गोमती नगर विस्तार में प्लास्टिक मुक्त संदेश के साथ रावण दहन की तैयारी

  • विस्तार में लगे मां के शानदार पंडाल को देखने पूरे लखनऊ से आ रहे हैं लोग

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। गोमती नगर विस्तार में पिछले 5 वर्षों से होने वाली दुर्गापूजा इस बार कुछ होगी। दुर्गापूजा के अंतर्गत होने वाले विभिन्न कार्यक्रमों के माध्यम से समाज को स्वच्छता का संदेश दिया जायेगा। यह दुर्गापूजा 7 अक्टूबर तक चलेगी। इसके बाद 8 अक्टूबर को रावण दहन और भव्य भंडारे का आयोजन किया जाएगा।
गोमती नगर विस्तार महासमिति के सचिव उमाशंकर दुबे ने बताया कि 2 अक्टूबर को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती थी। समिति की ओर से गांधी जयंती पर स्वच्छता का संकल्प लिया गया था और उसी दिन तय किया गया था कि इस बार माता दुर्गा की पूजा के साथ टीम स्वच्छता का संकल्प भी लेगी। इसी उद्देेश्य से इस बार गोमती नगर विस्तार में हो रही दुर्गापूजा का थीम ‘स्वच्छता’ रखा गया है। महासमिति के सचिव ने बताया कि स्वच्छता के साथ ही रावण दहन का थीम ‘प्लास्टिक मुक्त लखनऊ’ रखा गया है । इस थीम के माध्यम से विस्तार के लोग प्लास्टिक रूपी रावण का न सिर्फ दहन करेंगे बल्कि प्लास्टिक का त्याग भी करेंगे। इस आयोजन में कहीं भी प्लास्टिक का प्रयोग नहीं किया जा रहा है। खासकर भंडारे में 5 हजार से अधिक लोग प्रसाद ग्रहण करेंगे लेकिन पूरे भंडारे में एक भी प्लास्टिक का कोई इस्तेमाल नहीं होगा।
फिलहाल गोमतीनगर विस्तार में दुर्गापूजा के कार्यक्रमों का शुभारंभ हो चुका है। इस कार्यक्रम में प्रतिदिन डांडिया का आयोजन किया जाएगा। साथ ही बच्चों के लिए विभिन्न प्रतियोगिताएं आयोजित की जा रही हैं। इसमें 5 अक्टूबर को मशहूर भोजपुरी फिल्म स्टार व गायक समय सिंह अपनी पूरी टीम के साथ मौजूद रहेंगे। बाम्बे के मशहूर फिल्म निर्देशक संजय सिंह भी आयोजन में मौजूद रहेंगे।

सहकारी समितियों से हटाया कब्जा: मुकुट बिहारी

  • निष्पक्ष चुनाव से एक ही परिवार का दबदबा खत्म

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। प्रदेश के सहकारिता मंत्री मुकुट बिहारी वर्मा ने कहा है कि यूपी की सहकारी समितियों पर कुछ परिवारों का कब्जा हुआ करता था। प्रदेश में भाजपा की सरकार बनने के बाद सहकारिता का निर्वाचन आयोग की देखरेख में निष्पक्ष चुनाव कराकर समितियों से परिवार विशेष के वर्चस्व को समाप्त किया गया। अब फिर से प्रदेश की सहकारी समितियां सक्रिय होकर काम करने लगी हैं। मुकुट बिहारी वर्मा ने कहा कि सहकारिता विभाग के सभी बैंकों की सेवाओं को एक प्लेटफार्म दिया जाएगा। उ.प्र. सहकारी बैंक लि. और सभी जिला सहकारी बैंकों को सीबीए और आरटीजीएस प्रणाली से जोड़ा गया है। इसका लाभ जनता को मिलेगा। साथ ही भ्रष्टाचार पर लगाम लगेगी और काम में पारदर्शिता आयेगी।

Loading...
Pin It