अयोध्या पर सुप्रीम कोर्ट के संभावित फैसले को लेकर पुलिस-प्रशासन अलर्ट, सोशल मीडिया पर नजर

  • आला अधिकारियों ने जनपद स्तरीय शांति समिति की बुलाई बैठक, लोगों से की सहयोग की अपील

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। सुप्रीम कोर्ट द्वारा अयोध्या पर आने वाले संभावित फैसले को देखते हुए पुलिस-प्रशासन पूरी तरह सतर्क है। इसी क्रम में कलेक्ट्रेट सभागार में सोमवार को एडीजी एसएन साबत, आईजी एसके भगत, मंडलायुक्त मुकेश मेश्राम, जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी ने शांति व्यवस्था एवं अन्य संवेदनशील मामलों पर विचार विमर्श के लिए वृहद जनपद स्तरीय शांति समिति की बैठक बुलाई और सभी से शांति व्यवस्था में सहयोग की अपील की। साथ ही माहौल बिगाडऩे वालों को नहीं बख्शने की चेतावनी भी दी।
एडीजी एसएन साबत ने कहा कि व्हाट्सएप सहित सोशल मीडिया पर अफवाहें फैलाने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। अतिसंवेदनशील क्षेत्रों में सीसीटीवी कैमरों की व्यवस्था की जा रही है। साथ ही आवश्यकता पडऩे पर ड्रोन कैमरों से भी निगरानी की जाएगी। आईजी एसके भगत ने लोगों से अफवाहों पर ध्यान नहीं देने की अपील की। मंडलायुक्त मुकेश मेश्राम ने कहा कि सभी नागरिक गंगा जमुनी तहजीब के तहत भाईचारे के साथ रहें। यदि कोई समस्या या विवाद दिखे तो इसकी सूचना तत्काल प्रशासन को दें। उन्होंने बताया कि कई पड़ाव के बाद यह फैसला सुप्रीम कोर्ट के द्वारा दिया जाएगा। सभी पक्ष को फैसले का स्वागत करना चाहिए। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी ने बताया कि जनपद में शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए सेल बनाया गया है जिसका हेल्पलाइन नम्बर 9454405156 हैं। इस पर कोई भी व्यक्ति गोपनीय जानकारी उपलब्ध करा सकता है।

सभी को करना चाहिए फैसले का सम्मान: डीएम
जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने कहा कि कुछ दिनों में देश की सर्वोच्च अदालत द्वारा एक महत्वपूर्ण फैसला आने वाला है। फैसला चाहे किसी भी पक्ष में आए सभी पक्षों को फैसले का सम्मान करना चाहिए। कोई भी पक्ष फैसले पर न तो जश्न मनाएगा और न ही विरोध करेगा।

Loading...
Pin It

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.