गाजियाबाद में एसआई और बिजनौर में सिपाही ने गोली मारकर की आत्महत्या

  • 48 घंटे के अंदर गोली मारकर आत्महत्या करने की तीसरी बड़ी वारदात से सनसनी

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। हरियाणा के फरीदाबाद में डिप्टी कमिश्नर ऑफ पुलिस विक्रम सिंह ने 14 अगस्त की सुबह गोली मार कर आत्महत्या कर ली थी। इस घटना के 48 घंटे के भीतर यूपी के गाजियाबाद में दारोगा मधुप कुमार के भी बिल्कुल उसी तरीके से आत्महत्या करने का मामला सामने आया है। इसके अलावा बिजनौर में भी एक सिपाही ने खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली।
जानकारी के मुताबिक, गाजियाबाद के कविनगर थानाक्षेत्र के संजयनगर सेक्टर-23 में यूपी पुलिस के दरोगा मधुप कुमार सिंह ने आज सुबह अपनी सर्विस रिवाल्वर से मुंह में गोली मारकर आत्महत्या कर ली। मधुप कुमार पूर्व में संजय नगर चौकी में भी तैनात रह चुके थे। वह बागपत के बालैनी थाने में एसएसआई थे। सूचना के बाद एसएसपी समेत अन्य आला अधिकारी मौके पर पहुंचे। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर आत्महत्या के कारणों की पड़ताल में पुलिस जुट गई है। वहीं बिजनौर में कलेक्ट्रेट में ड्यूटी पर तैनात सिपाही अंकुर राणा ने भी अपनी सरकारी रायफल से खुद को गोली मारी ली। मौके पर ही उसकी मौत हो गई। वह बागपत जिले के निरपुडा का निवासी था। सिपाही ने गोली मुंह में मारी। जिसके कारण वह सिर से होकर निकल गई। बताया जा रहा है कि सिपाही पत्नी की बीमारी के कारण काफी दिनों से तनाव में था।
बता दें कि फरीदाबाद के डीसीपी विक्रम कपूर ने 14 अगस्त की सुबह करीब 6.00 बजे मॉर्निंग वॉक से लौटने के बाद खुद को गोली मार कर आत्महत्या कर ली। कुरुक्षेत्र के रहने वाले विक्रम कपूर 1983 में एएसआई के पद पर भर्ती हुए थे। साल 2017 में आईपीएस प्रमोट हुए थे। जिस सर्विस रिवॉल्वर से डीसीपी विक्रम कपूर ने अपनी जिंदगी खत्म की, वह सर्विस रिवॉल्वर उनकी सुरक्षा में तैनात कांस्टेबल मुकेश की थी।

सुप्रीम कोर्ट में रामलला की मूर्ति की कार्बन डेटिंग पर बहस जारी

  • कोर्ट के सवालों के जवाब में रामलला के वकील ने पेश किए तर्क

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

नई दिल्ली। रामजन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई जारी है। इस मसले पर अब तक निर्मोही अखाड़ा के वकील, रामलला विराजमान के वकील अपने तर्क रख चुके हैं। इसी कड़ी में आज रामलला विराजमान के वकील सीएस. वैद्यनाथन अपने तर्कों को आगे बढ़ा रहे हैं। सुप्रीम कोर्ट में इस वक्त कार्बन डेटिंग के मसले पर बहस चल रही है। रामलला विराजमान की तरफ से कहा गया कि मूर्ति को छोड़ दूसरे मैटेरियल की कार्बन डेटिंग की गई थी। इस पर जस्टिस बोबड़े ने कहा कि हमने दूसरे मैटेरियल की नहीं, बल्कि मूर्ति की कार्बन डेटिंग के बारे में पूछा था। मुस्लिम पक्ष की तरफ से कहा गया कि ईटों की कार्बन डेटिंग नहीं हो सकती है। कार्बन डेटिंग तभी हो सकती है जब उसमें कार्बन की मात्रा हो। रामलला के वकील की तरफ से भी कहा गया कि देवता की कार्बन डेटिंग नहीं हुई है।

आग का गोला बन गई यात्रियों से भरी बस, बाल-बाल बचे यात्री

  • अयोध्या से गोंडा जा रही टूरिस्ट बस में वजीरगंज के समीप हुआ हादसा

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
गोंडा। अयोध्या से यात्रियों को लेकर गोंडा जा रही एक टूरिस्ट बस की डिग्गी में अचानक से आग लग गई और देखते ही देखते बस आग का गोला बन गई। आग की लपटों को देखकर यात्रियों में दहशत फैल गई। वहीं गनीमत रही कि बस चालक ने सूझबूझ का परिचय देते हुए बस को सडक़ किनारे रोक लिया और सभी यात्रियों को बस से सुरक्षित उतार लिया गया। जिससे एक बड़ा हादसा टल गया। बस में कुल 60 यात्री सवार थे।
यात्रियों के मुताबिक आग इतनी भीषण थी कि बहुत से यात्री अपना सामान उतार नहीं पाए। इस हादसे के बाद अयोध्या-गोंडा हाईवे पर जाम लग गया। जिसे बाद में पुलिस ने खुलवाया।

मुलाकात
प्रदेश सरकार के विधि एवं न्याय मंत्री ब्रजेश पाठक ने आज अपने सरकारी आवास पर अपनी-अपनी समस्याएं लेकर पहुंचे लोगों से मुलाकात की। उनकी समस्याओं के निवारण के लिए अधिकारियों को उचित निर्देश दिये।

Loading...
Pin It

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.