…तो ऐसे स्मार्ट सिटी बनेगी राजधानी

  • बजबजाती नालियां, सडक़ों पर पड़े गड्ढे और कूड़े के ढेर बने शहर की पहचान
  • शिकायतों के बावजूद नहीं सुधर रही व्यवस्था, हाथ पर हाथ धरे बैठे जिम्मेदार

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। राजधानी को स्मार्ट बनाने का सपना साकार होता नहीं दिख रहा है। बजबजाती नालियां, सडक़ों पर पड़े गड्ढे और जगह-जगह लगे कूड़े के ढेर सरकार के तमाम दावों की पोल खोल रहे है। शिकायत के बावजूद हालात में सुधार होता नहीं दिख रहा है। जिम्मेदार हाथ पर हाथ धरे बैठे हैं।
प्रदेश सरकार भले ही लखनऊ को स्मार्ट सिटी बनाने की कवायद कर रही हो लेकिन उसके अधिकारी ही उसकी योजनाओं को पलीता लगाने से बाज नहीं आ रहे हैं। शहर के अधिकांश क्षेत्रों की सडक़ों की हालत खस्ता है। गड्ढों के कारण सडक़ों पर चलना मुश्किल हो गया है। इन गड्ढों में गिरकर कई लोग चोटिल हो चुके हैं। यही नहीं स्वच्छता अभियान के बावजूद सडक़ों और गलियों में कूड़े के ढेर लगे हैं। इनके उठान और निस्तारण की कोई व्यवस्था तक नहीं की गई है। नाले और नालियों की हालत और भी खराब है। कई नालियां और नाले चोक हो गए हैं। पानी की निकासी नहीं होने के कारण नालियां बजबजा रही हैं। यह स्थिति तब है जब सरकार शहर की व्यवस्था के लिए भारी-भरकम बजट जारी करती है।

Loading...
Pin It

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.