न तार , न बिजली पर थमा दिया बिल

  • तरबगंज के गिरधरपुरवा गांव के मजरे खजुआ का है मामला
  • बिजली का बिल देख हैरान हैं ग्रामीण
  • बिजली विभाग का एक और कारनामा

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

गोंडा। प्रधानमंत्री हर घर सहज बिजली योजना (सौभाग्य योजना ) के तहत जिले के हर गांव में बिजली पहुंचाने का दावा करने वाले बिजली विभाग का एक नया कारनामा सामने आया है। तरबगंज क्षेत्र के गिरधरपुरवा गांव के मजरे खजुआ में बिजली पहुंचाने के लिए विभाग ने खंभे तो लगा दिए लेकिन उस पर तार लगाकर गांव तक रोशनी पहुंचाना भूल गया। बिना रोशनी पहुंचाए ही उपभोक्ताओं के घरों में मीटर लगाकर उन्हें बिजली का कनेक्शन भी दे दिया और उनका बिजली का बिल भी भेज दिया। अब ग्रामीण बिजली का बिजली का बिल देखकर हैरान हैं।
तरबगंज क्षेत्र के गिरधरपुरवा गांव के मजरे खजुआ में छह माह पहले सौभाग्य योजना के तहत विद्युतीकरण का कार्य शुरू किया गया था। गांव तक बिजली के पोल लगा दिए गए और ग्रामीणों के घरों में बिजली का मीटर लगाकर उन्हें कनेक्शन भी दे दिया गया लेकिन इसके बाद विभाग बिजली के पोल पर तार लगाकर गांव तक रोशनी पहुंचाना भूल गया। इस पूरे कार्य के दौरान जिम्मेदार अफसर आंख बंद कर बैठे रहे और मौके पर जाकर जांच करने की जरूरत नहीं समझी। कागजों में विद्युतीकरण का काम पूरा दिखाकर कार्यदायी संस्था अपना सामान समेटकर निकल गई।
छह माह बीतने के बाद अब विभाग ने गांव के उपभोक्ताओं को बिजली का बिल भेजा तो ग्रामीण हैरान रह गए। गांव के देवता प्रसाद का कहना है कि गांव मे बिजली के लिए खंभे तो लगाए गए थे लेकिन उस पर न तार खींचा गया और न ही गांव तक बिजली आई। फिर यह 480 रुपये का बिजली का बिल कहां से आ गया यह समझ में नहीं आ रहा है।
वहीं श्रीराम यादव ने बताया कि बिना बिजली का उपयोग किए बिल आना समझ से परे है। गांव के राम बहादुर यादव बिंद्रा, राम तीरथ लोहार, रामचंद्र, शिव प्रसाद , देवता प्रसाद, राम भवन, ननकू, महादेव, बुधराम, पप्पू, राम प्रसाद व ओम प्रकाश की भी यही समस्या है। सभी
का कहना है कि गांव तक बिना बिजली पहुंचाए बिना विभाग ने उन पर जानबूझकर कर्जा लाद दिया है। इसकी शिकायत
बिजली विभाग के आला अफसरों से की गई है।

 

Loading...
Pin It

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.