शहर के पार्कों को हरा भरा बनाने की तैयारी में नगर निगम

  • कम खर्च में काम पूरा करने की योजना
  • बदहाल पार्कों में पचास प्रतिशत को नगर निगम और पचीस-पचीस प्रतिशत को एलडीए और आवास विकास संवारेगा

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

DJLÀF¼ªFF³F´F¼S ¸FZÔ d¨F»OѳF ´FFIÊY A´F³Fe WF»F°F ¶F¹FFÔ IYS°FZ W¼EÜ

लखनऊ। अब शहर के अविकसित पार्कों को हरा भरा किया जाएगा। जिससे आपके घर के सामने उजाड़ पड़े पार्क में भी फूल खिलखिलाते नजर आएंगे। यही नहीं चारों तरफ हरियाली नजर आएगी तो बारिश का पानी भूजल की गगरी को भरने का काम करेगा। पहली बार एक साथ शहर के हजार पार्कों को संवारा जा रहा है। यह वे पार्क हैं, जहां सरकारी योजनाओं की परछाई तक नहीं पड़ी और जनप्रतिनिधियों ने भी उनसे मुंह मोड़ रखा था। नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन की पहल पर मृत पड़े पार्कों को फिर जीवित किया जाएगा। ऐसे बदहाल पार्कों में पचास प्रतिशत को नगर निगम और पचीस-पचीस प्रतिशत को एलडीए और आवास विकास परिषद संवारेंगे।
नगर निगम ने पार्कों को हरा भरा करने का खाका तैयार कर लिया है। आवास विकास परिषद और एलडीए की योजनाओं से हस्तांतरित पार्कों की देखभाल का जिम्मा भी तय हो गया है। ये पार्क आवास विकास परिषद को ही संवारने होंगे। एलडीए की गोमतीनगर कालोनी, विकल्प खंड, विराज खंड, जानकीपुरम के कई खस्ताहाल पार्क शामिल हैं। आवास विकास परिषद की वृदांवन कॉलोनी के पार्क भी कबाडख़ाना बन गए हैं। नगर आयुक्त डॉ. इंद्रमणि त्रिपाठी ने बताया कि पार्कों को संवारने का प्लान तैयार हो रहा है। सभी पार्कों में यह देखा जा रहा है कि उसे कम खर्च में कितना अच्छा बनाया जा सके। यह भी प्रयास हो रहा है कि संवारने के बाद पार्क की देखभाल आवासीय समितियों को ही दे दिया जाएगा। नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन ने पार्कों को सुधारने के निर्देश दिए हैं। साथ ही यह भी कहा कि पार्क बदहाल होने से उसका प्रभाव पूरे इलाके पर दिखता है। लोग सुबह और शाम को टहलने की जगह तलाश करते हैं। बच्चे भी पार्क में खेलने नहीं जा पाते हैं। इसलिए निर्णय लिया गया है कि शहर के सभी पार्कों को संवारा जाएगा। फिलहाल एक हजार पार्क चिन्हित किए गए हैं, जिन्हें संवारा जाएगा। हर पार्क में फूलदार पौधे लगाने के साथ एक-दो जगह छायादार पौधे भी लगाए जाएंगे। पार्क के भीतर चारों तरफ मौरंग और सुर्खी से पथ बनाए जाएंगे। इससे एक लाभ यह भी होगा कि बारिश के पानी का संचयन हो सकेगा।

पार्कों से हटेगी पार्किंग और अतिक्रमण

शहर में तमाम इलाके ऐसे हैं जहां पार्कों को लोगों ने गैराज के रूप में इस्तेमाल करना शुरू कर दिया है। इन लोगों ने अपनी सुविधा के लिए पार्कों की दीवारें तोडक़र उनमें गाडिय़ां खड़ी कर दी हैं। इसमें गोमती नगर अलीगंज स्थित शेखुपुरा राजाजीपुरम समेत तमाम इलाके हैं। जहां पार्कों में गाड़ी खड़ी देखी जा सकती हैं। उद्यान अधीक्षक गंगा राम गौतम का कहना है कि ऐसे पार्कों को चिन्हित कर अतिक्रमण हटाया जाएगा और उनको हरा-भरा किया जाएगा। इसके लिए व्यापक स्तर पर पौधरोपण भी होगा। इस काम में एलडीए और आवास विकास भी सहयोग करेगा।

Loading...
Pin It

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.