आवास विकास: खाली पड़े 13 हजार फ्लैटों को बेचने की तैयारी

  • फिलहाल कीमतें फ्रीज, फ्लैटों के दाम घटाने पर भी लिया जा सकता है फैसला

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। आवास विकास परिषद अपनी विभिन्न योजनाओं में खाली पड़े फ्लैटों को बेचने की जुगत में है। इसके लिए परिषद कीमतें घटाने का प्रस्ताव बना रहा है। फिलहाल फ्लैटों के प्रति ग्राहकों का रूझान कम होने के कारण इनकी कीमत फ्रीज कर दी गई है।
आवास विकास परिषद के लगभग 13 हजार फ्लैट अभी भी खाली हैं। परिषद एकमुश्त रकम जमा करने वालों को पांच फीसदी तक की छूट देता है। इसके अलावा 10 साल तक की मासिक किस्तों के बजाय छमाही किस्तों में भी भुगतान का विकल्प दे रखा है। इसके बावजूद फ्लैट के खरीदार नहीं आ रहे। सूत्रों के मुताबिक आवास विकास ने 9734 करोड़ खर्च कर करीब 13 हजार फ्लैट बनाए हैं, लेकिन ये खाली पड़े हैं। ऐसे में बिक्री बढ़ाने के लिए अफसर फ्लैटों की कीमतें घटाने की तैयारी कर रहे हैं। इसके लिए प्रस्ताव बनाया जा रहा है। इसमें अगले वित्तीय वर्ष में कीमतें घटाने पर फैसला किया जाएगा।

जौनपुर: डेढ़ करोड़ के तारकोल गबन मामले में पीडब्ल्यूडी का जेई गिरफ्तार

  • एसपी सतेन्द्र कुमार ने गठित की थी टीम, डेढ़ साल से चल रहा था फरार
  • अन्य अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए जारी है दबिश

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। जौनपुर में डेढ़ करोड़ रुपये के तारकोल गबन के मामले में ईओडब्ल्यू वाराणसी को बड़ी कामयाबी मिली है। मंगलवार को एसपी सतेन्द्र कुमार के नेतृत्व में निरीक्षक कमलेश्वर सिंह और मुख्य आरक्षी संजय सिंह समेत ईओडब्लू की टीम ने गबन के आरोपी पीडब्ल्यूडी के जेई को धर दबोचा।
आर्थिक अपराध अनुसंधान संगठन के एसपी सतेन्द्र कुमार ने बताया कि पीडब्ल्यूडी जौनपुर में 2006 से 2009 के बीच लगभग एक करोड़ 57 लाख रूपये का तारकोल गबन करने वालों में जेई दिनेश पाण्डेय पुत्र कल्पनाथ पांडेय निवासी ग्राम ढेढ़वा थाना सैयदराजा जनपद चंदौली व अन्य की गिरफ्तारी के लिए टीम गठित की गई थी। दिनेश पांडेय डेढ़ वर्ष से फरार चल रहा था। वह गिरफ्तारी से बचने के लिए अलग-अलग स्थानों पर छिप रहा था। आखिरकार मंगलवार को उसे बसही थाना शिवपुर, वाराणसी से गिरफ्तार किया गया है। इसके अलावा अन्य अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है। उन्हें भी जल्द गिरफ्तार किया जाएगा। पुलिस महानिदेशक आर्थिक अपराध अनुसंधान संगठन (ईओडब्ल्यू), लखनऊ ने अभियुक्त की गिरफ्तारी पर ईओडब्ल्यू वाराणसी की टीम को पांच हजार रुपये से पुरस्कृत करने की घोषणा की है।

Loading...
Pin It

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.