बाढ़ पीडि़तों के साथ खड़ी है सरकार: योगी

  • मुख्यमंत्री ने गाजीपुर, वाराणसी व प्रयागराज में किया हवाई सर्वेक्षण, वितरित की राहत सामग्री
  • पीडि़तों को 24 घंटे के भीतर राहत देने का दिया निर्देश, स्वास्थ्य विभाग को भी किया अलर्ट

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बाढ़ के चलते मची तबाही को देखने और राहत व बचाव कार्यों का निरीक्षण करने शुक्रवार को गाजीपुर, वाराणसी और प्रयागराज पहुंचे। उन्होंने तीनों जिलों में हेलीकॉप्टर से बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई निरीक्षण करने के साथ ही एनडीआरएफ की रबर बोट पर सवार होकर बाढ़ ग्रस्त इलाकों का जायजा लिया। बाढ़ पीडि़तों में राहत सामग्री का वितरण करने के साथ ही सीएम ने प्रशासन को निर्देश दिया है कि हर हाल में प्रभावित लोगों के बीच 24 घंटे के भीतर राहत सामग्री पहुंचाएं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि राहत शिविरों में मेन्यू के मुताबिक भोजन व नाश्ता तथा शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराया जाए। बाढ़ प्रभावित हर जिले को पर्याप्त धनराशि सरकार की ओर से दी गई है। पीडि़तों को किसी प्रकार की दिक्कत नहीं होने दी जाएगी। राहत शिविरों में खान-पान से लेकर अन्य जरूरी सुविधाओं में किसी प्रकार की कोई कमी न रहे। बाढ़ का पानी उतरने के साथ ही बीमारियां फैलेंगी, इसके लिए स्वास्थ्य विभाग पहले से ही अपनी कार्ययोजना तैयार कर लें। वाराणसी में एनडीआरएफ की बोट से सीएम योगी अस्सी से नगवां तक गए। बाढ़ में मकान के डूबने के चलते छतों पर शरण लिए कई पीडि़तों से सीएम ने बात की और भरोसा दिलाया कि सरकार उनके साथ पूरी मुस्तैदी के साथ खड़ी है।
गौरतलब है कि गंगा और यमुना नदियों में उफान के कारण पूर्वांचल के इन जिलों में बाढ़ का कहर जारी है। सैकड़ों गांवों में पानी भर गया है और लोगों को परेशानियां उठानी पड़ रही हैं।

Loading...
Pin It

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.