लोन के नाम पर लाखों की धोखाधड़ी, मुकदमा दर्ज

  • बैंक मैनेजर समेत तीन के खिलाफ एफआईआर

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। लोन दिलाने के नाम पर लाखों की धोखाधड़ी का एक मामला प्रकाश में आया है। पीडि़त ने इस मामले में पीएनबी बैंक के मैनेजर समेत तीन के खिलाफ पीजीआई थाने में मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस मामले की जांच-पड़ताल कर रही है।
बंथरा निवासी स्नेहलता मौर्या ने पीजीआई थाने में इस मामले में एफआईआर दर्ज करायी है। उन्होंने बताया कि बंथरा निवासी जितेंद्र कुमार उर्फ पिंटू ने उसे और उसके पति को खादी ग्रामोद्योग से व्यवसाय करने के लिए लोन दिलवाने की बात कही। साथ ही बताया कि पंजाब नेशनल बैंक शाखा साऊथ सिटी रायबरेली रोड के बैंक मैनेजर प्रवीन कुमार सक्सेना और बैंक कर्मी रमाशंकर गुप्ता की खादी ग्रामोद्योग में अच्छी जान-पहचान है और वह उसे लोन दिलवा देंगे। स्नेहलता ने बताया कि जितेंद्र ने बैंक मैनेजर व कर्मचारी से मिलवाया। इन लोगों ने कई पेपरों में साइन कराए। उसके पति ने प्लाट की रजिस्ट्री और एफडी भी बैंक में जमा कर दी। जितेंद्र ने बताया कि कुल 23 लाख 75 हजार का लोन पास हुआ है लेकिन उसके खाते में केवल आठ लाख 75 हजार ही आए। यह पूछने पर बाकी 15 लाख कब आएंगे जितेंद्र ने कहा वह पैसा वह और बैंक मैनेजर व कर्मचारी ने ले लिए हैं। स्नेहलता ने जितेंद्र कुमार उर्फ पिंटू, बैंक मैनेजर प्रवीण कुमार सक्सेना और रमाशंकर के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है।

अब छुट्टा जानवरों से मिलेगी मुक्ति, गांवों में खुलेंगे गौ आश्रय केंद्र

आयुक्त महेंद्र कुमार ने मांगी गांवों की सूची

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
गोंडा। सडक़ पर घूमने वाले छुट्टा जानवरों से किसानों व राहगीरों को मुक्तिदिलाने के लिए अब सडक़ किनारे स्थित गांवों में गौ आश्रय केंद्र खोले जायेंगे। गौ संरक्षण केन्द्रों की प्रगति की मण्डलीय समीक्षा बैठक में देवी पाटन मंडल के आयुक्त महेंद्र कुमार ने इन आश्रय केंद्रों की स्थापना के लिए सभी जिलों के मनरेगा उपायुक्त व पशु चिकित्साधिकारियों से इस तरह के गांवों को तीन दिन के भीतर चिन्हित कर रिपोर्ट मांगी है। समीक्षा बैठक मे आयुक्त ने कहा कि 15 दिनों में सडक़ किनारे स्थित गांवों में गौ आश्रय केंद्र स्थापित कर दिए जाएं जिससे छुट्टा जानवरों को उनमें रखा जा सके और इनसे सडक़ों पर होने वाली दुर्घटनाओं को रोका जा सके। बैठक में संयुक्त विकास आयुक्त देवीपाटन मण्डल अनिल कुमार पांडेय भी मौजूद रहे।

 

Loading...
Pin It

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.