370 हटने से बौखलाया पाक, राष्ट्रपति ने दी गीदड़ भभकी

  • कहा, युद्ध हुआ तो जेहाद से देंगे जवाब
  • संयुक्त राष्ट्र तक ले जाएंगे कश्मीर का मसला
  • भारत को उकसाने वाला बयान दे रहे पाक राष्ट्रपति अल्वी

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर पर भारत के फैसले से बौखलाए पाकिस्तान की गीदड़भभकी देने का सिलसिला खत्म नहीं हो रहा है। पाकिस्तान की ओर से लगातार भारत को उकसाने वाले बयान दिए जा रहे हैं। अब पाकिस्तान के राष्ट्रपति आरिफ अल्वी ने जेहाद की धमकी दी है। उन्होंने कहा कि हम जंग नहीं चाहते हैं लेकिन अगर भारत युद्ध करता है तो उनके पास जेहाद और मुकाबला करने के अलावा कोई रास्ता नहीं होगा। पाकिस्तान के स्वतंत्रता दिवस पर अपने संबोधन में राष्टï्रपति आरिफ अल्वी ने कहा कि आज पूरी दुनिया देख रही है कि पाकिस्तान कश्मीर के लोगों के साथ खड़ा है और उनका हरदम साथ देने को तैयार है। हम कश्मीरियों की मदद करना नहीं रोकेंगे। पाकिस्तान इस मसले को लेकर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद तक जाएगा। उन्होंने आरोप लगाया कि भारत ने जम्मू-कश्मीर पर इस तरह का फैसला लेकर संयुक्त राष्ट्र के नियमों का उल्लंघन किया है। इतना ही नहीं उन्होंने भारत पर शिमला समझौते को तोडऩे का आरोप लगाया। गौरतलब है कि ये वही पाकिस्तान है जिसने न शिमला समझौते को कभी माना और न ही अन्य समझौतों को तवज्जो दी। पाकिस्तान यह मानने को तैयार ही नहीं है कि भारत ने जो फैसला लिया है वह उसका आंतरिक मसला है। उसकी ओर से अभी तक कई देशों के सामने मदद की गुहार लगाई जा चुकी है लेकिन हर जगह उसके हाथ निराशा ही लगी है।

चीन से अमेरिका तक ने किया हस्तक्षेप से इनकार
पाकिस्तान का दोस्त चीन हो या फिर अमेरिका या संयुक्त राष्ट्र, हर किसी ने इसे भारत का अंदरूनी मामला बताया है और पाकिस्तान की मदद न करने को कहा है। अभी तक पाकिस्तान ने भारत के साथ अपने राजनयिक संबंधों को तोड़ दिया है, व्यापार बंद कर दिया है। पाकिस्तान की बौखलाहट इतनी है कि उसने समझौता एक्सप्रेस को रोक दिया और दिल्ली-लाहौर बस सेवा पर भी रोक लगा दी।

एबीपी रिपोर्टर से बदसलूकी भारी पड़ी प्रियंका को

  • सोशल मीडिया पर हो रही जमकर आलोचना
  • प्रियंका के सचिव ने सवाल पूछने पर रिपोर्टर को मारने की दी थी धमकी

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। प्रियंका गांधी वाड्रा के सचिव द्वारा एबीपी न्यूज चैनल के रिपोर्टर से बदसलूकी के मामले ने अब तूल पकड़ लिया है। सोशल मीडिया पर इस बात की आलोचना हो रही है कि यह बदसलूकी प्रियंका के सामने हुई और उन्होंने अपने इस नेता को रोकने की कोशिश नहीं की। इस पर भाजपा को बैठे-बिठाये राजनीति करने का मौका मिल गया। वहीं सीएम योगी के मीडिया सलाहकार ने इसकी निंदा करते हुए पत्रकारों को सुरक्षा का भरोसा दिलाया है।
यह घटना तब हुई जब प्रियंका गांधी वाड्रा मंगलवार को सोनभद्र कांड के पीडि़तों से मिलने पहुंची थीं। इसी बीच एबीपी रिपोर्टर नीतिश ने उनसे अनुच्छेद 370 हटाने को लेकर सवाल कर दिया। प्रियंका ने कहा कि वे अभी बात नहीं करेंगी। इस सवाल से प्रियंका के सचिव कहे जाने वाले संदीप सिंह आगबबूला हो गये और उन्होंने रिपोर्टर से बदसलूकी शुरू कर दी। उन्होंने रिपोर्टर को मारने की धमकी देते हुए भाजपा से पैसे लेकर सवाल पूछने का आरोप लगाया और कैमरे पर हाथ मारने लगे। रिपोर्टर ने कहा कि प्रियंका जी आपके सामने कांग्रेस के नेता बदसलूकी कर रहे हैं पर उन्होंने सवाल को अनसुना कर दिया। जैसे ही यह वीडियो वायरल हुई तो सोशल मीडिया में हंगामा मच गया। पत्रकारों और भाजपा ने इसकी तीखी आलोचना शुरू कर दी। वरिष्ठ पत्रकार ज्ञानेन्द्र शुक्ला ने कहा कि लोकतंत्र में पत्रकार को सवाल पूछने का हक है। आप भले ही उसका जबाव न दे मगर पत्रकार से बदसलूकी उचित नहीं है। कई पत्रकार संगठनों ने इसकी आलोचना करते हुए प्रियंका से माफी मांगने और धमकी देने वाले नेता को कांग्रेस से बाहर करने की मांग की है।

वीर चक्र से सम्मानित होंगे विंग कमांडर अभिनंदन

  • पाकिस्तान के एफ-16 को भारतीय मिग-21 से पीछा कर मार गिराया था

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
नई दिल्ली। भारतीय वायु सेना के विंग कमांडर अभिनंदन को स्वतंत्रता दिवस पर वीर चक्र से सम्मानित किया जाएगा। वीर चक्र भारत में युद्ध के समय दिया जाने वाला तीसरा सर्वोच्च सम्मान है। 27 फरवरी 2019 को बालाकोट एयरस्ट्राइक के बाद भारत और पाकिस्तान की वायुसेना के बीच संघर्ष हुआ। इस दौरान विंग कमांडर अभिनंदन ने पाकिस्तानी एफ-16 को भारतीय मिग-21 बाइसन से पीछा कर मार गिराया था। हालांकि इस दौरान अभिनंदन का विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया और वे पाकिस्तानी इलाके में जाकर फंस गए थे। इसके बाद पाकिस्तानी सुरक्षाबलों ने उन्हें अपने कब्जे में ले लिया था। भारत के कूटनीतिक दबाव के बाद आखिरकार पाकिस्तान को विंग कमांडर अभिनंदन को छोडऩा पड़ा था।

Loading...
Pin It

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.