पहली बार सीएम आवास में गूंजी गुरबानी, सिख समुदाय ने कहा ये दिल को छू लेने वाला पल

लखनऊ। 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क) सीएम योगी का निवास आज केसरिया पगड़ीधारी लोगों से भरा नजर आ रहा था। आज गुरुनानक देव जी के जन्म उत्सव पर सीएम योगी ने अपने आवास पर गुरबानी का पाठ रखा था। सिख समुदाय के सैकड़ों लोग आज सुबह ही सीएम योगी के आवास पर पहुंच गए थे। सीएम योगी और डिप्टी सीएम केशव मौर्य समेत मंत्रिमंडल के कई मंत्रियों ने इस कार्यक्रम में हिस्सा लिया। सिख समुदाय ने इस पर बेहद खुशी जाहिर की कि पहली बार सीएम आवास में इस तरह का आयोजन किया जा रहा है। इस अवसर पर सीएम योगी ने कहा कि यह मेरा सौभाग्य है कि मैं गुरुग्रन्थ साहिब के कीर्तन कार्यक्रम में अपने आवास में शामिल हो रहा हूं। मैं अपने मंत्रियों के साथ सभी पूज्य संतों का स्वागत करता हूं। गुरू परम्पराओं से जुड़े पर्व और त्यौहार केवल सिखों तक सीमित नहीं होने चाहिए, इसे पूरे देश को मनाना चाहिए।

सिपाही ने डीजीपी को लिखा मार्मिक खत और दे दी अपनी जान

  • यूपी पुलिस के ड्यूटी सिस्टम से परेशान सिपाही पंकज ने कर ली आत्म हत्या और डीजीपी को लिखे खत में कहा कि उसकी जान व्यर्थ न जाए, सुधारें ड्यूटी सिस्टम

 

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
अमरोहा जनपद के धनौरा थाने में तैनात सिपाही पंकज कुमार ने आत्महत्या कर ली। उसने डीजीपी को जो खत लिखा है उसने पूरे पुलिस सिस्टम पर सवाल खड़ा कर दिया है। पुलिसकर्मी यूपी में जिस मानसिक दबाव में काम कर रहे हैं। यह उसकी एक बानगी भर है। पुलिसकर्मियों की जिंदगी नर्क जैसी होती जा रही है उन्हें न छुट्टी मिलती है और न रहने को पर्याप्त आवास।
पंकज ने कमरे में फंदे से लटकने को लेकर किसी को भी दोषी नहीं ठहराया है अलबत्ता उसने यह जरूर कहा कि उसकी जान व्यर्थ न जाए। पंकज के पिता ने कहा कि उनका बेटा आत्महत्या नहीं कर सकता। पुलिस की प्रताडऩा से ही उसने यह कदम उठाया है। परिजनों ने धनौरा थाने के इंस्पेक्टर मुकेश कुमार पर सोसाइड नोट छिपाने का आरोप भी लगाया।
उल्लेखनीय है कि एक साल पहले ही तत्कालीन डीजीपी सुलखान सिंह ने पुलिसकर्मियों को एक दिन अवकाश देने के निर्देश दिए थे, मगर इसका अनुपालन नहीं हो पा रहा है।

लखनऊ पुलिस के भ्रष्टाचार से त्रस्त भाजपा सांसद ने ट्विटर पर खोला मोर्चा

लखनऊ। 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क) पुलिस की कार्यशैली से अब तक तो आम जनता ही दुखी होती थी मगर अब जब पानी सिर से ऊपर निकल गया तो भाजपा सांसद कौशल किशोर भी पुलिस पर बरस पड़े। उन्होंने ट्विटर पर लिखा कि कुछ थाना प्रभारी सिर्फ भ्रष्टïाचारियों, गुंडों और बदमाशों को संरक्षण दे रहे हैं। सांसद के इस ट्विट से हडक़ंप मच गया है और कोई भी बड़ा अधिकारी इस पर बोलने को तैयार नहीं है। सांसद ने अपने ट्वीट में लिखा है कि मलिहाबाद थाना क्षेत्र के गांव केसरी खेड़ा के रहने वाले रूबील को पिछले 24 घंटे से इंस्पेक्टर ने बिना किसी कारण थाने में बिठा रखा है। मलिहाबाद इंस्पेक्टर का यह तानाशाहीपूर्ण रवैया सरकार की छवि को नुकसान पहुंचा रहा है। उन्होंने कहा कि ऐसे पुलिसकर्मियों को तत्काल हटा देना चाहिए। सांसद के इस तेवरों से डीजीपी मुख्यालय में भी हडक़ंप मचा हुआ है।

 

Loading...
Pin It

Comments are closed.