शहर को स्मार्ट बनाने की तैयारी तेज, हाईटेक होगा ट्रैफिक सिस्टम

  • इसी माह शुरू किया जाएगा कमांड कंट्रोल सेंटर
  • टोल फ्री नंबर, वेबसाइट और पोर्टल होगा लॉन्च
  • दस करोड़ के उपकरण से लैस होगा कंट्रोल सेंटर

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। शहर को स्मार्ट बनाने की तैयारी तेज हो गई है। 15 अगस्त तक नगर निगम स्मार्ट सिटी कमांड कंट्रोल सेंटर का शुभारंभ करेगा। इस सेंटर के शुरू होते ही शहर की यातायात व्यवस्था हाईटेक हो जाएगी। इसके अलावा जल्द ही टोल फ्री नंबर, वेबसाइट और पोर्टल भी लॉन्च किया जाएगा।
नगर निगम अफसरों ने बताया कि कंट्रोल कमांड सेंटर बनकर तैयार हो गया है। उद्घाटन की तिथि मुकर्रर होनी है। यहां कुछ कर्मियों को लगाकर इसका ट्रॉयल किया जा रहा है। इसका उद्देश्य राजधानी की जनता को एक छत के नीचे सारी सुविधाएं देना है। एक छत के नीचे जनता से जुड़ी करीब सभी सरकारी महकमों की शिकायतों को चरणबद्ध तरीके से निस्तारित करने का प्रयास किया जाएगा। कंट्रोल कमांड सेंटर में नगर निगम, जलकल, एलडीए, पर्यटन, परिवहन, बिजली सहित अन्य विभागों की शिकायतें दर्ज करायी जा सकेंगी। यह सेंटर चौबीस घंटे और सातों दिन काम करेगा। फिलहाल, सेंटर को फाइनल टच दिया जा रहा है। इसी के साथ स्टाफ की नियुक्ति भी होगी। नब्बे करोड़ के इस प्रोजेक्ट में सिर्फ दस करोड़ का कंट्रोल कमांड सेंटर के हार्डवेयर की लागत है। वहीं दस करोड़ से ही जीआइएस बेस भी लगाया गया है। अधिकारियों के मुताबिक हाईटेक इंटिग्रेटेड ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम पर काफी खर्चा आया है। अफसरों का कहना है कि टैक्स जमा करने की सुविधा भी इसके जरिए मिलेगी। कमांड सेंटर शुरु करने के लिए दस करोड़ के उपकरण भी आ गए हैं । राजधानी के लालबाग में दयानिधान पार्क के पास बने कमांड कंट्रोल सेंटर में शहर के ट्रैफिक सिस्टम को हाईटेक करने के लिए इलेक्ट्रॉनिक उपकरण व मशीनें लग रही हैं।

यातायात नियमों का उल्लंघन पड़ेगा भारी
सिस्टम से यातायात पर नजर रखी जाएगी। दो पहिया वाहन पर ट्रिपलिंग या हेलमेट न लगाने वालों और गलत दिशा में वाहन चलाने वालों पर तुरंत कार्रवाई की जाएगी। इसके साथ ही जाम से निजात के लिए ट्रैफिक सर्विलांस, ट्रैफिक सिक्योरिटी, ई-चालान आदि में मदद मिलेगी।

शिकायतों के निस्तारण का तय होगा दिन
यहां शिकायत दर्ज कराने वालों की शिकायतें ऑनलाइन संबंधित विभागों को भेजी जाएंगी और उसका अपडेट शिकायतकर्ता के मोबाइल पर मिलेगा। हर स्तर की शिकायत के निस्तारण के लिए दिन निर्धारित किए जाएंगे।

Loading...
Pin It

Comments are closed.