बिना पूछे खाते से निकाला गया रुपया, भरपाई करे कार्वी

  • शेयर मार्केट में नुकसान पर उपभोक्ता फोरम पहुंचा था पीडि़त

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। यदि दो लोगों का खाता है और एक व्यक्ति ने दूसरे से बिना पूछे उस खाते से लेन-देन किया है तो गलत है। ऐसे में उसे व्यापार में हुए नुकसान को भरना होगा। यह फैसला उपभोक्ता फोरम के न्यायिक अधिकारी राजर्षि शुक्ला ने सुनाया। इस फैसले से कार्वी के अधिकारियों की नींद उड़ी हुई है।
गोमतीनगर निवासी शिवचंद रूनेजा के मुताबिक वह शेयर का कारोबार करते हैं। उसने कार्वी स्टाक ब्रोकिंग के साथ मिलकर वर्ष 2006 में डी-मैट एकाउंट खोला था, लेकिन इस खाते में उसने कार्वी को अधिकृत नहीं किया था कि वह उसके खाते से उसकी बिना सहमति से कोई कार्य करें लेकिन कार्वी के अधिकारियों ने कई बार बिना सहमति के उस खाते से पैसा निकाला। जिससे शिवचंद को काफी नुकसान हुआ। इस मामले में उसने उपभोक्ता फोरम का सहारा लिया। जहां न्यायिक अधिकारी ने मामले को देखते हुए आदेश दिया कि कार्वी के अधिकारियों ने गलत किया है और उनकी सेवा में कमी पाई गई है। ऐसे में विपक्षी को पचास हजार रुपये 45 दिनों के अंदर देना होगा। यदि ऐसा नहीं होता है तो इस धनराशि पर छह प्रतिशत ब्याज के साथ रुपये लौटाने पड़ेंगे।

Loading...
Pin It

Comments are closed.