वरिष्ठ नागरिकों का पंजीकरण करेगी पुलिस: ओपी सिंह

  • डीजीपी ने पुलिस कप्तानों को दी डायल 112 की खास जानकारी

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। डीजीपी ओपी सिंह ने सोमवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग करके पुलिस कप्तानों को बताया कि डायल 100 की तुलना में डायल 112 कैसे उन्नत है। यह जरूरतमंदों और खासकर वरिष्ठ नागरिकों के लिए कैसे लाभदायक साबित हो सकती है। इस पर विस्तार से जानकारी दी। साथ ही सामुदायिक पुलिसिंग की योजना पर भी विस्तार से चर्चा की। डीजीपी ने एडीजी कानून-व्यवस्था पीवी रामाशास्त्री, एडीजी रेलवे संजय सिंघल, एडीजी टेक्निकल सर्विस व यूपी 100 असीम अरुण और आईजी कानून-व्यवस्था प्रवीण कुमार के साथ अपने कार्यालय से ही वीडियो कांफ्रेंसिंग की।
डीजीपी ने कहा कि अब तक यूपी 100 की कार्यप्रणाली का आधार प्रतिक्रियाशील था, जिसमें 100 नंबर पर कॉल करने वाले नागरिक की समस्या और लोकेशन पूछकर मौके पर पुलिस भेजी जाती थी और समस्या का समाधान कराया जाता था। अब इच्छुक नागरिकों का पंजीकरण किया जाएगा ताकि उनके कॉल करने पर पहले से उनकी पहचान, संभावित लोकेशन और समस्या से पीआरवी पर तैनात पुलिसकर्मी परिचित हों। डीजीपी ने कहा कि इस कोशिश में सबसे पहले वरिष्ठ नागरिकों का पंजीकरण किया जा रहा है। वर्ष 2019 में यूपी 100 द्वारा वरिष्ठ नागरिक संबंधी कुल 2.47 लाख मामलों में आपातकालीन सहायता पहुंचाई गई।

केंद्रीय करों में यूपी का शेयर न घटाएं: कांग्रेस

  • एससी-एसटी, ओबीसी के लिए विशेष धनराशि की मांग

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। कांग्रेस ने 15वें वित्त आयोग के प्रतिनिधिमंडल से केन्द्रीय करों में यूपी का शेयर कम न करने का अनुरोध किया है। पूर्व केन्द्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद और डा. अनूप पटेल ने प्रतिनिधिमंडल को सुझाव दिया कि 14वें वित्त आयोग ने केन्द्रीय करों में से 42 प्रतिशत धनराशि देने का निर्धारण किया था लेकिन प्रदेश का शेयर घटाकर 17.95 प्रतिशत कर दिया गया। यह प्रदेश का बड़ा नुकसान था। पार्टी ने प्रदेश के शिक्षा, स्वास्थ्य, सुरक्षा, ऊर्जा, कृषि, सिंचाई, शहरी तथा ग्रामीण विकास, परिवहन तथा अनुसूचित जाति/जनजाति, पिछड़ा वर्ग और अल्पसंख्यक वर्गों के कल्याण के लिए विशेष धनराशि आवंटित किये जाने का निवेदन किया। उन्होंने ग्रामीण अर्थव्यवस्था, शिक्षा की बेहतरी और रोजगार का मुद्दा भी उठाया।

Loading...
Pin It

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.