जनसंख्या अधिक होगी तो अपराध की संख्या भी बढ़ेगी: सिद्धार्थ

  • कहा, एनसीआरबी के आंकड़ों पर राजनैतिक रोटियां सेंकने में जुटा विपक्ष

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार के प्रवक्ता सिद्धार्थ नाथ सिंह का कहना है कि विपक्ष द्वारा राष्ट्रीय क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) 2017 के अपराध आंकड़े जनता के बीच तोड़-मरोड़ कर पेश किए जा रहे हैं। विपक्ष, विशेष तौर पर प्रियंका गांधी वाड्रा और अखिलेश यादव बिना समुचित अध्ययन किए राजनैतिक रोटियां सेंकने का प्रयास कर रहे हैं। जबकि एनसीआरबी के आंकड़ों को समझने के लिये जनसंख्या के आधार पर अपराध का अनुपात निकाला जाना चाहिए।
सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा कि जिन प्रदेशों की जनसंख्या अधिक है, वहां पर अपराध भी अधिक घटित व पंजीकृत होते हैं। अपराध की स्थिति समझने के लिए क्राइम रेट एक अच्छा एवं विश्वसनीय संकेतक है। एनसीआरबी के मुताबिक क्राइम रेट को प्रति एक लाख जनसंख्या के सापेक्ष अपराधों की संख्या के रूप में परिभाषित अपराध दर एक सार्वभौमिक वास्तविक संकेतक है। यह राज्य के आकार और जनसंख्या में वृद्धि के प्रभाव को संतुलित करता है अर्थात जिस प्रदेश में जनसंख्या अधिक होगी, वहां अपराध की संख्या भी अधिक होगी। राज्य सरकार के प्रवक्ता ने कहा कि इस प्रकार अपराध की दर ही अपराधों की सही स्थिति समझने के लिए वास्तविक संकेतक है। अपराध दर प्रदेश की प्रति लाख जनसंख्या के आधार पर निकाली जाती है। उन्होंने कहा कि योगी सरकार में महिलाओं की स्थिति काफी सुदृढ़ हुई है। वर्तमान समय में प्रदेश की महिलाएं स्वयं को पूर्व की अपेक्षा अधिक सुरक्षित महसूस कर रही है।

महिलाओं की सुरक्षा के मामले में सख्त कदम उठाने की जरूरत: मायावती

  • कहा, एनसीआरबी के आंकड़ों से देश और दुनिया में धूमिल हो रही छवि

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने अपराधों को लेकर जारी एनसीआरबी के आंकड़ों पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। मायावती ने कहा कि एनसीआरबी के आंकड़ों से देश और दुनिया में भारत की छवि को नुकसान पहुंचेगा। यह बड़े ही दुख और चिंता की बात है। इस मामले में सरकार को सख्त कदम उठाने की जरूरत है। मायावती ने ट्विटर पर लिखा कि इन आंकड़ों से स्पष्ट है कि देश में हर प्रकार के अपराधों में खासकर महिला सुरक्षा के मामले में केन्द्र व राज्य सरकारों को पूरी ईमानदारी के साथ बहुत कुछ करने की सख्त जरूरत है। यूपी का सबसे ज्यादा बुरा हाल है और यह तब है जब केन्द्र व राज्य में भी एक ही पार्टी बीजेपी की सरकार है। यह भी कहा कि नेशनल क्राइम रिकार्ड ब्यूरो ने काफी विलम्ब के बाद अपराधों के सम्बंध में जो आंकड़े देश-दुनिया के सामने पेश किए हैं वे आज मीडिया जगत में स्वाभाविक तौर पर बड़ी-बड़ी सुर्खियों में हैं तथा वे भारत की छवि को बेहतर बनाने वाले हरगिज नहीं हैं जो बड़े दु:ख व चिन्ता की बात है। इन आंकड़ों को लेकर सपा और कांग्रेस भी लगातार योगी सरकार को घेर रही है।

जनता का ध्यान भटकाने के लिए दीपोत्सव मना रही योगी सरकार: प्रमोद तिवारी

  • कहा, प्रदेश में बेरोजगारी और बढ़ते अपराधों से त्रस्त हैं लोग

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने कहा है कि बेरोजगारी, बदहाली और बढ़ते अपराधों से लोगों का ध्यान भटकाने के लिए अयोध्या में योगी सरकार तीसरे भव्य दीपोत्सव का आयोजन कर रही है। इस काम में पूरी सरकारी मशीनरी को लगा दिया गया है। जबकि प्रदेश में कानून-व्यवस्था ध्वस्त है और रोजगार भी नहीं है, लेकिन करोड़ों रुपये खर्च कर दीपोत्सव मनाना है। उन्होंने सवाल किया कि प्रदेश के गरीब और बदहाल किसान किस तरह दीपोत्सव मनाएंगे।
प्रमोद तिवारी ने काशी विश्वनाथ कॉरीडोर पर कहा कि कॉरिडोर के नाम पर विध्वंस किया जा रहा है। सदियों पुराने मंदिर तोड़े गये, जिससे लोग आहत हैं। विकास के नाम पर विध्वंस किया जा रहा है। वहीं यूपी में गठबंधन के सवाल पर प्रमोद तिवारी ने कहा कि सपा का ये व्यक्तिगत निर्णय है कि वो किसके साथ गठबंधन करती है। कांग्रेस पार्टी प्रियंका के नेतृत्व में यूपी में मजबूत हो रही है। दरअसल, दिवाली से एक दिन पहले 26 अक्टूबर को सूबे की योगी सरकार अपना तीसरा दीपोत्सव रामनगरी अयोध्या में मनाने जा रही है। इसकी सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। इस बार अयोध्या में पांच लाख 51 हजार दीप जलाए जाएंगे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उनकी पूरी कैबिनेट इस दीपोत्सव की साक्षी बनेगी। मुख्यमंत्री खुद तैयारियों का जायजा ले रहे हैं। इतना ही नहीं वे इसके लिए अयोध्या भी जा रहे हैं।

फर्रूखाबाद में भाजपा विधायक मेजर सुनील दत्त द्विवेदी के आवास के पास विस्फोट

  • जांच में जुटी फोरेंसिक टीम, दहशत में लोग

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। फर्रूखाबाद में आज सुबह भाजपा विधायक मेजर सुनीलदत्त द्विवेदी के आवास से कुछ दूरी पर विस्फोट होने से दहशत फैल गई। धमाका इतना तेज था कि आसपास के घरों की खिड़कियां हिल गईं। आनन-फानन में लोग घरों से बाहर आ गये। कूड़े के ढेर में हुए विस्फोट पर पुलिस ने प्राथमिक जांच में एक साथ अनेकों पटाखे फूटने की आशंका जताई है। हालांकि फोरेंसिक टीम ने जांच शुरू कर दी है।
जानकारी के मुताबिक फर्रूखाबाद के मोहल्ला सेनापति में भाजपा विधायक का आवास है। उनके आवास से करीब दो सौ कदम की दूरी पर आज सुबह करीब आठ बजे राजेश उर्फ तिन्ना के घर के सामने कूड़े का ढेर लगा था। इसमें किसी ने आग लगा दी तो कुछ ही देर में उसमें विस्फोट हो गया। धमाका इतना तेज था कि आसपास के मकानों के खिडक़ी दरवाजे, फर्श, तक टूट गए और छत का प्लास्टर टूटकर नीचे आ गिरा। वहीं सेवानिवृत बैंककर्मी अवधेश अवस्थी के घर में खिडक़ी का टूटा शीशा ऊपर गिरने से बच्ची श्रेया लहूलुहान हो गई। रास्ते से गुजर रहीं पूनम वर्मा चेहरे पर कांच लगने से चोटिल हो गईं। धमाके के बाद पूरे मोहल्ले में दहशत फैल गई और लोग घरों से बाहर आ गए। वहीं मौके पर पहुंची पुलिस ने घटनास्थल पर छानबीन और लोगों से पूछताछ की। फोरेंसिक टीम और डाग स्क्वायड ने साक्ष्य जुटाए। अपर पुलिस अधीक्षक त्रिभुवन सिंह ने कहा कि प्राथमिक जांच में आतिशबाजी का धमाका होने की आशंका बनी है। फारेंसिक टीम से जांच कराई जा रही है।

गांगुली ने संभाला क्चष्टष्टढ्ढ के अध्यक्ष का पदभार

  • बीसीसीआई ने ट्विटर हैंडल पर किया आधिकारिक ऐलान

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
नई दिल्ली। टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली को आधिकारिक तौर पर भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी बीसीसीआई के अध्यक्ष पद की कमान मिल गई है। एनुअल जनरल मीटिंग(एजीएम) से पहले सौरव गांगुली को बोर्ड का पूर्णकालिक अध्यक्ष चुन लिया गया है। इस बात का ऐलान बीसीसीआई ने ट्विटर हैंडल के जरिए किया है। वहीं सौरभ गांगुली ने बीसीसीआई हेड क्वार्टर पहुंचकर अपना पदभार ग्रहण कर लिया है।
मुंबई स्थिति बीसीसीआई के हेड क्वार्टर पर आज सुबह पहुंचे सौरभ गांगुली का जोरदार स्वागत किया गया। बीसीसीआई ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर सौरव गांगुली की कुछ तस्वीरें शेयर की हैं, जिसमें वे बोर्ड अध्यक्ष पद का पत्र संभाल रहे हैं।

Loading...
Pin It

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.