नौकरी के नाम पर बुलाया अबूधाबी और फरार हो गए जालसाज

  • पीडि़त की तहरीर पर पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। महानगर में विदेश में नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने वाले चार आरोपियों के खिलाफ पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है। पीडि़त का कहना है कि आरोपियों ने उसे फर्जी वर्क एग्रीमेंट पकड़ाकर अबूधाबी बुला लिया और चकमा देकर फरार हो गए।
पुलिस के मुताबिक कानपुर निवासी मुइनुद्दीन कुछ महीनों पहले बस से लखनऊ आ रहे थे। इस दौरान गोमतीनगर निवासी अहबर से उनकी मुलकात हुई। अहबर ने बताया कि वह ट्रैवल्स का काम कर लोगों को विदेश भेजता है। उसका एमएचके ट्रैवलिंग सर्विस के नाम से निशातगंज में ऑफिस है, जिसके डायरेक्टर तशरीफ हसन खान है। वह अरब अमीरात और दुबई का वीजा आसानी से मुहैया करवाते है। इसके बाद मो. रहबर उर्फ सुल्तान ने उससे दोस्ती कर ली और कानपुर में उसके घर पहुंच गया। वहां जालसाजों ने पीडि़त की मां को फुसलाया और आश्वासन दिया कि आपके बेटे को पैकिंग हेल्पर पद पर दुबई शारजाह में 32 हजार प्रति माह वेतन सहित रहना खाना फ्री की नौकरी लगवा देगा। इसके बाद पीडि़त ने रहबर के अकाउंट में 25,000 डलवा दिये। रहबर ने उसे वीजा देने के लिए लखनऊ बुलाया। यहां उसे एक फर्जी वर्क एग्रीमेंट भी दिया। 7 दिसंबर 2018 को पीडि़त लखनऊ से शारजाह गया वहां पर तशरीफ का भाई शरीफ व इमरान मिले। वह पीडि़त को अबूधाबी टिशू पैकिंग फैक्ट्री ले गए और वहां छोडक़र गायब हो गए। इंस्पेक्टर महानगर अशोक सिंह का कहना है कि मुकदमा दर्ज कर आरोपियों की तलाश की जा रही है।

Loading...
Pin It

Comments are closed.