सांसद हेगड़े के बयान पर शिवसेना भडक़ी, कहा, महाराष्ट्र से की गई गद्दारी

  • चालीस हजार करोड़ बचाने के लिए फडणवीस के तीन दिन के सीएम बनने का हेगड़े ने किया था दावा
  • सांसद के दावे पर सियासत गर्म भाजपा-शिवसेना में तकरार तेज

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

मुंबई। भाजपा सांसद अनंत कुमार हेगड़े के बयान पर शिवसेना ने भाजपा पर जमकर प्रहार किया है और इसे महाराष्ट्र  से गद्दारी करार दिया है। उत्तर कर्नाटक से भाजपा सांसद अनंत कुमार हेगेड़े ने कहा था कि केंद्र के 40 हजार करोड़ रुपये बचाने के लिए बहुमत न होने के बावजूद देवेंद्र फडणवीस को महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री बनाया गया था।
अनंत कुमार हेगड़े ने कहा था कि महाराष्टï्र के मुख्यमंत्री के नियंत्रण में केंद्र के 40 हजार करोड़ रुपये थे। वह जानते थे कि यदि कांग्रेस-एनसीपी और शिवसेना की सरकार सत्ता में आ जाती है तो वे विकास के बजाए रकम का दुरुपयोग करेंगे। इस वजह से यह पूरा ड्रामा किया गया। फडणवीस मुख्यमंत्री बने और 15 घंटे में केंद्र को 40 हजार करोड़ रुपये वापस कर दिए गए। हेगड़े के इस खुलासे पर शिवसेना ने तीखी प्रतिक्रिया दी है और इसे महाराष्ट्र के साथ गद्दारी करार दिया है। शिवसेना प्रवक्ता संजय राउत ने ट्वीट किया, भाजपा सांसद अनंत कुमार हेगड़े ने कहा है कि 80 घंटे के लिए मुख्यमंत्री बनकर देवेंद्र फडणवीस ने महाराष्ट्र के 40,000 करोड़ रुपये को केंद्र को दे दिया? यह महाराष्ट्र के साथ गद्दारी है। बता दें, महाराष्ट्र में 23 नवंबर की सुबह अचानक देवेंद्र फडणवीस ने मुख्यमंत्री पद की शपथ लेकर सबको चौंका दिया था। फडणवीस करीब 80 घंटे तक मुख्यमंत्री पद पर रहे और फिर बहुमत परीक्षण से एक दिन पहले उन्होंने अपना इस्तीफा राज्यपाल को सौंप दिया। इसके बाद से ही सवाल उठ रहा है कि आखिर वह इतने कम समय के लिए सीएम क्यों बने।

फडणवीस ने दी सफाई
भाजपा सांसद अनंत कुमार हेगड़े के महाराष्ट्र को लेकर किए गए खुलासे पर खुद देवेंद्र फडणवीस ने सफाई दी है। फडणवीस ने कहा है कि मैने सीएम रहने के दौरान कोई नीतिगत फैसले नहीं लिए। मुझ पर लगाए जा रहे सभी आरोप झूठे हैं।

अरुण सिंह ने राज्यसभा के लिए किया नामांकन

  • सीएम योगी आदित्यनाथ और भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्र देव रहे मौजूद
  • 12 दिसंबर को आएगा परिणाम

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। रामपुर सदर विधानसभा उपचुनाव में समाजवादी पार्टी की डॉ.तजीन फातिमा के इस्तीफे के बाद खाली राज्यसभा की सीट पर भाजपा ने दावेदारी ठोंकी है। उप चुनाव के लिए भाजपा प्रत्याशी व पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव अरुण सिंह ने आज नामांकन किया।
भाजपा के अरुण सिंह आज विधान भवन के सेंट्रल हाल में अपना नामांकन पत्र दाखिल किया। इस खाली सीट के लिए मतदान 12 दिसंबर को होगा और शाम को परिणाम घोषित किया जाएगा। नामांकन के दौरान उनके साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य व डा. दिनेश शर्मा, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, सुरेश खन्ना, ब्रजेश कुमार पाठक, डॉ महेंद्र सिंह, अनिल राजभर, उपेन्द्र तिवारी भी उपस्थित थे।

संसद में गूंजा हैदराबाद गैंगरेप-हत्याकांड

  • रक्षा मंत्री बोले, सरकार किसी भी प्रावधान के लिए तैयार

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
नई दिल्ली। हैदराबाद गैंगरेप कांड से पूरे देश में गुस्से का माहौल है। आज संसद के दोनों सदनों में हैदराबाद कांड की गूंज सुनाई दी। लोकसभा में सरकार की ओर से रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने बयान दिया। उन्होंने कहा कि इस घटना की भत्र्सना के लिए मेरे पास शब्द नहीं हैं। निर्भया कांड के बाद एक कठोर कानून बना था लेकिन उसके बाद भी जघन्य कृत्य हो रहे हैं। ऐसी घटना के लिए जो भी जिम्मेदार हैं उन्हें कठोरतम सजा दिलाने के लिए जो भी प्रावधान करना होगा, उसके लिए सरकार तैयार है।
लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने हैदराबाद घटना पर सदन की तरफ से दुख जताया। लोकसभा अध्यक्ष ने कहा कि सभी दल के सदस्यों ने मुझे अपनी भावनाओं से अवगत कराया है, ऐसी घटनाएं और अपराध हमें चिंतित भी करते हैं और आहत भी करते हैं। मिर्जापुर की सांसद अनुप्रिया पटेल ने कहा कि हम हैदराबाद गैंगरेप की निंदा करते हैं। इस घटना ने देश को शर्मसार किया है। देश की आधी आबादी सुरक्षित नहीं है। हमें अब चुप नहीं रहना है। इस मामले में राज्य सरकार रवैया बेहद दुखद रहा, एफआईआर करवाने के लिए पीडि़त परिवार को काफी कठिनाइयों से गुजरना पड़ा। वहीं राज्य सभा में सभापति वैंकेया नायडू की मौजूदगी में इस मुद्दे पर चर्चा की गई। सपा सांसद जया बच्चन ने कहा कि सरकार को अब कार्रवाई करनी चाहिए।

पीएम और रक्षामंत्री को घुसपैठिया बताने पर हंगामा
पीएम मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को घुसपैठिया बताने वाले कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी के बयान पर लोकसभा में हंगामा हुआ। भाजपा के सांसद अधीर रंजन से माफी मंगवाने पर अड़े हैं।

Loading...
Pin It

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.