आजम खां को फर्जी मामले में फंसाने की हो रही साजिश: अखिलेश

  • कहा, जौहर विश्वविद्यालय से किताबें चोरी होना बचकानी हरकत

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि सांसद आजम खां को फर्जी मामले में फंसा कर बदनाम करने की साजिश हो रही है। यह सब बदले की भावना से हो रहा है। मोहम्मद अली जौहर विश्वविद्यालय से किताब चोरी के आरोप रागद्वेष से प्रेरित बचकानी हरकत है।
अखिलेश यादव ने जारी बयान में कहा कि प्रदेश सरकार जो आरोप लगा रही है उसकी जांच और जौहर विश्वविद्यालय के हालात का जायजा लेने के लिए सम्भल, पीलीभीत, मुरादाबाद, बरेली, बिजनौर और बदायूं के जनप्रतिनिधि रामपुर जा रहे थे। इन्हें अवैधानिक ढंग से रोका गया है। यह नागरिक अधिकारों पर कुठाराघात है। उन्होंने उन्नाव की बलात्कार पीडि़ता के संबंध में सर्वोच्च न्यायालय के निर्णयों का स्वागत करते हुए कहा कि उन्नाव से भाजपा के आरोपित विधायक को प्रदेश के बाहर जेल में स्थानांतरित करना चाहिए ताकि स्वतंत्र एवं निष्पक्ष जांच हो सके। उन्नाव की पीडि़ता के साथ न्याय होना चाहिए। यह भी कहा कि अब बच्चियां स्कूल जाने से डरती हैं। उत्तर प्रदेश की बदनामी दुनिया भर में हो गई है। भाजपा राज में कानून की धज्जियां उड़ा दी गईं। लोकतंत्र में अब इससे बुरे दिन कभी नहीं आ सकते।

मुद्रा ऋण का लाभ देने में आनाकानी कर रहा बैंक

  • वित्त मंत्री से की शिकायत, बैंक को मिले निर्देश

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। भारतीय स्टेट बैंक की बरेली शाखा में खाता खोलने और मुद्दा ऋण योजना के तहत ऋण देने में आनाकानी के खिलाफ वित्तमंत्री से शिकायत की गई है। यह शिकायत बरेली के कलारी गांव निवासी पोथीराम ने की है। जिसे गंभीरता से लेकर वित्त मंत्री कार्यालय ने स्टेट बैंक की उक्त शाखा के प्रबंधक को नियमानुसार बैंक खाता खोलने और मुद्रा ऋण योजना का लाभ दिलाने के निर्देश दिए हैं।
पोथीराम ने 11 अप्रैल को सीपी ग्राम पोर्टल पर अपनी शिकायत दर्ज कराई थी। जिसमें उन्होंने स्टेट बैंक की ग्रीन पार्क शाखा बरेली के शाखा प्रबंधक पर मनमानी करने का आरोप लगाया था। क्योंकि प्रबंधक ने कहा था कि उनके गांव के किसी भी व्यक्ति का खाता स्टेट बैंक की ग्रीन पार्क शाखा में नहीं है। इसलिए उनका खाता नहीं खुलेगा। वहीं मद्रा ऋण देने में हीलाहवाली के संबंध में 15 मई को सीपी ग्राम पोर्टल पर शिकायत की गई थी। जिसको गंभीरता से लेकर एसबीआई को निर्देश दिए गए हैं। जिसका पालन करते हुए स्टेट बैंक ने शाखा में प्रस्तुत होने और मुद्रा ऋण संबंधी प्रपत्रों को पूरा करने के लिए आवश्यक कार्यवाही करने के संबंध में शिकायत कर्ता पोथीराम को बुलाया है।

Loading...
Pin It

Comments are closed.