा है पुल

चार लेन का रेल ब्रिज

उत्तर रेलवे के लखनऊ-बाराबंकी रेलवे लाइन किसान पथ (फैजाबाद रोड से मोहनलालगंज रोड तक) पोल सं.-1078/12 से 1018/2 के मुख्य शारदा नहर की बाईं और दाईं पटरी पर चार लेन रेल ब्रिज 132.50 करोड़ की लागत से बनाया जा रहा है।

 

Loading...
Pin It

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.