आयुष्मान योजना में बजट का रोड़ा मरीजों को मिल रही तारीख पर तारीख

  • केजीएमयू को अभी नहीं मिले इलाज के दो करोड़ रुपये
  • लारी में तीस से अधिक मरीजों की नहीं हो पा रही सर्जरी

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। केजीएमयू में आयुष्मान योजना के मरीजों को पिछले दो महीने से इलाज की जगह तारीख पर तारीख दी जा रही है। आयुष्मान का बकाया बिल भुगतान न होने के कारण आयुष्मान के मरीजों की सर्जरी नहीं हो पा रही है। ऐसे में उन्हें सर्जरी के लिए आगे की तारीख दी जा रही है। लारी में तीस से अधिक मरीजों की सर्जरी अभी तक नहीं हुई है जबकि यहां के अन्य विभागों में भी मरीजों की सर्जरी नहीं की जा रही है।
आयुष्मान योजना के तहत बीपीएल कार्ड धारकों का पांच लाख तक का मुफ्त इलाज किया जाता है। केजीएमयू में अब तक योजना के तहत 1800 मरीजों को इलाज उपलब्ध करवाया जा चुका है। इसमें तीन करोड़ से अधिक का बजट खर्च किया जा चुका है। इसमें दो करोड़ रुपये का भुगतान बकाया है। इसके तहत सभी बीमारियों के मरीजों का इलाज किया जा चुका है लेकिन सबसे ज्यादा दिक्कत दिल के मरीजों को है क्योंकि उनकी संख्या सबसे ज्यादा है। दूसरी ओर गरीब मरीजों की एंजियोप्लास्टी, पेसमेकर और वॉल्व की बैलुनिंग के लिए अलग से उपकरण आते हैं जो काफी महंगे होते हैं। बजट न मिलने से ऑपरेशन में इस्तेमाल होने वाला सामान डॉक्टरों को नहीं मिल पा रहा है।

इन विभागों का हाल और भी खराब

आयुष्मान योजना के तहत कई विभागों में इलाज नहीं मिल पा रहा है। केजीएमयू के कैंसर, बाल रोग, हड्डी, जनरल सर्जरी विभाग के मरीजों को भी आयुष्मान योजना के तहत इलाज नहीं मिल पा रहा है। लिहाजा मरीज परेशान हैं और वे अस्पताल के चक्कर काट रहे हैं।

केस: 1
आजमगढ़ निवासी सोहनलाल को कुछ समय पहले अटैक पड़ा था। सोहन लाल आयुष्मान योजना के लाभार्थी हैं। डॉक्टरों ने उन्हें जल्द ही वाल्व लगवाने की सलाह दी थी। लारी में आयुष्मान योजना के तहत उनके इलाज का रजिस्ट्रेशन हो चुका है। पंजीकरण हुए लंबा वक्त बीत चुका है बावजूद उन्हें अभी तक इलाज नहीं मिल पाया है।
केस: 2
सीतापुर निवासी राबिया खातून भी योजना के तहत इलाज होने का इंतजार कर रही हैं। डॉक्टरों ने उन्हें वाल्व लगवाने को कहा है। वे आयुष्मान योजना के तहत लारी में अपना इलाज करवा रही हैं। उनका कहना है कि रजिस्ट्रेशन कराएं काफी समय हो गया लेकिन अभी तक इलाज नहीं हुआ।

दूसरे मदों से पैसा जुटाकर आयुष्मान योजना के तहत मरीजों को इलाज उपलब्ध करवाया जा रहा है। मरीजों को ऑपरेशन की डेट दी जा रही है।
प्रो.एसएन शंखवार, चिकित्सा अधीक्षक, केजीएमयू

5 लाख तक का मुफ्त इलाज आयुष्मान योजना के तहत बीपीएल कार्ड धारकों का किया जाता है। 

Loading...
Pin It

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.