गौ आश्रय केंद्र की अव्यवस्था पर डीएम ने मुख्य पशु चिकित्साधिकारी से किया जवाब तलब, मांगी रिपोर्ट

  • डीएम ने कान्हा उपवन और वृहद गौ आश्रय केंद्र का किया निरीक्षण, व्यवस्था दुरुस्त करने के निर्देश

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने निराश्रित गौवंश के दो आश्रय केंद्र कान्हा उपवन और वृहद गौ आश्रय केंद्र अमौसी का निरीक्षण किया। जिलाधिकारी ने केंद्रों की व्यवस्था सुधारने के निर्देश दिए। अमौसी केंद्र में अव्यवस्था मिलने पर जिलाधिकारी ने मुख्य पशु चिकित्साधिकारी से जवाब तलब किया है। साथ ही 15 दिनों में जिले के सभी गौ आश्रय केंद्रों की व्यवस्था दुरुस्त कर रिपोर्ट तलब की है।
जिलाधिकारी ने अमौसी स्थित वृहद गौ आश्रय केंद्र का निरीक्षण किया। यहां गेट का निर्माण और सीसीटीवी कैमरों की व्यवस्था कराने के निर्देश दिए। आश्रय केंद्र की क्षमता 400 पशुओं की है परन्तु वर्तमान में केवल 50 गौवंश और 7 बछड़े पाए गए। जिस पर जिलाधिकारी ने नाराजगी जताई और कहा कि चार दिनों में केंद्र में शत प्रतिशत पशुओं की मौजूदगी सुनिश्चित करें। किसी भी हाल में गौवंश के संबंध में शिथिलता बर्दाश नही की जाएगी। निरीक्षण में गोदाम में पर्याप्त मात्रा में भूसा नहीं पाया गया और चारे की गुणवत्ता भी अच्छी नहीं पाई गई और साथ ही परिसर में पर्याप्त साफ सफाई भी नहीं पाई गई, जिसके लिए जिलाधिकारी द्वारा नाराजगी व्यक्त की गई और मुख्य पशु चिकित्साधिकारी को स्पष्टीकरण जारी करने के निर्देश दिए गए। साथ ही अगले 15 दिनों में जनपद के समस्त गौ आश्रय केंद्रों पर मानकों एवं शासनादेशों के अनुरूप समस्त व्यवस्थाएं कर अवगत कराने का निर्देश दिया गया। इसके पहले जिलाधिकारी कान्हा उपवन पहुंचे थे। उन्होंने निर्देशित किया कि किसी भी बाड़े में 100 से अधिक पशुओं को नहीं रखा जाए। निरीक्षण में चारे की गुणवत्ता संतोषजनक व उचित पेयजल व्यवस्था पाई गई। गोदाम में पर्याप्त मात्रा में भूसा पाया गया। सर्दी के मौसम को देखते हुए सभी बाड़ों में तिरपाल और अलाव की व्यवस्था करने के निर्देश दिए गए।

Loading...
Pin It

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.