फर्जी एनकाउंटर से जनता आक्रोशित: अखिलेश

  • कहा, युवाओं की प्रगति में लैपटॉप की अहम भूमिका

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने फर्जी एनकाउंटर को लेकर प्रदेश सरकार पर जमकर निशाना साधा है। अखिलेश यादव ने झांसी यात्रा के बाद कहा कि जनता बढ़ते अपराधों और फर्जी एनकाउंटर से आक्रोशित है। झांसी में पुष्पेन्द्र यादव की फर्जी एनकाउंटर में हत्या और सेना में नौकरी करने वाले उसके भाई के खिलाफ झूठा मुकदमा दर्ज कर पुलिस ने अपना असली चेहरा लोगों को दिखा दिया है। वहीं सरकार में उच्च पदों पर बैठे अधिकारी फर्जी एनकाउंटर करने वाले इंस्पेक्टर को बचाने और हत्या को एनकाउंटर बताने की हर संभव कोशिश में जुटे हैं। जो अपराध और अपराधियों के प्रति उनकी नीयत को स्पष्ट करता है।
अखिलेश यादव ने अपनी झांसी यात्रा के दौरान दिखी पुष्पेन्द्र यादव के गांव की बदहाली का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि पुष्पेन्द्र के गांव पहुंचने के लिए बेतवा नदी को पार करना पड़ता है। इस गांव तक पहुंचने के लिए बेतवा नदी पर कोई पुल नहीं है। एक रपटा है जो काफी खतरनाक है। वाहनों की कतार के साथ गुजरने पर तो तमाम आशंकाएं घेर लेती है। इन सबके बावजूद सपा मुखिया पुष्पेन्द्र के घर पहुंचे और परिजनों से मिलकर न्याय दिलाने का आश्वासन दिया। वहीं बरूआ सागर क्षेत्र के जिन युवाओं को सपा सरकार में लैपटॉप दिए गए थे, उनके परिवारों से मुलाकात कर लैपटॉप की उपयोगिता के बारे में पूछा तो सबने एक स्वर में कहा कि युवाओं की प्रगति में लैपटॉप की भूमिका अहम है।

सूखे और बाढ़ से किसान बदहाल

अखिलेश यादव ने कहा कि बुन्देलखण्ड में पहले सूखा और बरसात में बाढ़ के कारण फसलें तबाह हो चुकी हैं। किसान बदहाल हो गये हैं। यहां ज्वार, बाजरा, तिल, मोठ, अरबी की फसलें होती हैं। बरूआ सागर में हल्दी और अदरक की आढ़तें हैं। ये सभी फसलें नष्ट हो गई हैं। कर्ज के बोझ से दबे किसानों को आत्महत्या के अलावा दूसरा रास्ता नहीं सुझ रहा है। फसलों का किसानों को लाभप्रद मूल्य तो छोडि़ए न्यूनतम समर्थक मूल्य भी नहीं मिल रहा है। भाजपा सरकार उनके हालात से बेपरवाह है।

Loading...
Pin It

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.