टेंडर डालने वालों की स्कैनिंग करा रहा एलडीए

  • अधूरे दस्तावेज प्रस्तुत करने वाले ठेकेदार होंगे ब्लैकलिस्ट

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। लखनऊ विकास प्राधिकरण (एलडीए) वसंतकुंज योजना में अधूरे दस्तावेजों के साथ टेंडर डालने वाले ठेकेदारों की स्कैनिंग करा रहा है। यदि जांच में मानकों के अनुसार दस्तावेज नहीं मिले तो ठेकेदारों को ब्लैक लिस्ट कर दिया जाएगा। वसंतकुंज योजना में विकास कार्य के लिए निकाले गए टेंडर में किसी ठेकेदार की फर्म योग्य न मिलने पर यह फैसला लिया गया है। एलडीए की ओर से ठेकेदारों को नोटिस भेजी जा रही है।
एलडीए सचिव एमपी सिंह ने बताया कि डी-टाइप में 1125 वर्ग फुट के 180 प्लॉट आवंटित किए गए। लॉटरी में अनुसूचित जाति में 37, अनुसूचित जनजाति में तीन, अन्य पिछड़ा वर्ग में 48, स्वतंत्रता संग्राम सेनानी व एमपी-एमएलए वर्ग में 9, 50 साल से अधिक वाले सरकारी कर्मचारियों के वर्ग में नौ, एलडीए, जल संस्थान, नगर निगम के कर्मचारियों के वर्ग में तीन, भूतपूर्व सैनिक वर्ग में 5 और अनारक्षित वर्ग में 66 आवेदकों को प्लॉट मिले। इस योजना में सडक़, नाली, बिजली, सीवर व अन्य विकास कार्यों के लिए टेंडर निकाले गए थे। सात फर्मों ने टेंडर डाला, लेकिन किसी ने अर्हता पूरी नहीं की। ज्यादातर ठेकेदारों ने आधे अधूरे दस्तावेज लगाए हैं। एलडीए के चीफ इंजीनियर इंदुशेखर सिंह ने बताया कि ठेकेदारों की फर्म एलडीए में पंजीकृत हैं। उन्हें सभी औपचारिकताओं की जानकारी है। इसके बावजूद लापरवाही बरती गई। इसलिए कार्रवाई जरूर होगी।

नगर निगम: गोबर से बनाएगा सीएनजी और पीएनजी

  • हर महीने होगी 25 से 30 लाख की आमदनी, शासन को भेजा प्रस्ताव

लखनऊ। (4पीएम न्यूज़ नेटवर्क) नगर निगम गोबर से आमदनी बढ़ाने के लिए बॉयोगैस सीएनजी व पीएनजी बनाने की तैयारी कर रहा है। इसके लिए पीपीपी मॉडल पर प्रस्ताव तैयार कर शासन को भेज दिया गया है। एक अनुमान के मुताबिक नगर निगम को इस योजना से हर माह करीब 25 से 30 लाख रुपये की आय होगी। इस योजना में तीन कंपनियों ने रूचि दिखाई है। नगर निगम अफसरों ने पीपीपी मॉडल पर तैयार प्रस्ताव को प्रशासन को भेजा है। दरअसल, नगर निगम के पास दस हजार से अधिक की सख्ंया में गौवंश हैं। इसलिए इस प्रोजेक्ट से नगर निगम को बिना पैसा इनवेस्ट किए ही 25 से 30 लाख रुपये की आय हो जाएगी। प्राइवेट पार्टी राजस्व शेयरिंग मॉडल में निवेश करेगी। महाराष्ट्र और फिरोजाबाद की तीन कंपनियों ने इस प्रोजेक्ट में रुचि दिखाई है। प्रोजेक्ट पर मार्च 2020 तक काम शुरू कर दिया जाएगा। नगर निगम गाय के गोबर से कई और प्रोजेक्ट शुरू करने की तैयारी कर रहा है। इससे पिछले साल नगर निगम ने अंतिम संस्कार के लिए गोबर से लकड़ी के लट्ठे बनाने शुरू किए थे।

Loading...
Pin It

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.