प्याज की जमाखोरी करने वालों से सख्ती से निपटें: राजेन्द्र कुमार

  • जनता को न्यूनतम दर में प्याज उपलब्ध कराने के निर्देश

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। प्याज की बढ़ती कीमतों पर नियंत्रण करने के लिए जमाखोरी करने वालों के खिलाफ अभियान चलाने के निर्देश मुख्य सचिव ने दिए हैं। मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी ने गुरुवार को बैठक कर अधिकारियों को निर्देश दिए कि प्रदेश की जनता को हर हाल में न्यूनतम दरों पर प्याज उपलब्ध कराई जाए। साथ ही महाराष्ट्र, राजस्थान और मध्य प्रदेश समेत दूसरे राज्यों से प्याज का आयात कराने के निर्देश अधिकारियों को दिए गए हैं।
प्रमुख सचिव, उद्यान एवं खाद्य प्रसंस्करण, खाद्य आयुक्त एवं निदेशक, मण्डी के साथ हुई बैठक में निर्देश दिए कि जनता को सस्ती प्याज मुहैया कराने के लिए क्या कदम उठाए जा रहे हैं। इसकी प्रगति रिपोर्ट रोजाना उन्हें भेजी जाए। बैठक में प्रमुख सचिव उद्यान सुधीर गर्ग, खाद्य आयुक्त मनीष चौहान समेत कई अधिकारी मौजूद रहे।

अब आरटीओ से हाथों हाथ मिलेंगे वापस लौटे डीएल

  • 13 नवंबर से कर सकते हैं संपर्क

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। जिन आवेदकों के ड्राइविंग लाइसेंस डाक से वापस आ गए हैं। उन आवेदकों को डीएल अब हाथों हाथ मिलेंगे। ऐसे डीएल आवेदकों को अपने जनपद से परिवहन आयुक्त मुख्यालय लखनऊ आने की जरूरत नहीं है। छह माह के दौरान वापस लौटे करीब 18 हजार डीएल को दोबारा संबंधित जिले के आरटीओ कार्यालय भेज दिया गया है। जहां अगले सप्ताह 13 नवंबर से आवेदक पते का प्रमाण दिखाकर डीएल ले सकेंगे।
परिवहन विभाग के अपर परिवहन आयुक्त (आईटी सेल) वीके सिंह ने बताया कि पते में गड़बड़ी होने की वजह से काफी संख्या में डीएल वापस आ गए थे। ऐसे डीएल की सूची बनाकर वापस संबंधित आरटीओ कार्यालय भेजा जा रहा है। अगले सप्ताह से वेबसाइट पर ब्यौरा अपलोड हो जाएगा। जहां डीएल आवेदक अपना नाम देखने के बाद संबंधित आरटीओ कार्यालय जाकर वहां पते का प्रमाण दिखाकर डीएल हाथों हाथ ले सकेंगे। बता दें, लखनऊ में करीब पांच हजार डीएल डाक से वापस लौटकर आए हैं।

Loading...
Pin It

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.