अब जनवरी में होगा लखनऊ महोत्सव

  • यूपी दिवस के मद्देनजर आगे बढ़ाई गई डेट

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। लखनऊ महोत्सव के आयोजन स्थल और तारीख में बदलाव किया गया है। 25 नवंबर से 5 दिसंबर तक होने वाला महोत्सव इस बार 12 जनवरी से 24 जनवरी तक आयोजित होगा। पिछले वर्ष आशियाना स्थित स्मृति उपवन में आयोजित होने वाला महोत्सव अब गोमतीनगर में इकाना स्टेडियम के पीछे होगा।
डीएम की अध्यक्षता में हुई लखनऊ महोत्सव समिति की बैठक में महोत्सव की डेट आगे बढ़ाने का फैसला लिया है। बदलाव की वजह 24 जनवरी को होने वाला यूपी दिवस बताया जा रहा है। बदलाव से संस्कृति प्रेमियों का इंतजार बढऩे के साथ ही हस्तशिल्पियों, कलाकारों और स्टॉल संचालकों को खासी दिक्कत होगी। वहीं, पर्यटन विभाग व उससे जुड़े विभागों के लिए भी नए सिरे से तैयारी करना चुनौती भरा होगा। महोत्सव की डेट आगे बढऩे से पर्यटन समेत अन्य विभागों को नए सिरे से तैयारियां करनी होंगी। इसके लिए हस्तशिल्पियों, कलाकारों और अन्य स्टॉल संचालकों के साथ तालमेल बैठाना भी चुनौती होगा। देश के अन्य महोत्सवों और विभिन्न आयोजनों में जाने वाले कलाकारों और हस्तशिल्पियों में भी बदलाव से हलचल शुरू हो गई है। क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी अनुपम श्रीवास्तव के अनुसार बदलाव के मद्देनजर महोत्सव से जुड़े सभी लोगों से सामंजस्य बैठाने के प्रयास किए जा रहे हैं। उत्तर प्रदेश दिवस भी 24 जनवरी को महोत्सव में मनाने की योजना है।

सोशल मीडिया पर गलत टिप्पणी की तो जाएंगे जेल: प्रवीण कुमार

  • आईजी की अपील, भावुकता में बहकर न करें कोई टिप्पणी

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। अयोध्या केस के फैसले के मद्देनजर यूपी सरकार ने अयोध्या के चप्पे-चप्पे पर नजर जमा दी है। ड्रोन से अयोध्या शहर की निगरानी की जा रही है। अयोध्या को लेकर स्थानीय प्रशासन ने कई शांति कमेटियां बनाई हैं। इन कमेटियों में शामिल लोग जिले के गांवों में जाकर लोगों से शांति और प्रेम बनाए रखने की अपील कर रहे हैं। पुलिस प्रशासन जनसहयोग के जरिये भी शांति-व्यवस्था बनाए रखने की पुरजोर कोशिश कर रहा है। अफवाहें न फैले लिहाजा सोशल मीडिया पर टिप्पणी करने वालों से सख्ती से निपटने के निर्देश हैं।
आईजी प्रवीण कुमार ने अपील की है कि युवाओं को चाहिए कि वह सोशल मीडिया पर भावुकता में बहकर कोई ऐसी टिप्पणी न करें जिससे कहीं बवाल हो जाए। ऐसी स्थिति में उनकी गिरफ्तारी की जा सकती है। इसके लिए आईपीसी की धारा 153, 153 ‘ए’, 505 (2), 295 के तहत कार्रवाई की जाएगी।

Loading...
Pin It

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.