डीजी चिकित्सा स्वास्थ्य को अवमानना नोटिस

  • नूतन ठाकुर की दलील सुनने के बाद ट्रिब्यूनल ने की कार्रवाई

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। राज्य लोक सेवा अधिकरण, उत्तर प्रदेश ने महानिदेशक चिकित्सा एवं स्वास्थ्य डॉ.पद्माकर सिंह को अवकाश प्राप्त पीएमएस डॉक्टर डॉ. एस के सक्सेना के मामले में अवमानना नोटिस जारी किया है।
न्यायिक सदस्य जे एम शर्मा तथा प्रशासनिक सदस्य एस के रघुवंशी की बेंच ने यह नोटिस याची की अधिवक्ता डॉ. नूतन ठाकुर को सुनने के बाद दिया जिन्होंने ट्रिब्यूनल को बताया कि जहां ट्रिब्यूनल ने तीन माह में पेंशन संबंधी प्रकरण पर निर्णय लेने को कहा था, वहीं डॉ. पद्माकर सिंह ने इस संबंध में कुछ भी नहीं किया। मामले की अगली सुनवाई 29 अगस्त 2019 को होगी।

गवाहों की सुरक्षा के लिए हर जिले में बनेगी कमेटी

  • डीजीपी ने सभी जिलों के कप्तान को दिए निर्देश

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। डीजीपी ओपी सिंह ने गवाहों की सुरक्षा के लिए सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों पर तैयार विटनेस प्रोटेक्शन स्कीम 2018 का सख्ती से पालन करवाने के निर्देश दिए हैं। यह फैसला उन्नाव रेप पीडि़ता और उसके परिवार के साथ रायबरेली में हुई घटना के बाद लिया गया है। क्योंकि उन्नाव प्रकरण में सरकार की काफी किरकिरी हुई और सुप्रीम कोर्ट की फटकार के बाद यूपी पुलिस को गवाहों की सुरक्षा की याद आई है।
आईजी कानून एवं व्यवस्था प्रवीण कुमार ने बताया कि डीजीपी ने निर्देश दिए हैं कि सभी जिलों में गंभीर मुकदमों के गवाहों की सुरक्षा के लिए कमेटी बनाई जाए। जिला और सेशन जज की अध्यक्षता में कमेटी बनेगी, जिसमें जिले के एसपी और अभियोजन अधिकारी भी शामिल होंगे।

Loading...
Pin It

Comments are closed.