मरीज की मौत पर केजीएमयू में हंगामा

  • वेंटिलेटर नहीं मिलने से नाराज थे परिजन

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। केजीएमयू में एक बार फिर वेंटिलेटर की कमी के कारण मरीज को अपनी जान गंवानी पड़ी। वेंटिलेटर खाली न होने की वजह से मरीज की मौत हो गई। घटना से नाराज परिजनों से हंगामा किया। पुलिस ने परिवारीजनों को समझाकर मामला शांत करवाया।
लखीमपुर खीरी निवासी रंजीत (28) को मंगलवार को परिवारीजन गंभीर हालत में ट्रामा सेंटर लाए थे। परिवारीजनों ने बताया कि रंजीत ने एक हफ्ते पहले नशे की हालत में खुद को चाकू से जख्मी कर लिया था। उसे पास के निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया जहां डॉक्टरों ने ऑपरेशन किया, लेकिन रक्त का रिसाव न रुकने से उसे ट्रॉमा रेफर कर दिया गया। बुधवार को डॉक्टरों ने रंजीत का दोबारा ऑपरेशन कर खून का रिसाव रोका। इस दौरान डॉक्टरों ने मरीज को वेंटिलेटर की जरूरत बताई, लेकिन किसी भी विभाग में वेंटिलेटर खाली नहीं था। पत्नी संगीता ट्रॉमा के दूसरे विभागों में गई तो उन्हें भी किसी ने खाली वेंटिलेटर की जानकारी नहीं दी। गुरुवार शाम को मरीज की मौत हो गई। इस संबंध में प्रवक्ता सुधीर सिंह का कहना है कि वेंटिलेटर की संख्या सीमित है ऐसे में खाली होने पर ही मरीज को दिया जा सकता है।

निजी कंपनी को सीवरेज की जिम्मेदारी

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। गोरखपुर, अयोध्या और सुलतानपुर में सीवरेज की बेहतर देखभाल का काम निजी क्षेत्र को देने के लिए करार हो गया है।
मेसर्स तोशिबा वाटर सॉल्यूशन प्राइवेट लिमिटेड को यह काम 10 साल के लिए दिया गया है।
इसके पहले 11 शहरों लखनऊ, आगरा, गाजियाबाद, पिलखुआ, लोनी, अनूपशहर, बिजनौर, रामपुर, मेरठ, मुजफ्रनगर और सहारनपुर का काम दिया जा चुका है। नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन, प्रमुख सचिव नगर विकास मनोज कुमार सिंह और महापौर अयोध्या व गोरखपुर की उपस्थिति में यह करार हुआ। कंपनी गोरखपुर क्षेत्र में आने वाले शहर गोरखपुर, अयोध्या और सुलतानपुर में सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट व इनसे जुड़े सभी इंफ्रास्ट्रक्चर का काम देखेगी।

हेरिटेज वॉक आठ को

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। चलत मुसाफिर के तत्वावधान में दि रेजिडेंसी में आठ दिसंबर को हेरिटेज वॉक आयोजित किया जाएगा। दास्तानगो हिमांशु बाजपेयी खुद दर्शकों को दि रेजीडेंसी की सैर कराएंगे। हिमांशु एक मशहूर दास्तानगो हैं। हिमांशु लोकप्रिय वेबसीरीज सैक्रेड गेम्स के दूसरे पार्ट में भी किस्से सुनाते नजर आए थे।
चलत मुसाफिर की फाउंडिंग एडिटर प्रज्ञा श्रीवास्तव के मुताबिक यह वॉक 2 घंटे की होगी। ये वॉक सुबह 10 बजे शुरू होगी। उन्होंने कहा कि लखनऊ से मुझे भी अगाध प्रेम है। मेरी हमेशा से ख्वाहिश थी कि लखनऊ के किसी कोने में बैठकर इसके बारे में बात की जाए। वह मौका आ गया है। दि रेजीडेंसी के अलग-अलग हिस्सों के अतीत-वर्तमान से गुजरते हुए अनोखे और दिलचस्प किस्से सुनते हुए यह दिन बीतेगा।

Loading...
Pin It

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.